उत्तर प्रदेश राज्य

उत्तर प्रदेश : रविवार को अलग-अलग ज़िलों में 33 लोगों की आकाशीय बिजली गिरने से मौत

यूपी में रविवार शाम को तेज आंधी-बारिश आने के दौरान अलग-अलग जिलों में 33 लोगों की आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो गई। कानपुर शहर के घाटमपुर क्षेत्र और फतेहपुर में सात-सात लोगों की जान चली गई। कानपुर देहात में एक किशोरी की मौत हो गई, जबकि धान की रोपाई कर रहीं चार युवतियां झुलस गईं।

कानपुर शहर के घाटमपुर तहसील क्षेत्र में रविवार दोपहर बाद बारिश संग बिजली गिरी, जिसकी चपेट में आकर चार महिलाओं और तीन पुरुषों समेत सात लोगों की मौत हो गई, जबकि छह लोग गंभीर रूप से झुलस गए। बिजली की चपेट में आए लोगों में खेतों में काम कर रहे थे।

उधर, कानपुर देहात के गजनेर में बिजली गिरने से 15 साल की किशोरी की मौत हो गई, जबकि धान की रोपाई कर रहीं चार महिलाएं झुलस गईं। एक महिला की हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उधर, बुंदेलखंड के हमीरपुर में दोपहर तीन बजे बारिश के साथ बिजली गिरने से खेतों में काम कर रहे तीन किसानों की जान चली गई, जबकि 16 मवेशी भी चपेट में आकर मर गए।

ANI UP

Verified account

@ANINewsUP

35 people have died due to natural calamities in various districts of the state between 18-21 July in 20 districts.

ANI UP

Verified account

@ANINewsUP

Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath has announced Rs 4 lakh each to the families of people who lost their lives in natural calamities in various districts of the state. (File pic)

 

जालौन जिले में बिजली गिरने से दो किसान, एक मजदूर और एक महिला की मौत हो गई। चित्रकूट जिले के राजापुर व पहाड़ी क्षेत्र में देर शाम बारिश के बाद अचानक बिजली गिरने से सुरवल गांव में आठ साल के बच्चे की मौत हो गई, जबकि एक बारह साल का लड़का और उसका पिता झुलस गया।

बांदा में बारिश संग बिजली गिरने से मरका थाना क्षेत्र में किसान की मौत हो गई। सेंट्रल यूपी के फतेहपुर में भी दोपहर बाद बारिश के साथ बिजली गिरने से बाबा और पौत्र समेत सात लोगों की जान चली गई, जबकि चार लोग झुलस गए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी के विभिन्न जिलों में आकाशीय बिजली गिरने से हुई 33 लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत लोगों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये की राहत राशि तत्काल उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।

राज्य सरकार के प्रवक्ता ने यहां बताया कि मुख्यमंत्री ने इन आपदाओं में दिवंगत लोगों की आत्मा की शांति की कामना करते हुए उनके परिजनों के प्रति संवेदना भी व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने इन घटनाओं में घायल लोगों की समुचित चिकित्सा व्यवस्था के भी निर्देश दिए हैं और आगाह किया है कि राहत कार्यों में किसी भी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नहीं होगी।

संकट की इस घड़ी में राज्य सरकार पीड़ितों के साथ है और उनकी हर संभव मदद के लिए तत्पर है। बताते चलें कि आकाशीय बिजली गिरने से झांसी में चार, हमीरपुर में तीन तथा फतेहपुर में दो व्यक्तियों की मृत्यु हो गई है।

सीएम योगी ने सांसद रामचन्द्र के निधन पर जताया शोक अमर उजाला ब्यूरो लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सांसद रामचन्द्र पासवान के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने अपने शोक संदेश में कहा कि पासवान एक लोकप्रिय जनप्रतिनिधि थे।

जनता से उनका गहरा जुड़ाव था। वे समाज के कमजोर वर्गों के हितों के लिए हमेशा संघर्षरत रहे। उनके निधन से जनता ने अपना एक सच्चा हितैषी खो दिया है। योगी ने ईश्वर से दिवंगत की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करते हुए स्वर्गीय पासवान के शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *