देश

कश्मीर मामले पर युद्ध नहीं होगा, अयोध्या मामले पर उच्चतम न्यायालय का फ़ैसला स्वीकार : अमित शाह

भारत के गृहमंत्री और भाजपा अध्यक्ष ने कहा है कि कश्मीर मामले को लेकर कोई युद्ध नहीं होगा।

अमित शाह ने अपने एक इंटरव्यू में कई अहम मुद्दों पर सरकार का पक्ष रखा। उन्होंने एनआरसी मामले पर उठ रहे सवालों के बारे में कहा कि दुनिया में जब कोई भी देश अपने यहां किसी बाहरी नागरिक को नहीं घुसने देता तो भारत में बाहरी लोग कैसे रह सकते हैं? उन्होंने कहा कि जो लोग एनआरसी से बाहर हुए हैं उन्हें अपनी नागरिकता सिद्ध करने का मौक़ा दिया जाएगा। अमित शाह ने कहा देश के नागरिकों का एक रजिस्टर होना समय की ज़रूरत है और एनआरसी को पूरे देश में लागू किया जाना चाहिए।

अमित शाह ने अयोध्या विवाद पर कहा कि उच्चतम न्यायालय किसी के कहने से नहीं बल्कि अपने क़ानून के हिसाब से आगे बढ़ता है। उन्होंने कहा कि न्यायालय में चीज़ें तभी पहुंचती हैं जब विवाद हो और अदालत का फ़ैसला किसी को अच्छा लगता है, किसी को नहीं लगता है, लेकिन सबको स्वीकार करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या का मामला चल रहा है और अदालत जो फ़ैसला देगी उसे सभी को मानना होगा। भारत के गृहमंत्री अमित शाह ने धारा 370 के बारे में कहा कि हम हमेशा से मानते थे कि धारा 370 अस्थायी है और उसे हटाने की तैयारी शुरू से चल रही थी। उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 हटाना हमारा अधिकार था और हमने उसे इस्तेमाल किया। अमित शाह ने कहा कि कश्मीर हमारा आंतरिक मामला है और इसे लेकर युद्ध का कोई सवाल ही नहीं है। उन्होंने दावा किया कि कश्मीर पर पूरा विश्व भारत के साथ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *