देश

गुस्ताख़ी माफ़??मोदी जी कैसे प्रधानमंत्री हैं आप, नागालैंड के पहले स्वतंत्रता दिवस पर आपने बधाई नहीं दी!

Srivatsa
@srivatsayb

2002 Gujarat Riots ❌No Justice
1984 Anti-Sikh Riots ❌No Justice
2013 M’nagar Riots ❌No Justice
1992 Bombay Riots ❌No Justice
1983 Nellie Riots ❌No Justice
2014-19 Lynchings ❌No Justice

Strong Nations deliver Justice. When will we?

Sudipta Saha
@Yoursaha9536
Justice killed pehlu khan. Today justice got lynched.
#PehluKhan

SANJAY HEGDE
@sanjayuvacha
Namita when we as a state punish wrongdoers, we do not give justice to the dead. We do justice to ourselves and to our organization as a society governed by the rule of law. If videographed murder goes unpunished, we have only denied ourselves justice. #PehluKhan is dead & free

Nеhr_who
@Nehr_who
So #PehluKhan died on his own just like:

1. Gandhi died of Influenza
2. Judge Loya died of Heart attack
3. Lankesh died of Toothache
4. Dhabolkar died of Malaria and
5. Akhlaq died of Flu

What’s Next?

All the Accused gets garlanded and a ticket to contest Election?

Srivatsa
@srivatsayb
No one killed #PehluKhan?
No one saw him being killed?
No one in the viral video are criminals?

Incompetent judiciary is giving criminals ‘Benefit of Doubt’, while families of victims cry for justice.

Appeal to
@ashokgehlot51
&
@SachinPilot
to immediately move the High Court.

SUJIT B SINGH #VSGT
@bjp_ka1_virodhi
मोदी जी कैसे प्रधानमंत्री हैं आप
नागालैंड के पहले स्वतंत्रता दिवस पर आपने बधाई नहीं दी
आज उनका स्वतंत्रता दिवस है
1 ट्वीट तो कर दीजिए
अपने ही देश का हिस्सा है??

Bharat Prabhat Party
@sarchana1016
आडवाणी जी ने अभी तक Discovery पर Anaconda और Cobra जैसे सांप देखे होंगे..

पर कल आडवाणी जी ने “आस्तीन का सांप” भी देखा होगा।
???? ????

गुस्ताखी माफ़ !! ??

K . Chandrakumar
@kurup_ck
Irresponsible statement by saying that a delegation of opposition leaders coming to J & K can create unrest.

They are elected leaders of our democracy & they have every right to know what’s happening in Kashmir.
Quote Tweet

DIPR-J&K
@diprjk
Raj Bhawan J&K clarification on recent Tweet of Sh @RahulGandhi

Nеhr_who
@Nehr_who
So #PehluKhan died on his own just like:

1. Gandhi died of Influenza
2. Judge Loya died of Heart attack
3. Lankesh died of Toothache
4. Dhabolkar died of Malaria and
5. Akhlaq died of Flu

What’s Next?

All the Accused gets garlanded and a ticket to contest Election?

केस नम्बर 1. पहलू खान के हत्यारे बरी हो गए हैं । मुझे नहीं पता पुलिस ने असली अपराधियों को गिरफ्तार किया था या खानापूर्ति के लिए नग पूर्ति की गई थी । बस मुझे इतना अवश्य पता है कि पहलू खान की हत्या लिंचंरों ने लिंचिंग से की थी जिसके शोसल मीडिया में वीडियो वायरल हुए थे।

केस नम्बर 2. इन्सपैक्टर सुबोध सिंह की हत्या के भी वीडियो वायरल हुए थे और गौकशी किसने की थी और किस उद्देश्य के लिए की गई थी यह सब भी सोशल मीडिया पर वायरल हुए था आज उस केस में सभी गिरफ्तार लोगों को जमानत मिल गई है आने वाली किसी तारीख में वे भी बरी हो जायेंगे ।

केस नम्बर 3 उन्नाव है जिसमें अपराधी गैंग बहुत ही हाई प्रोफाइल है उसने रेप किया । पीड़िता ने रेप की शिकायत की तो सरेबाजार उसके बाप को मारा पीटा । पुलिस ने पीड़िता के बाप को अवैध हथियार के आरोप में मुकदमें में फंसा दिया । उसको गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया जहाँ पर उसकी पिटाई के कारण मौत हो गई । पीड़िता के बाप का मैडिकल करते समय डाक्टर और पुलिसकर्मियों द्वारा मजाक उड़ाने का वीडियो वायरल हुआ । लेकिन अव्यवस्था के चरम काल में डाक्टर पर झूठा फिटनेस का प्रमाणपत्र दिये जाने को लेकर अब तक कोई कारवाई नहीं की गई है ।
सुप्रीम कोर्ट ने भी लगभग लीपापोती ही की है । नहीं तो पुलिस विभाग के उच्च अधिकारियों पर तो गाज गिरानी ही चाहिए थी ।

– Jaipal Nehra

 

NDTVKhabar.com
=======
1 अप्रैल 2017 को राजस्थान के अलवर में एक पिक अप वैन रोक कर पहलू ख़ान को उतारा जाता है, कुछ लोग मिलकर उसे मारते हैं, उस घटना का वीडियो भी बनता है लेकिन दो साल बाद 14 अगस्त 2017 को जब अलवर ज़िला न्यायालय का फैसला आता है, हत्या के मामले में गिरफ्तार लोगों को बरी कर दिया जाता है. फैसला आते ही अदालत के बाहर भारत माता की जय के नारे लगते हैं मगर इस बात को लेकर पराजय का अहसास नहीं है कि किसी को सरेआम मार कर भी हत्यारे बच सकते हैं. अदालत ने यह नहीं कहा कि हत्या ही नहीं हुई या जो मारा गया वो पहलू ख़ान नहीं था, यही कहा कि जो उसके सामने आरोपी लाए गए हैं वो बरी किए जाते हैं. भारत माता की जय करने वालों ने आरोपी का ख़्याल रखा, रखना भी चाहिए लेकिन जो मारा गया वो उनके जय के उद्घोष से बाहर कर दिया गया. आरोपी बरी हुए हैं, पहलू ख़ान को इंसाफ़ नहीं मिला है. हमारी पब्लिक ओपिनियन में इंसाफ़ की ये जगह है. जिसकी हत्या होगी उस पर चुप रहा जाएगा, आरोपी बरी होंगे तो भारत माता की जय कहा जाएगा. सब कुछ कितना बदल गया है. भारत माता की जय. भारत माता ने जयकारा सुनकर ज़रूर उस पुलिस की तरफ देखा होगा जो दो साल की तफ्तीश के बाद इंसाफ नहीं दिला सकी. पुलिस ने किस तरफ देखा होगा, ये बताने की ज़रूरत नहीं है. अमरीका के मंटगुमरी शहर में म्यूज़ियम एंड मेमोरियल बना है. इसका नाम है दि नेशनल मेमोरियल फॉर पीस एंड जस्टिस. यह म्यूज़ियम पिछले साल अप्रैल में खुला है जिसे लिंचिंग म्यूज़ियम भी कहा जाता है. ब्रायन स्टीवेंसन नाम के पब्लिक इंटरेस्ट लायर ने इसकी कल्पना की थी. इस म्यूज़ियम को देखने के लिए अब देश विदेश से लोग वहां जाते हैं.

 

डिस्क्लेमर : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. लेख सोशल मीडिया फेसबुक पर वायरल है, इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति तीसरी जंग हिंदी उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार तीसरी जंग हिंदी के नहीं हैं, तथा तीसरी जंग हिंदी उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *