उत्तर प्रदेश राज्य

Video: उत्तर प्रदेश- गोकशी के आरोप में मुस्लिम युवक की पीट-पीट कर हत्या-इलाके में तनाव

नई दिल्ली:गाँय के नाम पर इंसानों को क़त्ल किये जाने का सिलसिला थमने का नाम नही लेरहा है,दादरी के बिसाहड़ा गांव से शुरू हुए इस अपराध में अब तक दर्जनों की ज़िंदगी खत्म होचुकी है,भारत के कई राज्यों में इसके कारण काफी जानी माली नुक़सान हुआ है।

याब उत्तर प्रदेश के पिलखुवा में सोमवार को हुई घटना ने दादरी के गांव बिसाहड़ा कांड की याद ताजा कर दी। सोमवार दोपहर पिलखुवा कोतवाली के गांव बझैढ़ा खुर्द में दर्जनों ग्रामीणों ने गोकशी का आरोप लगाते हुए लाठी-डंडों से एक व्यक्ति को पीट-पीटकर मार डाला और एक अन्य को घायल कर दिया। सूचना पर पुलिस-प्रशासन में हड़कंप मच गया।

इस मामले को लेकर दोनों पक्षों के गांवों में तनाव व्याप्त हो गया, जिसके मद्देनजर गांवों में पुलिस-पीएसी तैनात कर दी गई। हालांकि, पुलिस इसे बाइक की टक्कर लगने के बाद हुई मारपीट की घटना मान रही है। मृतक के परिजनों ने पुलिस को तहरीर भी दे दी है। पुलिस ने पांच लोगों को हिरासत में लिया है।

ग्रामीणों के अनुसार सोमवार दोपहर को उन्होंने कुछ लोगों को गांव मदापुर की तरफ गोवंश ले जाते देखा था। एक खेत पर काम कर रहे एक किसान ने गोकशी की सूचना गांव में दे दी। इसके बाद दर्जनों ग्रामीण एकत्र होकर खेतों की तरफ दौड़ पड़े। गांव मदापुर पहुंचकर वहां मौजूद कासिम (45) निवासी सद्दीकपुरा व एक खेत में मौजूद वृद्ध समेदीन (72) को पकड़ लिया और उनकी लाठी-डंडों से पिटाई कर दी।

सूचना मिलते ही सीओ पवन कुमार व कोतवाल अश्वनी कुमार मौके पर पहुंच गए और मारपीट में घायल दोनों लोगों को तत्काल पबला रोड के एक निजी अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने कासिम को मृत घोषित कर दिया। इसके बाद मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी हापुड़ संकल्प शर्मा, एएसपी राममोहन सिंह, एसडीएम हनुमान प्रसाद कोतवाली पहुंच गए।

इस मामले को लेकर गांव बझैढ़ा खुर्द और मदापुर में तनाव व्याप्त हो गया, जिसमें दोनों गांवों के सैकड़ों ग्रामीण आमने-सामने आ गए। परंतु पुलिस के प्रयास के बाद लौट गए। हालांकि, तनाव के मद्देनजर गांवों में पीएसी तथा पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। ग्रामीणों का आरोप है कि कासिम अपने साथी के साथ जंगल में घूमने वाले तीन गोवंशों को लेकर जा रहा था। ग्रामीणों ने इसका विरोध किया तो उन्होंने मारपीट शुरू कर दी।

मृतक के परिजनों का आरोप है कि जंगल में जा रहे रास्ते में बाइक की टक्कर होने के बाद कुछ ग्रामीणों ने मारपीट करते हुए कासिम की हत्या कर दी। वहीं, घायल सेमदीन के परिजनों का आरोप है कि सेमदीन खेत पर चारा काट रहा था, जिसके साथ जबरदस्ती मारपीट की गई है।

एसपी संकल्प शर्मा ने दावा किया है कि मारपीट में एक व्यक्ति की मौत हो गई है, जबकि दूसरा घायल है। पीड़ित परिवार ने बाइक की टक्कर के बाद मारपीट की तहरीर दी है, जिसपर रिपोर्ट दर्ज कर आरपियों की तलाश की जा रही है। गोकशी का कोई मामला नहीं है। आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।