धर्म

क्रिस्टीना बाकर : हॉलीवुड की चकाचौंध से मक्का तक का सफ़र!

#मैंने_क्यूँ_इस्लाम_कबूल_किया
क्रिस्टीना जाने मने TV चैनल MTV में अपना अच्छा खासा करियर बना चुकी थी. उन्होंने आम इंसान के हर सपने को हकीकत में जी कर देखा , चाहे को बड़े बड़े रॉक शोज हो या हॉलीवुड के सितारों के साथ घूमना फिरना हो. उन्होंने एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री की वो तमाम चका चौंद देखि है. जिसका सपना लिए करोडो लोग घुमते है. और आज वो अपनी पहचान को स्टार एंकर या रॉक म्यूजिक से नहीं जोड़ना चाहती. उनका मानना है की ज़िन्दगी में इतना कुछ हासिल करने के बाद भी उन्हें हमेशा से अपने आप में कुछ कमी महसूस होती रही, जिसे पूरा किया इस्लाम ने. और इस्लाम के बारे में उन्हें किसी उलेमा या लम्बी दाढ़ी वाले मौलाना ने नहीं बताया.

उन्हें इस्लाम की राह दिखाने वाले है पाकिस्तानी क्रिकेटर और पॉलिटिशन इमरान खान . जी हाँ इमरान खान ने ही क्रिस्टीना के मन में इस्लाम को लेकर और इस्लामी तौर तरीको को लेकर जिज्ञासा पैदा की जिसके चलते वो पाकिस्तान आई और वही से क्रिस्टीना को ज़िन्दगी का मकसद मिला. इसके बाद ३ साल तक उन्होंने इस्लाम के बारे में पढाई की, काफी किताबे पढ़ी और अपनी अंदर की कमी जिसे वो सालो से महसूस कर रही थी, उसे पूरा होता देखा.

हलाकि क्रिस्टीना का जन्म जर्मनी में हुआ था पर उन्होंने अपनी जादातर ज़िन्दगी लंदन में ही बितायी. एक यूरोपियन महिला जो लंदन में पाली बड़ी हो और अपनी ज़िन्दगी का मकसद ढूंढ़ने के लिए जिन्होंने इस्लाम को अपनाया है. ये सब करना किसी के भी लिए आसान नहीं होता.अपने इन्ही अनुभव को लोगो के साथ बाटने के लिए उन्होंने साल २००६ में एक किताब लिखी जिसका नाम है ” फ्रॉम MTV टू मक्का ” . इस किताब को और भी कई भाषाओ में लिखा गया है जैसे अरबी ,तुर्की,डच ,और अंग्रेजी. क्रिस्टीना इस्लाम के इतना करीब आने का और अपनी ज़िन्दगी में ठहराव का सारा श्रेय पाकिस्तान के प्रधान मंत्री इमरान खान को देती है.
2018 साल मक्कह में उमरह के के लिए आने के दौरान दिए एक इंटरव्यू का वीडियो नीचे लिंक में मौजूद है देखिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *