दुनिया

यूरोप में बढ़ते अतिवाद से पोप फ़्रांसिस चिंतित

पोप फ़्रांसिस ने यूरोप में बढ़ते अतिवाद के प्रति चेतावनी दी है।

इसाइसयों के सबसे बड़े धर्मगुरू ने यूरोप में बढ़ती दक्षिणपंथी प्रक्रिया के प्रति चेतावनी दी है।ईसाइयों के धर्मगुरू पोप फ़्रांसिस ने कहा है कि यूरोप में लिए जाने वाले कुछ राजनैतिक फैसले, नाज़ी जर्मनियों द्वारा लिए गए फैसलों की भांति हैं। उन्होंने यह बात इटली के समाचारपत्र La Stampa को दिये साक्षात्कार में कही। उन्होंने कहा कि यूरोपीय समाज में पलायनकर्ताओं को अधिक से अधिक स्वीकार किया जाना चाहिए। पोप फ़्रांसिस ने स्पष्ट किया कि राष्ट्रवाद एसी सोच है जो अलग-थलग कर देती है। इससे पहले पोप फ़्रांसिस ने सन 2017 में कहा था कि अतिवादी राष्ट्रवाद, यूरोप के संस्थापकों के सपनों को साकार नहीं होने देगा।

ज्ञात रहे कि इटली की दक्षिणपंथी सरकार की नीति पलायनकर्ता विरोधी है। यह विचारधारा, रोम और यूरूपीय संघ के बीच गंभीर मतभेद का कारण बनी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *