विशेष

चन्द्रशेखर रावण के बारे में

Satyendra PS

===========

चंद्रशेखर वकील हैं। क्रांति करने के पहले उनके पास बुलेट थी। वह जिस समुदाय से आते हैं उसमें वकील, बुलेट होना भी समुदाय का हीरो /साहेब बना देता है। काशीराम को भी उनके समुदाय के लोग साहेब कहते थे।

यूपी में सपा बसपा की सत्ता थी। चन्द्रशेखर ने गांव के रास्ते पर द ग्रेट चमार का बोर्ड लगा दिया।

वह ठाकुरों का इलाका है। स्वाभाविक है कि बोर्ड से बहुत चिढ़े रहे होंगे सब। भाजपा आई तो किसी मसले को लेकर विवाद उठा। दलितों के कई गांव फूंक दिए गए। ठाकुरों ने दलितों के ऊपर ही केस लदवा दिए। चन्द्रशेखर भी जब टर्र टर्र किये तो रासुका।लगाकर जेल में डाल दिया गया और अच्छे से कूट दिए गए, कानून फानून अंग विशेष में घुस गया।

कम्युनिस्टों ने इस मामले में हुआँ हुआँ किया तो यह मामला थोड़ा मीडिया और ज्यादा सोशल मीडिया में चल गया। कम्युनिस्टों ने सोचा कि बस, क्रांति का फल टपकने ही वाला है। लेकिन चन्द्रशेखर बाबू ठोंके जा रहे थे और दलितों की भी खूब तोड़ाई हो गई इस बीच।

इस मामले में कांग्रेस ने थोड़ा हस्तक्षेप किया तब चन्द्रशेखर बाबू की थोड़ी जान बची। कांग्रेस अभी भी कवायद में है कि चन्द्रशेखर नेता बन जाए। कितनी सफल होगी, पता नहीं।

बकिया आज की तारीख में बगैर किसी दल के चंद्रशेखर अगर कहीं से चुनाव लड़ें तो वह विधायकी सांसदी में अपनी जमानत भी न बचा पाएंगे।

(हमारे उन साथियों के लिए, जो चन्द्रशेखर क्रांति कर रहे हैं या चन्द्रशेखर क्रांति से निराश हैं. यह लेखक की ग्रामीण जातीय विन्यास व सामंती सोच के मुताबिक निजी राय है. )

=========

Moti Ram Mensa

 · 

बधाई हो बहुजन मुक्ति पार्टी के नवनियुक्त राजस्थान प्रदेशाध्यक्ष मान्यवर मोहनलाल जी बारूपाल ( पूर्व विकास अधिकारी शिव एवम पूर्व प्रिंसिपल,बाटाडू,बाड़मेर)…

दिसम्बर 2012 से लगातार ये जिम्मेदारी मेरे पास रही! जहाँ तक सम्भव हुआ हम सबने मिलकर इस कारवां को यहां तक बढ़ाया आगे हम सब मिलकर बुद्धिजीवी एवम अनुभवी चेहरा मान्यवर मोहनलाल जी के नेतृत्व में इस कारवाँ को और ऊंचाइयों पर ले जाएंगे एवम 2023 में राजस्थान में bmp की सरकार बनाएंगे! जय मूलनिवासी

एडवोकेट मोतीराम मेनसा

पूर्व प्रदेश अध्यक्ष

बहुजन मुक्ति पार्टी राजस्थान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *