देश

‘NRC से बांग्लादेश की आज़ादी को ख़तरा’, बांग्लादेश ने भारत से लगी सीमा पर मोबाइल नेटवर्क बंद करने का आदेश दिया!

बांग्लादेश सरकार ने भारत से लगी सीमा पर एक किलोमीटर के दायरे में मोबाइल नेटवर्क बंद करने का आदेश दिया है.

इसके बाद सीमान्त इलाक़े में मोबाइल पर इंटरनेट सेवा बंद हो जाएगी.

बांग्लादेश के टेलीकॉम विभाग बीटीआरसी की ओर से रविवार को देश के चार मोबाइल फ़ोन ऑपरेटर्स को एक चिट्ठी भेजी गई है जिसमें उनसेअगले आदेश तक सीमांत क्षेत्र में मोबाइल नेटवर्क बंद रखने के लिए कहा गया है.

हालाँकि बीबीसी की बांग्ला सेवा ने जब इस बारे में डाक और टेलिकॉम मंत्री मुस्तफ़ा जब्बार से बात की तो उन्होंने कहा कि उनके मंत्रालय की ओर से ऐसा कोई निर्देश नहीं दिया गया है.

उन्होंने कहा, “ये फ़ैसला सरकार ने लिया है. सरकार ने बीटीआरसी को निर्देश दिया है. बीटीआरसी ने क्या निर्देश दिया है, वो बीटीआरसी ही बता पाएगी.”

हालाँकि बीटीआरसी के अध्यक्ष जहूरुल हक़ ने बीबीसी से इस चिट्ठी को भेजे जाने की पुष्टि की है.

‘NRC से बांग्लादेश की आज़ादी को ख़तरा’
उन्होंने कहा, “ये फ़ैसला उच्च अधिकारियों ने लिया है. भारत में कुछ असंतोष की स्थिति है. शायद उसी का ध्यान रख सरकार नियंत्रण की कोशिश कर रही है. किंतु हमने अभी तक कुछ किया नहीं है. क्या किया जा सकता है, इसपर विचार जारी है.”

बीटीआरसी अध्यक्ष ने एक प्रश्न के जवाब में ये भी कहा कि भारत की नागरिकता सूची को लेकर कोई असंतोष ना हो, कोई दुष्प्रचार या अफ़वाह ना फैला सके, इसी वजह से सरकार ने तत्परता दिखाई है.

मगर इसका बांग्लादेश के मोबाइल नेटवर्क से क्या लेना-देना है ये पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “बॉर्डर पर इस पार की ख़बर उस पार चली जाती है. शायद सरकार के पास कोई ऐसी कोई ख़बर है कि वहाँ भ्रामक प्रचार करने की कोशिश की जा रही है. ऐसी ख़ुफ़िया रिपोर्ट है कि वहाँ अफ़वाह फैल सकती है. इसलिए बीटीआरसी को कहा है कि इस बारे में क्या कर सकते हैं.”

जहूरुल हक़ ने कहा कि हालाँकि इस बारे में अभी कई पहलुओं पर विचार किया जा रहा है.

उन्होंने कहा,”मोबाइल बंद होने से लोगों को परेशानी होगी, हम उसपर भी विचार कर रहे हैं. अभी इसलिए इसका प्रयोग ही कर रहे हैं. पर ये होगा भी तो पूरे नेटवर्क पर इसका असर नहीं पड़ेगा. गड़बड़ होने की आशंका नहीं होने पर हो सकता है कि कुछ ना भी किया जाए.”

उन्होंने बताया कि इस बारे में अगर फ़ैसले पर अमल किया जाता है तो सीमांत इलाक़े में बहुत सारे मोबाइल टावरों को बंद करना होगा.

जहूरूल हक़ ने कहा, “हमारी टेक्निकल टीम इस बारे में जाँच कर रही है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *