दुनिया

एर्दोगान ने फ्राँस में यूरोप की सबसे बड़ी मस्जिद का किया उद्घाटन- जमकर हुआ विरोध -“एर्दोगान वापस जाओ” के लगे नारे देखिए

नई दिल्ली: तुर्की के राष्ट्रपति रजब तय्यब एर्दोगान अपने जर्मनी दौरे के आखरी दिन यूरोप की सबसे बड़ी मस्जिद का उद्घाटन किया और मुस्लिम जगत की शाँति के लिये दुआ करी।

एर्दोगान के फ्राँस दौरे का जमकर विरोध भी हुआ है लोगों ने सड़कों पर उतरकर विरोध प्रदर्शन और एर्दोगान नोट वेलकम के नारे भी लगाये गए,एर्दोगान वापस जाओ के नारों के बीच एर्दोगान ने मस्जिद का उद्घाटन किया है।

बर्लिन में एर्दोगान ने चांसलर एंजेला मार्केल से दोनों देशों के बीच कई सारे मुद्दों पर चरचा करी और एक दूसरे का सहयोग करने का भरोसा जताया,तथा कि सारे मुद्दो पर आपसी समझौता भी तय पाया गया।

फ्राँस के पश्चिमी शहर कोलोन में एर्दोगान ने यूरोप की सबसे आलीशान और खूबसूरत मस्जिद का उद्घाटन किया जो कि एक बड़ा इस्लामिक सेंटर है,एर्दोगान की एक झलक देखने के लिये हज़ारों की संख्या में सेंट्रल मस्जिद के बाहर समर्थक खड़े रहे लेकिन उनको सुरक्षा की दृष्टि से अंदर जाने से रोका गया।

हज़ारों की संख्या में समर्थक हाथों में तुर्की का लाल और सफेद झंडा लिये हुए थे और एर्दोगान की बड़ी बड़ी तस्वीरे पकड़े हुए एर्दोगान के नारे लगा रहे थे,

कोलोन के मेयर हेनरीट रेकर और राज्य के प्रमुख आर्मीन लेशेत ने मस्जिद उद्घाटन समारोह में भाग नही लिया।