इतिहास

#IqbalDay : इक़बाल का फ़्रांस की मस्जिद की इफ़्तेताह का इंकार

Syed Faizan Siddiqui
==============
#IqbalDay

इक़बाल का फ़्रांस की मस्जिद की इफ़्तेताह का इंकार

1924 ईस्वी में खिलाफत उस्मानिया का खात्मा हुआ, 1925 ईसवी में फ्रांस ने दमिश्क पर बमबारी की । आलम ए इस्लाम के बहुत सी शख्सियतों ने इस बमबारी की हिमायत की, जैसा कि मौजूदा ज़माने में कई लोगों ने दहशत गर्दी के खिलाफ जंग के नाम पर इस्लाम के खिलाफ सलीबी जंग की हिमायत की ।

इनमें से एक पेरिस की मस्जिद का इमाम भी था, याद रहे कि यही वही मस्जिद है जिसके इफ्तताह के लिए फ्रांस ने शायर ए मशरिक डॉक्टर अल्लामा मोहम्मद इक़बाल को दावत दी थी,और अल्लामा इक़बाल ने यह कहकर उस दावत को रद्द कर दिया था कि यह दमिश्क को जलाने और तबाह करने की बहुत कम कीमत है! शायर ए मशरीक अल्लामा मोहम्मद इक़बाल की तरफ से इस मस्जिद के इफ्तताह से इनकार की बहुत से इतिहासकारों ने तारीफ की है, क्योंकि 1925 की बमबारी में दमिश्क तबाह हुआ और हजारों लोग मारे गए थे!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *