मध्य प्रदेश राज्य

तड़ीपार की पूरी क्रोनोलॉजी समझिए : ज्योतिरादित्य केंद्र सरकार में बनेंगे मंत्री : शाम 6 बजे बीजेपी ज्वाइन करेंगे मध्य प्रदेश के:mission lotus की हर ख़बर एक साथ पढ़ें!

pic source : twitter

भारत के पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफ़ दिए जाने के बाद 19 सिंधिया समर्थक विधायकों ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इसके बाद अब मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बड़ा फैसला लेते हुए छह मंत्रियों को बर्ख़ास्त करने के लिए राज्यपाल लालजी टंडन को पत्र भेजा है।

मुख्यमंत्री कमलनाथ की कुछ मंत्रियों और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के साथ बैठक हुई। इसके बाद सिंधिया समर्थक मंत्रियों को बर्ख़ास्त करने का फ़ैसला किया गया। इस संदर्भ में राज्यपाल लालजी टंडन को मुख्यमंत्री की ओर से पत्र लिखा गया है।

ज्ञात रहे कि सिंधिया के कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफ़ा दिए जाने के बाद मध्य प्रदेश के 19 सिंधिया समर्थक विधायकों ने भी अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया है। यह इस्तीफ़े विधानसभा अध्यक्ष कायार्लय भेजे गए हैं। इन विधायकों ने एक साथ सोशल मीडिया पर अपनी एक तस्वीर भी साझा की है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रही इस तस्वीर में 19 विधायक अपने हाथ में त्यागपत्र लिए बैठे हुए दिखाई दे रहे हैं।


मध्य प्रदेश में जारी सियासी ड्रामे के बीच सिंधिया ने कांग्रेस से दिया इस्तीफ़ा

मध्य प्रदेश में जारी सियासी ड्रामे के बीच, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पार्टी से इस्तीफ़ा दे दिया है।

मुख्यमंत्री कमलनाथ से नाराज़ चल रहे सिंधिया ने पार्टी से बग़ावत करते हुए मंगलवार को ट्वीट करके अपने इस्तीफ़े का एलान किया।

इससे पहले सोमवार को कमलनाथ सरकार के अधिकांश मंत्रियों ने अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया था।

कहा जा रहा था कि यह इस्तीफ़े मंत्रिमंडल विस्तार की योजना के तहत लिए गए हैं, ताकि सरकार को बचाए रखने और विधायकों को एकजुट करने के लिए वक़्त हासिल किया जा सके।

लेकिन कमलनाथ सरकार को गिराने की बीजेपी की कोशिशें सिंधिया के इस्तीफ़े के साथ ही सफल होती नज़र आ रही हैं।

सिंधिया ने इस्तीफ़ा देने से पहले बीजेपी नेता और गृहमंत्री अमित शाह तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनके आवास पर मुलाक़ात की।

इस मुलाक़ात के बाद ही ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस की सदस्यता से इस्तीफ़ा दे दिया है।

अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि बीजेपी ने सिंधिया और उनके समर्थकों कांग्रेस से तोड़ने की क्या क़ीमत अदा की है।

कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई में अंदरूनी कलह और उसके कुछ विधायकों को बीजेपी द्वारा अपने पाले में करने के आरोपों के बीच सिंधिया समर्थित कुछ नेता सोमवार को बेंगलुरु पहुंचे थे।

सूत्रों का कहना है कि सिंधिया बीजेपी में शामिल होकर राज्यसभा जा सकते हैं, जिसके बाद उन्हें संसद सत्र के बाद कैबिनेट विस्तार कर मोदी सरकार में शामिल किया जा सकता है।

ANI
@ANI
Another Madhya Pradesh Congress MLA, Manoj Choudhary (Hatpipliya constituency in Dewas) has tendered his resignation as member of legislative Assembly. Total Congress MLAs who have resigned are 22 now.
Quote Tweet

ANI
@ANI
Madhya Pradesh Congress MLA from Sumawali (Morena), Adal Singh Kansana has tendered his resignation as member of legislative Assembly

Surendra Rajput
@ssrajputINC
इतिहास ने #महाराणा_प्रताप को जगह दी है ना कि #मीर_जाफ़र या #जयचंद को।
#कांग्रेस और #कांग्रेसी ज़िंदाबाद।।

S Rajasekar
@srspdkt
Thank you
@BJP4India
for cleaning up the mess of
@INCIndia
. We shall always be grateful to you that helped us make a new Congress that is full of real Congress men and not traitors.
Congress should get rid of these Viruses …!

SHILPI SINGH
@ShilpiSinghINC
बीजेपी में जाते हैं तो जाने दो गिरने दो सरकार सत्ता के लिए कांग्रेस समझौता नहीं करती है समर्थन सबका है लेकिन इस तरीके से नहीं!

Rana Ayyub
@RanaAyyub

In politics, two weeks is a long time
Quote Tweet

Jyotiraditya M. Scindia
@JM_Scindia

The @BJP4India leaders have got to stop spreading the politics of hate. Need both the governments to work together and put an end to this before it’s too late!


Rubika Liyaquat
@RubikaLiyaquat
बीजेपी के बुआ-बबुआ

गुना लोकसभा सीट परिणाम: सिंधिया वंश के गढ़ में ही हारे ज्योतिरादित्य, बीजेपी को सवा लाख वोट से मिली जीत

23 May 2019,

गुना।मध्य प्रदेश में सिंधिया वंश की गढ़ सीट गुना पर इस बार करीब 20 साल बाद भगवा पार्टी का कब्जा होने दा रहा है। 1999 में राजमाता विजया राजे सिंधिया के बाद अब एक बार फिर यहां पर भारतीय जनता पार्टी को बड़ी जीत मिली है। 2014 के चुनाव में प्रचंड मोदी लहर के बावजूद यहां पर हार का सामना करने वाली बीजेपी ने इस बार 1 लाख 25 हजार से अधिक वोटों से जीत हासिल की है।

सभी कॉमेंट्स देखैंअपना कॉमेंट लिखेंखास बात यह कि इस बार सिंधिया वंश की पारंपरिक सीट रही गुना में करीब 3 दशक बाद सिंधिया पैलेस के बाहर का कोई प्रत्याशी जीता है। ज्योतिरादित्य सिंधिया को बीजेपी के केपी यादव ने पराजित किया है जो पूर्व में ज्योतिरादित्य के सांसद प्रतिनिधि भी रहे हैं। कृष्णपाल सिंह उर्फ केपी यादव को यहां पर कुल 6 लाख 14 हजार 49 वोट मिले हैं। वहीं दूसरे स्थान पर रहे ज्योतिरादित्य को इस बार सिर्फ 4 लाख 88 हजार 500 वोट मिले। इस तरह सिंह ने ज्योतिरादित्य को कुल 1 लाख 25 हजार 549 वोटों से हराया।

गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र को ग्वालियर के सिंधिया राजघराने का गढ़ माना जाता है, क्योंकि अब तक हुए उपचुनाव सहित 20 चुनाव में सिंधिया राजघराने के प्रतिनिधियों को 14 बार जीत मिली। ज्योतिरादित्य की दादी विजयराजे सिंधिया छह बार, पिता माधवराव सिंधिया चार बार और स्वयं ज्योतिरादित्य सिंधिया चार बार जीते हैं। एक बार सिंधिया राजघराने के करीबी महेंद्र सिंह कालूखेड़ा जीते थे। ज्योतिरादित्य सिंधिया का यह पांचवां चुनाव था और इससे पहले वह चार चुनावों में यहां से विजयी हुए थे। गुना शिवपुरी सीट पर केपी यादव को कुल 52 फीसदी वोट मिले, जबकि ज्योतिरादित्य को यहां 41 फीसदी लोगों का जनादेश मिला।

2002 से सांसद रहे हैं ज्योतिरादित्य सिंधिया
बता दें कि सिंधिया ने अपने पिता माधवराव सिंधिया के निधन के बाद हुए वर्ष 2002 के उपचुनाव में लगभग सवा चार लाख वोटों के अंतर से जीत दर्ज की थी। वहीं 2004 में यह अंतर कम होकर 86 हजार ही रह गया था। उसके बाद के चुनाव में उन्होंने वर्ष 2009 में ढाई लाख और वर्ष 2014 में जीत का अंतर एक लाख 20 हजार रह गया था। भले ही इस सीट पर सिंधिया अपनी जीत के पीछे गुना-शिवपुरी के लोगों से पारिवारिक रिश्ते की दलील देते हों, लेकिन देश में प्रचंड मोदी लहर के बीच सिंधिया वंश का पारंपरिक किला भी दरकता नजर आने लगा है।

मध्य प्रदेश में सियासी सस्पेंस अब ख़त्म

मध्य प्रदेश में बीते कुछ दिनों से चल रहा सियासी सस्पेंस अब ख़त्म हो गया है. कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को पार्टी छोड़ दी है.

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने 9 मार्च को दिए अपने इस्तीफ़े को 10 मार्च को सार्वजनिक किया.

ये इस्तीफ़ा सिंधिया के मंगलवार सुबह पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह से मुलाक़ात के बाद सामने आया है. ऐसे में मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार के सामने अब सरकार बचाने की चुनौती है.

माना जा रहा है कि सिंधिया बीजेपी का दामन थाम सकते हैं और इस फ़ैसले के साथ ही सिंधिया के ख़ेमे वाले विधायक भी कांग्रेस छोड़ सकते हैं.

सिंधिया ने अपने इस्तीफ़े में लिखा है, ”मेरी ज़िंदगी का शुरू से मक़सद अपने राज्य और देश के लोगों की सेवा करना रहा है. मुझे लगता है कि अब कांग्रेस में रहकर मैं ऐसा नहीं कर पा रहा हूं.”

सिंधिया का इस्तीफ़ा, सोशल मीडिया पर चर्चा
जब भारत के ज़्यादातर हिस्सों में होली मनाई जा रही है, तब सिंधिया के इस फ़ैसले ने लोगों को चौंकाया.

सिंधिया के फ़ैसले की सोशल मीडिया पर भी चर्चा है. हमने बीबीसी हिंदी के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कहासुनी के ज़रिए लोगों से सवाल किया- सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने के लिए आप किसे ज़िम्मेदार मानते हैं?

इस सवाल पर हमें कुछ ही मिनटों पर हज़ार से ज़्यादा प्रतिक्रियाएं मिलीं.

समीन शर्मा ने लिखा, ”एक आम नागरिक की तरह जीना सिंधिया के लिए हमेशा मुश्किल रहा है. वो हमेशा एक पोज़िशन चाहते थे इसलिए सिंधिया ने अपनी वफ़ादारी बदल दी.”

ओम प्रकाश चौधरी लिखते हैं, ”कांग्रेस छोड़ने के लिए कोई और नहीं… ख़ुद सिंधिया और उनकी तमन्नाएँ ज़िम्मेदार हैं.”

अशरफ़ जमील ने लिखा, ”ये दिल्ली नेतृत्व की हार है. न सिर्फ़ सिंधिया बल्कि सचिन पायलट भी कांग्रेस के पुराने लोगों और विचारों को ढो रहे हैं. सिंधिया का फ़ैसला बहुत अच्छा है. लेकिन अगर वो बीजेपी जॉइन करते हैं तो उनकी स्थिति फिर वैसी ही हो जाएगी. दुआ कीजिए कि सिंधिया का भविष्य बेहतर हो.”

जवाहर अली ने कहा, ”कांग्रेस में कोई लीडरशीप नहीं है.”

अदनान चौधरी ने लिखा, ”सिंधिया के पार्टी छोड़ने की असली वजह मध्य प्रदेश कांग्रेस सीएम की कुर्सी है.”

ट्विटर हैंडल @bhaiyyajispeaks ने लिखा, ”एक बात आप सभी के लिए जानना ज़रूरी है. ज्योतिरादित्य के पास ज़्यादा कोई विकल्प बचा भी नहीं था. मध्यप्रदेश में सरकार बनाने के लिए बीजेपी के पास पर्याप्त विधायक थे, सरकार बनाने के लिए सिंधिया के बिना भी तैयारी पूरी थी. कमलनाथ हर विधायक को ‘व्यापारी’ बनाना चाहते थे, उल्टा पड़ गया.”


मध्य प्रदेश LIVE: बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिले ज्योतिरादित्य सिंधिया

मध्य प्रदेश में सियासी उठापटक जारी है। होली पर बीजेपी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया के जरिए सीएम कमलनाथ के रंग में पूरी तरह भंग डाल दिया। 18 सालों तक कांग्रेस के साथ रहने वाले सिंधिया ने इस्तीफा दे दिया। सिंधिया के इस्तीफे के बाद 22 बागी विधायकों ने भी इस्तीफा दे दिया। मध्य प्रदेश की सियासत में क्या चल रहा है, जानने के लिए बने रहिए हमारे साथ….

पीएम मोदी से मिलने पहुंचे ज्योतिरादित्य सिंधिया
ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में शामिल होने की अटकलें तेज हैं। बताया जा रहा है कि बीजेपी उन्हें मध्य प्रदेश में कमल खिलाने के बदले राज्य सभा का उम्मीदवार बना सकती है। बीजेपी के सूत्रों के मुताबिक सिंधिया की मुलाकात मोदी और शाह से हो चुकी है। बताया जा रहा है कि कल वह शाह और उसके बाद मोदी से मिले थे।

Tue, 10 Mar 2020 17:19:07 (IST)
भोपाल में बीजेपी नेता भूपेंद्र सिंह ने कहा, मैं बेंगलुरु से 19 विधायकों का इस्तीफा लेकर आया हूं, शाम तक यह संख्या 30 तक पहुंच सकती है, कई नेता बीजेपी जॉइन करना चाहते हैं।

ANI

@ANI
Bhupendra Singh,BJP: I have come to Bhopal with the resignations of 19 MLAs who are currently in Bengaluru. The number can increase till 30 by evening as many people are willing to join BJP. #MadhyaPradesh

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिले ज्योतिरादित्य सिंधिया, थोड़ी देर बाद बीजेपी में हो सकते हैं शामिल

Tue, 10 Mar 2020 16:53:19 (IST)
सीएम हाउस पहुंच रहे हैं विधायक, थोड़ी देर में होगी कांग्रेस विधायक दल की बैठक

Tue, 10 Mar 2020 16:21:46 (IST)
देवास के हाटपिपलिया से विधायक मनोज चौधरी ने भी इस्तीफा दिया, इस्तीफा देने वाले विधायकों की संख्या 22 हुई

Tue, 10 Mar 2020 16:05:50 (IST)
सुमावाली (मोरेना) से विधायक एदल सिंह कंसाना ने भी इस्तीफा दिया, इस्तीफा देने वाले विधायकों की संख्या 21 हुई

Tue, 10 Mar 2020 15:55:30 (IST)
ज्योतिरादित्य सिंधिया के बेटे महाआर्यमान का ट्वीट, मुझे अपने पिता पर गर्व है कि उन्होंने अपने लिए स्टैंड लिया। एक विरासत छोड़ने के लिए हिम्मत की जरूरत होती है। इतिहास खुद बताता है कि मेरा परिवार कभी सत्ता का भूखा नहीं रहा। वादे के मुताबिक हम भारत और मध्यप्रदेश में प्रभावी बदलाव लाएंगे।

Tue, 10 Mar 2020 15:45:52 (IST)
दिल्ली: बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की बैठक खत्म हुई।

Tue, 10 Mar 2020 15:28:33 (IST)
एसपी और बीएसपी विधायकों से मुलाकात के बाद बीजेपी नेता शिवराज सिंह चौहान ने कहा- ‘वे अभी होली के अवसर पर मुझसे मिलने आए हैं। इसमें कोई राजनीति नहीं है।’

Tue, 10 Mar 2020 15:26:58 (IST)
एसपी विधायक राजेश शुक्ला और बीएसपी विधायक संजीव कुशवाहा बीजेपी नेता शिवराज सिंह चौहान के आवास पर पहुंचे।

Tue, 10 Mar 2020 14:56:44 (IST)
बेंगलुरु में मौजूद कांग्रेस के 19 बागी विधायकों ने कर्नाटक डीजीपी से पुलिस सुरक्षा की मांग की।

ANI

@ANI
19 Congress MLAs, who are staying in Bengaluru, write a letter to Karnataka DGP, demanding protection&police escort. Letter reads, “We’ve come to Karnataka voluntarily for some important work, regarding which we require protection for our safe movement&stay in& around Bangaluru”. …

ANI

@ANI
19 Congress MLAs including six state ministers from Madhya Pradesh who are in Bengaluru, tender their resignation from the assembly after Jyotiraditya Scindia resigned from the party.

कमलनाथ के समर्थक सिंधिया के इस्तीफे से काफी गुस्से में हैं और उनको लगातार गद्दार कहकर संबोधित कर रहे हैं। देखें…


कमलनाथ के समर्थक सिंधिया (@JM_Scindia) के इस्तीफे से काफी गुस्से में हैं और उनको लगातार गद्दार कहकर संबोधित कर रहे हैं। देखें… http://nbt.in/MadhyaPradeshCrisis …#MadhyaPradeshCrisis #JyotiradityaScindia

ज्योतिरादित्य सिंधिया के इस्तीफे के बाद फूटा कांग्रेसियों का गुस्सा, सिंधिया का पुतला जलाया और उन्हें गद्दार कहा। देखें…

ज्योतिरादित्य सिंधिया (@JM_Scindia) के इस्तीफे के बाद फूटा कांग्रेसियों का गुस्सा, सिंधिया का पुतला जलाया और उन्हें गद्दार कहा। 

जो भी हुआ उसे छोड़िए। अब हमें विपक्ष में बैठने के लिए तैयार रहना चाहिए। भविष्य में, कांग्रेस फिर से सरकार बनाएगी। मुझे नहीं लगता कि नंबर गेम का कोई ज्यादा मतलब होगा। हम मुख्यमंत्री से मिलेंगे और इस पर चर्चा करेंगेः लक्ष्मण सिंह, कांग्रेस नेता


ANI

@ANI
Laxman Singh,Congress: Whatever happened let it be. Now we should be ready to sit in the opposition. In the future, Congress again will form the government. I don’t think there will be much number game. We will meet the Chief Minister and discuss it. #MadhyaPradesh

मुझे आश्चर्य नहीं है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया और बीजेपी में शामिल होंगे। मुझे लगता है कि उन्हें राज्यसभा भेजा जाएगा और केंद्रीय मंत्रिमंडल में भी शामिल किया जाएगा। उनके पिता माधवराव सिंधिया अगर आज होते तो वह प्रधानमंत्री होतेः नटवर सिंह पूर्व विदेश मंत्री

ANI

@ANI
Former Foreign Minister Natwar Singh: I am not surprised that Jyotiraditya Scindia resigned from Congress & will join BJP. I feel he will be sent to Rajya Sabha & inducted into Union Cabinet. His father Madhavrao Scindia would have been Prime Minister if he had lived.

कांग्रेस नेता और वरिष्ठ विधायक बिसाहू लाल साहू जी यहां हमारे साथ हैं और बीजेपी में शामिल हो रहे हैंः शिवराज सिंह चौहान, पूर्व सीएम

ANI

@ANI
BJP leader Shivraj Singh Chouhan: Congress leader and senior MLA Bisahu Lal Sahu ji is here with us and is joining BJP. #MadhyaPradesh

राज्य सरकार मजबूत है और यह चलती रहेगी। कोई कह रहा है सिर्फ इसलिए यह सरकार गिरने वाली नहीं है। हमारे पास विधायकों की पर्याप्त संख्या हैः कांग्रेस नेता कांतिलाल भूरिया, सीएम कमलनाथ से मिलने के बाद

ANI

@ANI
Congress leader Kantilal Bhuria after meeting Madhya Pradesh CM Kamal Nath: State govt is strong and it will continue to run. The government is not going to fall because someone is saying so. We have required number of MLAs.

दिल्ली स्थित अपने आवास से बाहर निकले ज्योतिरादित्य सिंधिया। आपको बता दें कि उन्होंने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया है।

Tue, 10 Mar 2020 14:31:09 (IST)
मैं बहुत खुश हूं और उन्हें बधाई देती हूं। यह ‘घर वापसी’ है। माधवराव सिंधिया ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत जनसंघ से की थी। कांग्रेस में ज्योतिरादित्य की उपेक्षा की जा रही थीः यशोधरा राजे सिंधिया, बीजेपी नेता और ज्योतिरादित्य की बुआ

ANI

@ANI
Yashodhara Scindia, BJP leader & aunt of Jyotiraditya Scindia: I am very happy and congratulate him. This is ‘ghar vapasi’. Madhavrao Scindia had started his political career with Jan Sangh. Jyotiraditya was being neglected in Congress.


Tue, 10 Mar 2020 14:05:01 (IST)
शिवराज सिंह ने जब 15 साल शासन चलाया तब भी हम कांग्रेस में थे और हमारा काम हो जा रहा था। हमने कांग्रेस से इस्तीफा देकर बीजेपी जॉइन कर ली है। जिस तरह से कमलनाथ सरकार चल रही है, अधिकांश विधायक इस्तीफा दे देंगे: बिसाहू लाल सिंह

Tue, 10 Mar 2020 14:02:39 (IST)
मैं मध्य प्रदेश का वरिष्ठ विधायक हूं। 80 से विधायक हूं। कमलनाथ हों या फिर कोई हों, हम एक साथ कांग्रेस में आए थे इंदिरा गांधी के समय में। इस बार मध्य प्रदेश में मेरे वरिष्ठ होने के बाद भी उपेक्षा होती रही। मुझे प्रताड़ित किया गया। मैं अत्यंत दुखी हूं। मैं अपनी इच्छा से कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे रहा हूं। मुझ पर किसी का दबाव नहीं है: बिसाहूलाल सिंह

Tue, 10 Mar 2020 13:15:38 (IST)
आपको बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के इस्तीफे के बाद कांग्रेस के 6 मंत्रियों समेत 19 विधायकों ने भी इस्तीफा दे दिया।

Tue, 10 Mar 2020 13:11:43 (IST)
बेंगलुरु में मौजूद ज्योतिरादित्य सिंधिया गुट के मंत्रियों और विधायकों ने कांग्रेस से इस्तीफा दिया।

Tue, 10 Mar 2020 13:09:32 (IST)
जब सिंधिया जी कांग्रेस में थे तो कुछ कांग्रेसी नेताओं के लिए वह महाराजा थे, अब वे माफिया हैं? यही उनके दोहरे मापदंड हैंः शिवराज सिंह चौहान

ANI

@ANI
Shivraj Singh Chouhan: For some Congress leaders when Scindia ji was in Congress he was a Maharaja, now he is a mafia? These are their double standards

सिंधिया जी कांग्रेस पार्टी में कई वरिष्ठ पदों पर रहे और उनका हमेशा सम्मान किया गया। शायद मोदी जी की तरफ से मंत्री पद के प्रस्ताव से वह लालच में आ गए। हम जानते हैं कि उनका परिवार दशकों से बीजेपी से जुड़ा हुआ है, लेकिन फिर भी यह एक बड़ा नुकसान हैः अधीर रंजन चौधरी

ANI

@ANI
Adhir Ranjan Chaudhary, Congress leader in Lok Sabha: Scindia ji held many senior posts in Congress party and was well respected, maybe he got lured by the offer of ministership given by Modi ji. We know his family has been associated with BJP for decades,but yet it is a big loss


ज्योतिरादित्य सिंधिया के स्टाफ ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को इस्तीफे की हार्ड कॉपी सौंपी।

ANI

@ANI
Jyotiraditya Scindia’s office staff leaves after handing over a hard copy of his resignation at Congress President Sonia Gandhi’s residence 

ANI

@ANI
Congress leader Jyotiraditya Scindia tenders resignation to Congress President Sonia Gandhi

आपको बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया है। उनके आज बीजेपी में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही हैं।

Tue, 10 Mar 2020 13:02:13 (IST)
पीएम मोदी से मिलने के बाद दिल्ली में अपने आवास पर पहुंचे ज्योतिरादित्य सिंधिया।

Tue, 10 Mar 2020 12:55:51 (IST)
ज्योतिरादित्य सिंधिया के इस्तीफे के बाद कांग्रेस के 17 विधायकों ने भी इस्तीफा दिया। इंदौर कांग्रेस के अध्यक्ष ने भी इस्तीफा दिया। (रिपोर्ट- टाइम्स नाउ)

Tue, 10 Mar 2020 12:44:58 (IST)
ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी से निकाल दिया गया है। हमारे पास कोई दूसरा रास्ता नहीं था, पार्टी से गद्दारी करने वाले के साथ तो ऐसा ही करना पड़ेगा।

– अधीर रंजन चौधरी
Tue, 10 Mar 2020 12:43:50 (IST)
पार्टी को बड़ा नुकसान हुआ। पार्टी की हालत हमेशा एक समान नहीं होती। उतार-चढ़ाव तो लगा रहता है। बुरे वक्त में पार्टी का साथ छोड़ना सही नहीं है। मध्य प्रदेश में शायद अब हमारी सरकार नहीं रहेगी।

– सिंधिया के इस्तीफे पर कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी
Tue, 10 Mar 2020 12:36:56 (IST)
मैं भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे रहा हूं और जैसा कि आपको अच्छी तरह पता है कि पिछले एक साल से यह मार्ग प्रशस्त किया गया है। आज भी मैं अपने राज्य और देश के लोगों की रक्षा करने के अपने लक्ष्य और उद्देश्य पर अडिग हूं।

– इस्तीफे में ज्योतिरादित्य सिंधिया
Tue, 10 Mar 2020 12:34:37 (IST)
इस बीच पार्टी विरोधी गतिविधियों का हवाला देकर कांग्रेस ने तत्काल प्रभाव से ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी से बाहर निकाला।

Tue, 10 Mar 2020 12:31:55 (IST)
सिंधिया के इस्तीफे के बाद भड़की कांग्रेस, अरुण यादव ने सिंधिया की तुलना जयचंद और मीर जाफर से की है।

Tue, 10 Mar 2020 12:27:53 (IST)
टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक, सिंधिया के इस्तीफे के बाद कांग्रेस 14 और बागी विधायकों ने भी इस्तीफा दिया।

Tue, 10 Mar 2020 12:24:14 (IST)
इस इस्तीफे में सिंधिया ने अपना दुख बयां किया है। उन्होंने लिखा है कि उनके अंदर जो कुछ भी चल रहा था, वह विधानसभा चुनाव के वक्त से ही चल रहा था। सिंधिया ने आगे कहा- ’18 साल से चल रहे इस साथ से आगे बढ़ने का वक्त आ गया है। अब एक नई शुरुआत करना चाहता हूं।’

Tue, 10 Mar 2020 12:23:33 (IST)
आपको बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपना इस्तीफा कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा भेजा है।

Tue, 10 Mar 2020 12:20:34 (IST)
इस्तीफे की औपचारिक घोषणा के बाद शाम को होने वाली बीजेपी सीईसी की बैठक से पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी में शामिल हो जाएंगे। (रिपोर्ट- पूनम पांडेय)

Tue, 10 Mar 2020 12:19:02 (IST)
गौरतलब है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आज ही पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी।

Tue, 10 Mar 2020 12:18:25 (IST)
आपको बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपना इस्तीफा कल यानी 9 मार्च को ही दे दिया था। बस आज उन्होंने अपने ट्विटर के जरिए औपचारिक तौर पर इसकी घोषणा की है।

Tue, 10 Mar 2020 12:13:44 (IST)
मध्य प्रदेश में कांग्रेस को बड़ा झटका, ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इस्तीफा दिया।

Tue, 10 Mar 2020 12:07:19 (IST)
इस बीच खबर आ रही है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया आज किसी भी वक्त कांग्रेस से इस्तीफा दे सकते हैं। सिंधिया के बाद 19 बागी विधायक भी अपना इस्तीफा दे देंगे। इस्तीफे के बाद सिंधिया बीजेपी में शामिल होंगे और कल भोपाल से राज्यसभा के लिए पर्चा भी भरेंगे। (टीवी रिपोर्ट)

Tue, 10 Mar 2020 12:01:49 (IST)
हमारे पास सबूत हैं कि तीन चार्टर्ड विमान (जो कथित तौर पर कांग्रेस के विधायकों को बेंगलुरु ले गए थे) की व्यवस्था बीजेपी ने की थी। यह मध्य प्रदेश के लोगों के जनादेश को उलटने की साजिश का हिस्सा है क्योंकि कमलनाथ जी ने माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई की हैः दिग्विजय सिंह, कांग्रेस नेता

ANI

@ANI
Congress leader Digvijaya Singh: We have evidence that three chartered plane (which reportedly flew Congress MLAs to Bengaluru) were arranged by the BJP. This is part of a conspiracy to reverse the mandate of people of Madhya Pradesh because Kamal Nath has acted against mafias.

मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ के आवास पर आपात बैठक। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह, जीतू पटवारी, बाला बच्चन, सज्जन सिंह वर्मा, सुरेंद्र सिंह बघेल और अन्य पहुंचे।

ANI

@ANI
Madhya Pradesh: Congress leaders Digvijaya Singh, Jitu Patwari, Bala Bachchan, Sajjan Singh Verma, Surendra Singh Baghel and others arrive at CM Kamal Nath’s residence in Bhopal

इस बीच सूत्रों के हवाले खबर आ रही है कि बीजेपी सीईसी की बैठक से पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी जॉइन कर लेंगे। उनको बीजेपी से राज्यसभा भेजा जाएगा। (रिपोर्ट- पूनम पांडेय)

Tue, 10 Mar 2020 11:49:19 (IST)
इस मुलाकात के बाद सिंधिया के बीजेपी जॉइन करने की अटकलें और तेज हो गई हैं।

Tue, 10 Mar 2020 11:49:11 (IST)
पीएम मोदी से मुलाकात के बाद बाहर निकले गृह मंत्री अमित शाह और ज्योतिरादित्य सिंधिया।

– पीएम मोदी से मुलाकात के बाद बाहर निकले गृह मंत्री अमित शाह और ज्योतिरादित्य सिंधिया। इस मुलाकात के बाद सिंधिया के बीजेपी जॉइन करने की अटकलें और तेज हो गई हैं। http://nbt.in/MadhyaPradeshCrisis … #MadhyaPradeshCrisis #JyotiradityaScindia

कमलनाथ के मंत्री जीतू पटवारी का इशारों-इशारों में सिंधिया पर हमला।

Jitu Patwari

@jitupatwari
एक इतिहास बना था 1857 में झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई की मौत से, फिर एक इतिहास बना था 1967 में संविद सरकार से और आज फिर एक इतिहास बन रहा है..।
– तीनों में यह कहा गया है कि हाँ हम है….


Tue, 10 Mar 2020 11:39:14 (IST)
कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने 10 जनपथ पर पहुंचे।

ANI

@ANI
Delhi: Congress General Secretary KC Venugopal arrives at 10 Janpath to meet party president Sonia Gandhi

Tue, 10 Mar 2020 11:34:25 (IST)
विजयाराजे से ज्योतिरादित्य तक: जानें ग्वालियर के सिंधिया परिवार का सियासी सफर

Tue, 10 Mar 2020 11:31:17 (IST)
कांग्रेस में जारी उठापटक के बीच मध्य प्रदेश में बीजेपी दफ्तर में भी हलचल तेज हो गई है। भोपाल में बीजेपी दफ्तर पर वरिष्ठ नेताओं की बैठक जारी है। इस बैठक में पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा भी मौजूद हैं।

Tue, 10 Mar 2020 11:26:51 (IST)
मध्य प्रदेश सरकार की अस्थिरता पर बीजेपी नेता नरोत्तम मिश्रा का दावा- मेरी राजनीतिक समझ के हिसाब से तो सरकार गई।

मध्य प्रदेश सरकार की अस्थिरता पर बीजेपी नेता नरोत्तम मिश्रा का दावा- मेरी राजनीतिक समझ के हिसाब से तो सरकार गई। … #MadhyaPradesh #JyotiradityaScindia

मध्य प्रदेश की सियासी उठापटक पर पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने फिर कहा- कांग्रेस का आंतरिक झगड़ा है, हमें क्या लेना देना।

LIVE: मध्य प्रदेश की सियासी उठापटक पर पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने फिर कहा- कांग्रेस का आंतरिक झगड़ा है, हमें क्या लेना देना।

पीएम मोदी से सिंधिया की मुलाकात के मद्देनजर भोपाल में कमलनाथ के आवास पर कांग्रेस नेताओं की आपात बैठक बुलाई गई है।

Tue, 10 Mar 2020 11:12:23 (IST)
इस बीच पीएम आवास पर मोदी, शाह और सिंधिया की बैठक जारी है।

Tue, 10 Mar 2020 11:12:07 (IST)
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ज्योतिरादित्य सिंधिया आज बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक ज्योतिरादित्य के कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद उन्हें बीजेपी से राज्यसभा भेजा सकता है और केंद्र में मंत्री भी बनाया जा सकता है।

Tue, 10 Mar 2020 10:55:34 (IST)
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आवास पहुंचे गृह मंत्री अमित शाह।


ANI

@ANI
Delhi: Union Home Minister Amit Shah arrives at Prime Minister Narendra Modi’s residence

हमारी पार्टी नेतृत्व के साथ बातचीत चल रही है। हमारी सरकार को कोई खतरा नहीं है, यह स्थिर है और यह अपना पूरा कार्यकाल पूरा करेगीः कांग्रेस नेता पीसी शर्मा

ANI

@ANI
Madhya Pradesh Congress leader PC Sharma on Jyotiraditya Scindia: Talks are on with our party’s leadership. There is no threat to our Govt,its stable and will complete its full term.

पीएम मोदी से मिलने पहुंचे ज्योतिरादित्य सिंधिया

मध्य प्रदेश में सियासी उठापटक का दौर जारी है। ज्योतिरादित्य सिंधिया की बगावत के बाद कमलनाथ सरकार पर खतरे के बादल मंडरा रहे हैं। सिंधिया के बीजेपी जॉइन करने की अटकलों के बीच ज्योतिरादित्य सिंधिया पीएम मोदी से मिलने पहुंचे हैं। पीएम मोदी के साथ सिंधिया की बैठक में गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद हैं।

Tue, 10 Mar 2020 10:40:16 (IST)
इस बीच ज्योतिरादित्या सिंधिया एक बार फिर पीएम मोदी से मिलने पहुंचे हैं। बैठक में अमित शाह भी मौजूद हैं। जानकारी के मुताबिक सिंधिया होटल से सिंधिया शाह के घर पहुंचे। इसके बाद दोनों पीएम मोदी से मिलने के लिए पहुंच गए।

Tue, 10 Mar 2020 10:39:14 (IST)
मध्य प्रदेश में मंगलवार को अचानक तेजी से बदले राजनीतिक घटनाक्रम में कमलनाथ सरकार पर संकट की अटकलों के बीच पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गृह मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता अमित शाह से मुलाकात की। सूत्रों ने बताया कि दोनों नेताओं के बीच यह बैठक करीब दो घंटे तक चली और समझा जाता है कि इस बैठक में मध्य प्रदेश के राजनीतिक घटनाक्रम पर चर्चा हुई। इससे पहले चौहान ने पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा से भी मुलाकात की। वहीं दूसरी ओर मध्य प्रदेश में विपक्षी भाजपा ने होली के दिन ही विधायक दल की महत्वपूर्ण बैठक बुलाई है। बैठक मंगलवार शाम छह बजे बुलाई गई बैठक में भाजपा ने अपने सभी 107 विधायकों को इसमें शामिल होने के लिए कहा है।

Tue, 10 Mar 2020 10:24:22 (IST)
कमलनाथ की नाक के नीचे ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कैसे हिला दी सरकार, समझिए पूरी क्रोनोलॉजी

मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार अपनों से ही घिर गई है। ज्योतिरादित्य सिंधिया के गुट की बगावत के चलते भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को मौका मिल गया है। कमलनाथ दिल्ली में सोनिया गांधी से भी मिल चुके हैं। दूसरी तरफ मौका देखकर शिवराज सिंह चौहान ने भी अमित शाह से मुलाकात की। सिंधिया कैंप के विधायक और मंत्री बेंगलुरु में हैं और कमलनाथ की सरकार अधर में लटकी हुई है। आइए एक नजर डालते हैं मध्य प्रदेश के पूरे पॉलिटिकल ड्रामे पर:-

Tue, 10 Mar 2020 10:21:17 (IST)
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस से नाराज चल रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की है। इस मुलाकात के बाद अब तय माना जा रहा है कि सिंधिया भाजपा सरकार को समर्थन देने जा रहे हैं या फिर भाजपा में शामिल हो रहे हैं। भाजपा सूत्रों ने बताया है कि सिंधिया भोपाल में भाजपा की बैठक में भी शामिल हो सकते हैं। सरकार और पार्टी में उनकी और उनके समर्थक विधायकों की क्या भूमिका होगी, यह तय कर लिया गया है। सूत्रों ने बताया है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी में शामिल भी किया जा सकता है।

Tue, 10 Mar 2020 10:21:10 (IST)
भाजपा इस बात को लेकर आश्वस्त है कि अगले दो-तीन दोनों में कमलनाथ सरकार अल्पमत में आ जाएगी। माना जा रहा है कि कांग्रेस के बागी विधायक विधानसभा अध्यक्ष को अपने इस्तीफे भेज सकते हैं। ऐसे विधायकों की संख्या 20 हो सकती है। यानी अगर ऐसा होता है तो कमलनाथ सरकार अल्पमत में आ जाएगी और इसके बाद शिवराज सिंह चौहान सरकार बनाने का दावा पेश कर सकते हैं। माना जा रहा है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को राज्यसभा भेजे जाने के साथ ही उनके कुछ समर्थक विधायकों को मंत्री पद भी दिया जा सकता है।

Tue, 10 Mar 2020 10:21:02 (IST)
मध्य प्रदेश में 230 विधानसभा सीटें हैं। कांग्रेस के पास 114 विधायक हैं, जबकि सरकार बनाने का जादुई आंकड़ा 115 है। कांग्रेस को चार निर्दलीय, दो बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और एक समाजवादी पार्टी (सपा) के विधायक का समर्थन हासिल है। इस तरह कांग्रेस के पास कुल 121 विधायकों का समर्थन है। वहीं भाजपा के पास 107 विधायक हैं।

Tue, 10 Mar 2020 10:09:33 (IST)
आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में जारी सियासी घमासान के बीच ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी जॉइन करने की भी खबरें चल रही हैं। बीजेपी नेता नरोत्तम मिश्रा ने कहा भी है कि अगर सिंधिया बीजेपी जॉइन करते हैं तो उनका स्वागत है, सिंधिया जी बहुत बड़े नेता हैं।

Tue, 10 Mar 2020 10:08:18 (IST)
दिल्ली में अपने आवास से बाहर निकले ज्योतिरादित्य सिंधिया।

ANI

@ANI
Delhi: Jyotiraditya Scindia leaves from his residence


मध्‍य प्रदेश में नाराज ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया को मनाने के लिए कांग्रेस ने दिलाई माधवराव सिंधिया की याद

मध्‍य प्रदेश में कमलनाथ सरकार को बचाने के लिए सभी अस्‍त्र फेल होता देख कांग्रेस पार्टी ने ‘ब्रह्मास्‍त्र’ चलाया है। कांग्रेस ने बगावती तेवर दिख रहे अपने नेता ज्‍योतिरादित्‍य को मनाने के लिए उन्‍हें उनके पिता माधवराव सिंधिया की याद दिलाई है। माधवराव सिंधिया की जयंती पर कांग्रेस पार्टी ने कहा कि उनकी कांग्रेस की प्रतिबद्धता भारतीय राजनीति का मील का पत्‍थर है। मध्‍य प्रदेश कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा, ‘कैलाशवासी, पूर्व केन्द्रीय मंत्री माधवराव सिन्धिया की जयंती पर शत् शत् नमन..! परमश्रद्धेय सिंधिया की वैचारिक उच्चता, राजनैतिक विद्वता, सर्वोच्च नैतिकता एवं कांग्रेस के लिए प्रतिबद्धता आज भी भारतीय राजनीति के मील के पत्थर हैं और सदा रहेंगे। शत् शत् नमन।’

Tue, 10 Mar 2020 10:01:06 (IST)
बीजेपी जॉइन करके दादी विजयराजे सिंधिया का सपना पूरा करेंगे ज्योतिरादित्य सिंधिया?

Tue, 10 Mar 2020 09:17:48 (IST)
पिता को श्रद्धांजलि के बहाने सिंधिया को मनाने का एक और दांव

MP Congress

@INCMP
कैलाशवासी, पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्रीमंत माधवराव सिन्धिया जी की जयंती पर शत् शत् नमन..!

—परमश्रद्धेय सिंधिया जी की वैचारिक उच्चता, राजनैतिक विद्वता, सर्वोच्च नैतिकता एवं कांग्रेस के लिये प्रतिबद्धता आज भी भारतीय राजनीति के मील के पत्थर हैं, और सदा रहेंगे।

“शत् शत् नमन”

ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में शामिल होने की अटकलें तेज हैं। बताया जा रहा है कि बीजेपी उन्हें मध्य प्रदेश में कमल खिलाने के बदले राज्य सभा का उम्मीदवार बना सकती है। बीजेपी के सूत्रों के मुताबिक सिंधिया की मुलाकात मोदी और शाह से हो चुकी है। बताया जा रहा है कि कल वह शाह और उसके बाद मोदी से मिले थे।

Tue, 10 Mar 2020 08:31:54 (IST)
ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में शामिल होने के सवाल पर नरोत्तम मिश्रा ने कहा- ‘बीजेपी में सभी का दिल से स्वागत है। हम जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं को भी अपने साथ रखते हैं, सिंधिया जी बहुत बड़े नेता हैं, उनका निश्चित रूप से स्वागत है।’

ANI

@ANI
BJP leader Narottam Mishra on being asked if BJP will welcome Congress leader Jyotiraditya Scindia into the party: Everyone is heartily welcome in Bharatiya Janata Party. We induct even grassroot-level workers, Scindia ji is a very big leader, he is definitely welcome. 

ANI

@ANI
BJP leader Narottam Mishra on ‘a group of Madhya Pradesh Congress MLAs lodged in Bengaluru’: Dushmano ke teer kha kar doston ke shahar mein, unko kis-kis ne mara ye kahani phir kabhi.

मध्य प्रदेश कांग्रेस विधायकों के एक ग्रुप के बेंगलुरु में होने की बात पर बीजेपी नेता नरोत्तम मिश्रा ने शायराना अंदाज में कहा- ‘दुश्मनों के तीर खाकर दोस्तों के शहर में, उनको किस-किस ने मारा ये कहानी फिर कभी।’

ANI

@ANI
BJP leader Narottam Mishra on ‘a group of Madhya Pradesh Congress MLAs lodged in Bengaluru’: Dushmano ke teer kha kar doston ke shahar mein, unko kis-kis ne mara ye kahani phir kabhi.

हमने पहले दिन ही कहा था कि हमें सरकार को गिराने में कोई दिलचस्पी नहीं है।

Tue, 10 Mar 2020 08:27:50 (IST)
कांग्रेस में मचे घमासान पर पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि यह कांग्रेस का अंदरूनी मामला है, मैं इस पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता।

ANI

@ANI
Shivraj Singh Chouhan, former #MadhyaPradesh CM: This is Congress’ internal matter and I would not like to comment on it. We had said on the first day that we are not interested in bringing down the government.

इसके अलावा दिग्विजय सिंह ने कहा- जो सही कांग्रेसी है वो कांग्रेस में ही रहेगा।


ANI

@ANI
Digvijaya Singh, Congress: Jo sahi Congressi hain woh Congress mein rahega. #MadhyaPradesh 

ANI

@ANI
Digvijaya Singh, Congress: We tried to contact Scindia Ji (Jyotiraditya Scindia) but it is being told that he is suffering from swine flu, so haven’t been able to speak to him. #MadhyaPradesh

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा- ‘हमने सिंधिया जी (ज्योतिरादित्य सिंधिया) से संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन कहा जा रहा है कि वह स्वाइन फ्लू से पीड़ित हैं, इसलिए उनसे बात नहीं हो पाई।’

ANI

@ANI
Digvijaya Singh, Congress: We tried to contact Scindia Ji (Jyotiraditya Scindia) but it is being told that he is suffering from swine flu, so haven’t been able to speak to him. #MadhyaPradesh

फिलहाल कांग्रेस की तरफ से ज्योतिरादित्य सिंधिया को मनाने की कोशिशें जारी हैं।

Tue, 10 Mar 2020 08:25:10 (IST)
कांग्रेस के कद्दावर नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया की बगावत से मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार खतरे में है।

Tue, 10 Mar 2020 08:23:54 (IST)
नमस्ते, नवभारत टाइम्स के लाइव ब्लॉग में आपका स्वागत है। अपने इस लाइव ब्लॉग में हम आपके लिए मध्य प्रदेश की सियासी उठापटक से जुड़ा हर अपडेट लेकर आए हैं। तो बने रहिए हमारे साथ…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *