देश

सिध्दू को पाकिस्तान में ये काम करना पड़ा महँगा-लौटते ही दर्ज हुआ देशद्रोह का मुक़दमा-जानिए पूरा मामला

नई दिल्ली: हरफनमौला कॉमेंटेटर से लेकर क्रिकेटर और राजनेता मंत्री नवजोत सिंह सिध्दू पाकिस्तान में अपने दोस्त नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ समारोह में शामिल होने के लिये पाकिस्तान गए थे,जिसको लेकर एक विशेष वर्ग ने हलकान मचा रखा है,और सिद्धू को घेरने की कोशिश कर रही है।

सिद्धू का पाकिस्‍तान सेना प्रमुख से गले मिलने का मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। इसके चलते सिद्धू के खिलाफ मुजफ्फरपुर में देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया है। 24 अगस्त को कोर्ट द्वारा इस मामले में सुनवाई की जाएगी। यह देशद्रोह का मुकदमा सीजेएम(मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी) की अदालत में दर्ज किया गया है। याचिकाकर्ता अधिवक्‍ता सुधीर ओझा का कहना है कि सिद्धू ने पाकिस्‍तान सेना प्रमुख के गले लगकर सेना का अपमान किया है।


देखिए सिद्धू ने क्या दी थी सफाई ?
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के पद पर इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में पड़ोसी देश के सैन्य प्रमुख को गले लगाने के लिए आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि सिद्धू ने इसका बचाव करते हुए कहा था कि अगर कोई कहे कि हमारी संस्कृति एक है और ऐतिहासिक गुरूद्वारा करतारपुर साहिब का रास्ता खोलने की बात करे तो उन्हें क्या करना चाहिए था?

यही नहीं इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में पहली पंक्ति में पीओके प्रमुख के बगल में बैठने के मुद्दे पर कांग्रेस नेता ने जवाब दिया था, ‘‘अगर आपको कहीं सम्मान स्वरूप अतिथि के तौर पर आमंत्रित किया जाता है तो आप वहीं बैठते हो जहां आपको कहा जाता है। मैं कहीं ओर बैठ सकता था लेकिन उन्होंने मुझे वहां बैठने के लिए कहा।’’