देश

गऊ हत्या करने पर बाघों को भी सज़ा देने की मांग

बाघों की हत्या को लेकर विधानसभा में बहस के दौरान राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के विधायक चर्चिल एलेमो ने कहा कि जब बाघों की हत्या करने के लिए इंसानों को सज़ा दी जाती है, तो गायों को खाने के लिए बाघों को भी सज़ा मिलनी चाहिए।

दूसरी ओर बाघों की हत्याओं की व्यापक जांच कराने की विपक्ष की मांग के बीच गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने बुधवार को कहा कि यह सुनिश्चित करने की कोशिशें चल रही है कि ऐसी घटनाएं भविष्य में फिर से न हो। पिछले महीने महादयी वन्यजीव अभयारण्य में पांच स्थानीय लोगों ने एक बाघिन तथा उसके तीन शावकों की हत्या कर दी थी।

विपक्ष के नेता दिगम्बर कामत ने बुधवार को विधानसभा सत्र के दौरान सदन के पटल पर ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पेश करते हुए यह मुद्दा उठाया। गोवा फॉरवर्ड पार्टी के विधायक विजय सरदेसाई और निर्दलीय विधायक रोहन खोंटे समेत विपक्षी नेताओं ने केंद्रीय एजेंसियों से मांग की कि हत्याओं में अवैध शिकार करने वाले गिरोहों या खनन गिरोहों के शामिल होने की संभावना की जांच होनी चाहिए।

सावंत ने कहा कि हमने यह सुनिश्चित करने के लिए एहतियातन कदम उठाए है कि ऐसी हत्याएं फिर न हो। हम मानवीय दृष्टिकोण से भी इस मामले की जांच कर रहे हैं।

उन्होंने बताया कि स्थानीय लोगों ने बाघों की कथित तौर पर तब हत्या की जब उन्होंने उनके पशुओं पर हमला कर दिया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन किसानों को तीन से चार दिनों में मुआवजा दिया जाएगा जिनके मवेशी मारे गए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *