देश

भारत के सिर से छिना दुनिया की पांचवीं बड़ी अर्थव्यवस्था का ताज, पांचवें स्थान से खिसक कर सातवें पायदान पर आया

विश्व की मजबूत अर्थव्यवस्था की सूची में भारत दो पादयदान लुढक कर सातवें पायदान पर पहुंचा है।

विश्व बैंक के ताज़ा आंकड़ों के अनुसार वैश्विक अर्थव्यवस्था की दृष्टि से भारत अब सातवें पायदान पर पहुंच गया है। भारत पांचवें स्थान से खिसक कर सातवें पायदान पर आया है। अमर उजाला के अनुसार साल 2018 में अर्थव्यवस्था सुस्त रहने की वजह से विश्व बैंक के आंकड़ों के मुताबिक भारत अब सातवें पायदान पर पहुंच गया है। ब्रिटेन और फ्रांस की अर्थव्यवस्था में साल 2018 में भारत के मुकाबले ज्यादा ग्रोथ दर्ज की गई है। इसके चलते ब्रिटेन और फ्रांस ने एक-एक पायदान की छलांग लगाई है। इस सूची में पहले स्थान पर अमेरिका है। विश्व बैंक के आंकड़ों के मुताबिक साल 2018 में भारत की अर्थव्यवस्था महज 3.01 फीसदी बढ़ी है। वहीं साल 2017 में अर्थव्यवस्था में 15.23 फीसदी की वृद्धि देखी गई थी। सूची में पहले स्थान पर अमेरिका है। दूसरे स्थान पर चीन की अर्थव्यवस्था है। जापान इस सूची में तीसरे स्थान पर है। ब्रिटेन और फ्रांस की अर्थव्यवस्था में साल 2018 में भारत के मुकाबले ज्यादा ग्रोथ दर्ज की गई है। इसके चलते ब्रिटेन और फ्रांस ने एक-एक पायदान की छलांग लगाई है। इसलिए भारत पांचवें स्थान से खिसक कर सातवें पायदान पर आया है। भारत के सातवें स्थान पर पिछड़ने के पीछे डॉलर के मुक़ाबले रुपये का कमज़ोर होना सबसे बड़ी वजह है।

विश्व बैंक के आंकड़ों के मुताबिक साल 2018 में भारत की अर्थव्यवस्था मात्र 3.01 फीसदी बढ़ी है जबकि सन 2017 में अर्थव्यवस्था में 15.23 फीसदी की वृद्धि देखी गई थी। गौरतलब है कि भारत की मोदी सरकार ने अगले पांच सालों में भारतीय अर्थव्यवस्था को 5 खरब तक पहुंचाने की बात कही थी। ऐसे में विश्व बैंक का ये ताज़ा आंकड़ा सरकार को परेशान कर सकता है।

उल्लेखनीय है कि कारोबारी साल 2018 में अमेरिका की जीडीपी 19.39 खरब डालर रही जबकि चीन की जीडीपी 12.24 खरब थी। इस दौरान जापान की जीडीपी 4.872 खरब, ब्रिटेन और फ्रांस की जीडीपी 2.622 खरब। भारत की जीडीपी 2.597 खरब दर्ज की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *