देश

भारत, दुबई, सऊदी अरब, श्रीलंका समेत मलेशिया के कई हिस्सों में भी दिखा ‘सूर्य ग्रहण’, देखें दुर्लभ तस्वीरें

इस दशक का अंतिम ‘सूर्यग्रहण’ बुधवार सुबह 7:59 बजे शुरू हुआ। इसे ‘रिंग ऑफ़ फायर’ या सूर्य ग्रहण के रूप में जाना जाता है।

 

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, भारत के अलावा सूर्य ग्रहण सऊदी अरब, क़तर, संयुक्त अरब इमारात, ओमान, श्रीलंका, मलेशिया, इंडोनेशिया, सिंगापुर, उत्तरी मारियाना द्वीप और गुआम में दिखाई दिया।


‘सूर्य ग्रहण’ के समय चंद्रमा सूर्य को कवर करता है जिससे ‘रिंग ऑफ फायर’ का अद्भुत नज़ारा बनता है, जैसा ये मुंबई में दिखाई दिया।


गुजरात के अहमदाबाद में ‘सूर्य ग्रहण’ की ये दुर्लभ तस्वीरें देखी गईं। आंशिक ग्रहण के तुरंत बाद ‘कुंडलाकार सूर्य ग्रहण’ सुबह 9:04 बजे से दिखाई दे रहा था।


जकार्ता, इंडोनेशिया में भी दुर्लभ नज़ारा देखा गया, जिसमें चंद्रमा ने सूर्य को कवर किया हुआ है। ‘सूर्य ग्रहण’ तब होता है जब चंद्रमा पृथ्वी और सूर्य के बीच से गुज़रता है।


बुधवार सुबह ओडिशा के भुवनेश्वर में भी ‘सूर्य ग्रहण’ देखा गया। भारत में कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, महाराष्ट्र और दिल्ली के कुछ हिस्सों से ‘आंशिक ग्रहण’ दिखाई दिया।


केंद्रीय म्यांमार के वान ट्विन से भी ‘सूर्य ग्रहण’ देखा गया। यहां भी सूर्य के सामने चंद्रमा के आ जाने की वज़ह से ये ‘रिंग ऑफ फायर’ का नज़ारा दिखा।


बुधवार सुबह केरल के वायनाड में भी लोग ‘सूर्य ग्रहण’ को देख सके। अलग-अलग भौगोलिक स्थिति की वज़ह से भारत के कई हिस्सों में ‘सूर्य ग्रहण’ को अलग-अलग स्वरूपों में देखा गया।


दुबई में भी ‘सूर्य ग्रहण’ दिखा। ग्रहण सऊदी अरब, कतर, संयुक्त अरब अमीरात, ओमान, श्रीलंका, मलेशिया, इंडोनेशिया, सिंगापुर, उत्तरी मारियाना द्वीप और गुआम में दिखाई दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *