देश

ट्रम्प की भारत यात्रा : यमुना का प्रदूषण दिखाई न दे, इसलिये यमुना में गंगनहर का पानी मिलाया जाएगा!

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प की भारत यात्रा की तैयारियां जारी है और इससे पहले सरकार ने अहमदाबाद में झुग्गी झोपड़ियों के सामने दीवार खड़ी कर दी और अब उत्तर प्रदर्शन के सिंचाई विभाग ने आगरा में यमुना को स्वच्छ और अविरल बनाने के लिए गंगनहर से पानी देने का फ़ैसला किया है।

उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग के सुपरिटेंडेंट इंजीनियर धर्मेंद्र सिंह फोगाट ने बताया कि अमरीकी राष्ट्रपति के आगरा आगमन को ध्यान में रखते हुए यमुना नदी की पर्यावरणीय स्थिति में सुधार के लिए मांट नहर के रास्ते 500 क्यूसिक गंगाजल मथुरा में छोड़ा गया है। यह पानी अगले तीन दिन में मथुरा और उसके 24 घण्टे बाद 21 फ़रवरी की दोपहर तक आगरा पहुंचेगा।

फोगाट ने कहा कि विभाग की कोशिश है कि गंगाजल की यह मात्रा यमुना में 24 फ़रवरी तक निरंतर बनी रहे।

प्रशासन के इस कदम पर उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण विभाग के असिस्टेंट इंजीनियर डॉक्टर अरविंद कुमार ने बताया कि यदि आगरा में यमुना नदी के प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए 500 क्यूसिक गंगाजल छोड़ा गया है तो वह निश्चित रूप से प्रभाव डालेगा। मथुरा के साथ-साथ आगरा में भी यमुना नदी में घुले ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ेगी तथा बायोलॉजिकल ऑक्सीजन डिमांड व केमिकल ऑक्सीजन डिमांड की मात्रा में कमी आएगी। इतना होने पर यमुना का पानी पीने योग्य भले ही न हो पाए, परंतु उसके दुष्प्रभाव व बदबू में तो कमी होने की आशा कर सकते हैं।

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प 24 से 26 फ़रवरी तक भारत की यात्रा पर रहेंगे। इस दौरान वह राजधानी दिल्ली सहित गुजरात के अहमदाबाद और उत्तर प्रदेश के आगरा भी जा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *