उत्तर प्रदेश राज्य

कांग्रेस कार्यकर्ताओं के नाम प्रियंका गांधी का संदेश : यूपी सरकार श्रमिकों के लिए काम करने वालों को जेल में डाल रही है!

उत्तर प्रदेश में प्रवासी मजदूरों के लिए बस पर छिड़ी सियासत के बीच कांग्रेस महासचिव की एक चिट्ठी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के नाम सामने आई है। प्रियंका गांधी ने अपनी इस चिट्ठी में यूपी की योगी सरकार पर बसों को लेकर तंज कसा है, साथ ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं से दोपहर 1 बजे फेसबुक लाइव के जरिये आवाज उठाने की भी अपील की है।

साथियों, आपने देखा योगी सरकार का कोरोना महामारी से लड़ने का तरीका! कांग्रेस पार्टी ने प्रवासी श्रमिकों के लिए बसों का इंतजाम किया तो योगी सरकार ने उप्र कांग्रेस के अध्यक्ष को फर्जी मुकदमे लगाकर जेल भेज दिया गया।

कोरोना आपदा काल में पूरा देश एकजुट होकर महामारी से लड़ रहा है मगर यूपी सरकार श्रमिकों के लिए बस, ट्रेन टिकट, खाने और राशन का इंतजाम करने वालों को जेल में डाल रही है।

कल राजीव गांधी जी का 30वां शहादत दिवस है। राजीव जी ने देश के लिए अपनी जान दी। वे हिंदुस्तान और इसके वासियों से बेइंतहा प्यार करते थे। गरीबों का दर्द उनसे देखा नहीं जाता था। हम सब उनकी सोच के वारिस हैं। हमने राजीव जी से सीखा है कमजोरों की मदद करना। हमें कोई नहीं डरा सकता।

राजीव जी की याद करते हुए आज, 21 मई 2020, दोपहर 1 बजे से हमारे उप्र कांग्रेस के 50,000 हजार कार्यकर्ता फेसबुक लाइव के माध्यम से श्रमिकों की आवाज उठाएंगे और राज्य दमन का विरोध करेंगे। ये राजीव जी को एक सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

पूरी कांग्रेस पार्टी, समस्त अग्रिम संगठन व विभाग और सेल, फोरम इत्यादि व हमारा एक एक कार्यकर्ता पूरी ताकत से श्रमिकों की आवाज उठाएंगे और राज्य दमन का प्रतिरोध करेंगे। समस्त पीसीसी पदाधिकारियों, समस्त जिला व शहर अध्यक्षों, फ्रंटल, विभागों, सेल के अध्यक्ष/इंचार्ज को पूरी शिद्दत से इसकी तैयारी में लग जाना है और दोपहर 12 बजे तक पीसीसी कार्यालय व सोशल मीडिया विभाग को जिले के भागीदारों की सूची लिखित या फोन से उपलब्ध करा देनी है। हम सबको मिलकर इस सफल बनाना है। जय हिन्द

UP Congress
@INCUttarPradesh
उप्र कांग्रेस अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू जी और श्री संदीप सिंह के ख़िलाफ कोरोना महामारी के दौर में फिज़ूल के आरोपों के आधार पर FIR दर्ज करके और श्री अजय कुमार लल्लू जी को गिरफ़्तार करके उप्र सरकार ने अपनी नीयत पूरी तरह से प्रकट कर दी है। इस तरह की राजनीति निंदनीय है।

Priyanka Gandhi Vadra
@priyankagandhi
श्रमिक भाई – बहनों के लिए ये संकट का समय है। इस समय संवेदना साथ उनकी मदद करना ही हम सबका उद्देश्य है।

आपको बता दें उत्तर प्रदेश में बीजेपी और कांग्रेस में सियासत का दौर जारी है। मजदूरों के लिए बसों को लेकर शुरू हुई दोनों पार्टियों के बीच राजनीति थमने का नाम नहीं ले रहा है। इन सबके बीच यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को बस विवाद में जमानत मिलने के बाद फिर गिरफ्तार कर लिया गया है। देर रात लखनऊ में न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने पेशी के बाद लल्लू 14 दिन के लिए जेल भेजे गए हैं।

गौरतलब है कि कांग्रेस द्वारा प्रवासी कामगारों के लिए राजस्थान-उत्तर प्रदेश सीमा पर भेजी गयी सैकड़ों बसें बुधवार शाम से लौट गयी। इसी मुद्दे को लेकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष की गिरफ्तारी भी हुयी। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने एक वीडियो संदेश में कहा था कि अगर उत्तर प्रदेश सरकार फंसे हुए प्रवासी कामगारों की घर वापसी के लिए मदद का उपयोग नहीं करना चाहती तो पार्टी उन 1,000 बसों को वापस ले रही है जिनकी व्यवस्था उसने की थी। साथ उन्होंने कहा कि बसें शाम चार बजे तक उत्तर प्रदेश की सीमा पर रहेंगी। उस समय तक बसों को आए हुए 24 घंटे हो जाएंगे। कांग्रेस नेता ने कहा कि ‘यदि आप उनका उपयोग नहीं करना चाहते हैं, तो कोई बात नहीं है। हम उन्हें वापस भेज देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *