चुनाव

तबस्सुम हसन के नाम लर दँगा भड़काने की कोशिश करने वालों के खिलाफ पुलिस में हुई शिकायत-देखिए फिर क्या हुआ

कैराना:उत्तर प्रदेश के कैराना में लोकसभा चुनाव के बाद माहौल खराब करने और नवनर्वाचित साँसद तबस्सुम हसन को बदनाम करने के लिये एक नफरतभरा सन्देश फैलाया जारहा है कि तबस्सुम ने कहा है कि “ये अल्लाह की जीत और राम की हार है”तबस्सुम हसन के फोटो के साथ वायरल होरहे इस इमेज से लोगों की भावनाएं भड़कना लाज़िम थी,जबकि इसकी कोई सच्चाई नही थी,इस वायरल पोस्ट को रुकवाने के लिये साँसद तबस्सुम हसन ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है।

जिसके बाद उत्तर प्रदेश की शामली पुलिस ने सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए फर्जी फ़ोटो को लेकर कैराना की नवनिर्वाचित सांसद तबस्सुम हसन की शिकायत पर जांच के आदेश दिए हैं. शामली के पुलिस अधीक्षक देव रंजन वर्मा ने बताया कि हसन ने शिकायत दर्ज कराकर सांप्रदायिक तनाव उत्पन्न करने वालों और सौहार्द बिगाड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

उन्होंने बताया कि साइबर प्रकोष्ठ मामले की जांच करेगा और फर्जी संदेश पोस्ट करने वाले के खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा. हसन (48) ने मंगलवार को कैराना संसदीय सीट पर जीत दर्ज की थी. उन्होंने भाजपा की मृगांका सिंह को 44,618 मतों के अंतर से हराया था. इस तरह वह 16वीं लोकसभा के लिए उत्तर प्रदेश से पहला मुस्लिम चेहरा बन गईं।

तबस्सुम हसन की जीत के बाद माहौल बिगाड़ने की साज़िश के तहत होसकता है कि इस पोस्ट को वायरल किया गया हो,लेकिन जनता की सूझबूझ के कारण इसपर किसी ने ध्यान नही दिया गया और नफरत फैलाने वालों को उनके मंसूबों में नाकामी मिली जिससे वे और ज़्यादा बौखला गए होंगे।