विशेष

लोकतंत्र सचमुच ख़तरे में है

Himanshu Kumar
·
छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले के सिंगारम गांव में 19 आदिवासियों को पुलिस वालों ने लाइन में खड़ा करके गोली से उड़ा दिया था

जब हम उनके रिश्तेदारों को लेकर कोर्ट जाने लगे

तो एक नक्सल नेता ने आकर कहा कि आप गांधीवादी हैं आपका विश्वास संविधान और अदालत में है मैं आपको नहीं रोकूंगी

लेकिन मैं आप चुनौती दे रही हूं कि आप इन आदिवासियों को कभी न्याय नहीं दिला पाएंगे

और यदि आप ने अदालत से इन आदिवासियो को न्याय दिलवा दिया

तो मैं बंदूक रख दूंगी और गांधीवादी बन जाऊंगी

आज मुझे यह बताते हुए निराशा हो रही है कि उस केस में आज तक फैसला नहीं आया

यह सन 2008 का केस है 11 साल हो गए

मैंने अपने खुले पत्र में कोर्ट के जज को लिखा था ‘मिलार्ड आपने इन आदिवासियों को न्याय ना देकर मुझे नहीं हराया

आप ने नक्सली नेता को जिता दिया

मिलार्ड आपने मुझे गलत साबित कर दिया और नक्सलियों को सही साबित कर दिया जो यह कहते हैं कि यह व्यवस्था गरीबों के लिए है ही नहीं इसलिए अपनी व्यवस्था लाने के लिए लड़ो ‘

कभी-कभी मुझे समझ में नहीं आता कि व्यवस्था में बैठे लोग डरते क्यों नहीं है कि कभी तो जनता उनके खिलाफ हो सकती है उनका अन्याय और जन विरोधी रुख को देखकर

आज की अखबार में छपा है कि सुप्रीम कोर्ट ने कश्मीर मामले में लोगों को राहत देने से मना कर दिया है और सरकार का साथ देने का फैसला किया है

संविधान के मुताबिक भारत में अदालतों को सरकार से आजाद रखा गया है अदालतें सरकार पर अंकुश लगा सकती है उन्हें सही रास्ते पर रख सकती हैं

लेकिन अदालतों ने सरकार के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है

आज पहलू खान के मामले में अदालत ने जो शर्मनाक काम किया है

उसे देख कर लगता है

लोकतंत्र सचमुच खतरे में है

नेहा चौहान
@nehagkp1

नोटबन्दी घोटाला~800000करोड़
बिटकॉइन घोटाला ~83000करोड़
राफेल विमान घोटाला~53000करोड़
अदानी घोटाला~50000करोड़
GSPC घोटाला~25000करोड़
स्विस बैंक घोटाला~23450करोड़
व्यापम घोटाला~15000करोड़
नीरव मोदी घोटाला~12000करोड़
विजय माल्या घोटाला~8000करोड़
रामदेव जमीन घोटाला~5000करोड़

Arfa Khanum Sherwani
@khanumarfa

Our 56 inch politicians who decided the fate of this woman would not even understand what it is to walk even a few steps when a pregnant woman’s water bag breaks.
But every woman who has given birth to a child exactly knows what this Kashmiri woman must’ve gone through.Goosebumps

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *