देश

दो चार रोज़ में बीबीसी और अल जज़ीरा पर पाबंदी लगा दी जाए तो आश्चर्य मत करिएगा : तड़ीपार का भी राम नाम सत्य माने ???

Himanshu Kumar
==============
अगले दो चार रोज़ में अगर बीबीसी और अल जज़ीरा पर पाबंदी लगा दी जाए तो आश्चर्य मत करिएगा।

फ़िलहाल सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने दोनो ही चैनलों को फ़ोन करके उनकी रिपोर्टिंग को बाय्सड बताया है और कहा है कि कश्मीर में जुमे के रोज़ जो प्रदर्शन एवं गोलीबारी का फूटेज दिखाया गया वो फ़र्ज़ी है ।

यह दीगर है कि बीबीसी और अल जज़ीरा दोनो चीख़ चीख़ कर कह रहे हैं कि विडियो सही है और हमारे पास लूज़ फूटेज भी है।

एक ख़बर यह भी है कि सरकार न केवल चैनलों पर पाबंदी लगाएगी बल्कि सेल्यूलर कम्पनियों से कहकर इन चैनलों की वेबसाइट और लाइव स्ट्रीमिंग को भी ब्लाक कराएगी ।

सही सच्ची ख़बर हम सबका अधिकार हैं कश्मीर में इस वक़्त ऐसे रिपोर्टर नामौजूद है जो सही और सच्ची ख़बर हम तक लायें।

सरकार की कोशिश है कि समूचे कश्मीर को नो न्यूज़ ज़ोन बना दिया जाए।लेकिन मुझे उम्मीद है कि जल्द ही वेब के कुछ जर्नलिस्ट बेहतरीन काम करके दिखायेंगे ।

मीडिया के लिए यह वक़्त बेहद ख़तरनाक है। ज़रूरत है कि आप सब सच्ची ख़बर दिखाने वाले चैनलों और सच्ची ख़बर लाने वाले खबरनवीसों के साथ खड़े रहें।

यह तस्वीर रायटर के दानिश सिद्दीकी ने श्रीनगर में रविवार को हुए जायरीनों के प्रदर्शन के दौरान ली है।

Awesh Tiwari

 

Salman Siddiqui
=============
क्या लिखूं, कुछ समझ में नही आ रहा हैं,

एक तरफ मोबलीचिंग वालो का किरदार दूसरी तरफ जमीयत की अपील,

याद है न वह मुन्तदर अल जैदी का छोटे बुश के मुँह पर जूता मारना ?

लेकिन आज के आलिमो की और मस्लिहत पसंद अल्लाह वालों की माने तो वह शेर बेदीन खारजी था

जूता क्यू मारा ? इस्लाम मुहब्बत और शांति का मज़हब है ,, फूल मारता तब कहलाता मर्दे मुजाहिद

कुल मिलाकर गुजारिश यह है भैय्या कि इस्लाम को बौद्ध धर्म बनाने की होड़ से बाज़ आजाओ
जरूरी नही कि जो चीज़ तुम्हे सही या गलत लगती है वही इस्लामिक रिवायत हो , तुम अपनी सोच को दुनिया के मयार पर तौलते हो बस

आओ तुम्हे खालिद बिन वलीद र.अ. के घोड़े की कुफ्फार के खून में सने हुए खुर दिखाऊं

Imran Pratapgarhi
=========
शुक्रिया Captain Amarinder Singh साहब
पंजाब का दिल वाक़ई बहोत बडा है, कश्मीरी स्टूडेंट को अपना मेहमान बनाकर ईद की ख़ुशियॉं बॉंटती ये तस्वीरें सियासी हुक्मरानों को बहोत कुछ सिखाना चाहती हैं !!

देश एैसे बनता है, सच्चे जज़्बों से, यही मेरे देश की सच्ची तस्वीर है
#EidAlAdha2019

DrShashikala Naik
========
एक भक्तन कह रही थी, नेहरू का बनाये एम्स में से कोई बीजेपी वाला जिंदा नही बचता…
मैं बोली.. मतलब तड़ीपार का भी राम नाम सत्य माने ???
भक्तन सकपका गई !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *