कश्मीर राज्य

कश्मीर : भारतीय सैनिक ने कश्मीरी नौजवान को ट्रक से कुचल दिया : त्राल एनकाउंटर का LIVE वीडियो देखें!

 

भारत प्रशासित कश्मीर में भारतीय फ़ौजी ने एक कश्मीरी लड़के को ट्रक से कुचला जिससे उसकी मौत हो गयी।

तस्नीम न्यूज़ के मुताबिक़, शनिवार को कश्मीर के कुपवारा में भारतीय सैनिक ने एक कश्मीरी नौजवान को ट्रक से कुचल दिया। वह गंभीर रूप से घायल हुआ था। उसे अस्पताल पहुंचाया गया, जहाँ उसकी मौत हौ गयी। मारे गए कश्मीरी लड़के की पहचान फ़रहान अहमद बतायी गयी है जो 12 साल का था। उसे

इस हत्या की ख़बर फैलते ही कश्मीर के बहुत से शहरों में जनता ने प्रदर्शन कर, भारतीय सैनिकों के कश्मीर से तुरंत निकलने की मांग दोहराई। इन प्रदर्शनों के बाद, सरकार ने मोबाइल और इंटरनेट सेवा बंद कर दी।

ग़ौरतलब है कि अमरीका में राष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडेन ने भारत से मांग की है कि वह कश्मीरी नागिरकों के सभी अधिकार बहाल करे।

जो बाइडेन का कहना है कि भारत को सभी कश्मीरियों के अधिकारों को बहाल करने के लिए आवश्यक क़दम उठाने चाहिए। उन्होंने असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) लागू करने के साथ ही नागरिकता संशोधन क़ानून (सीएए) को लेकर निराशा भी जताई। जो बाइडेन की प्रचार अभियान वेबसाइट पर हाल ही में उनके नीति पत्र ‘जो बाइडेन एजेंडा फ़ार मुस्लिम अमेरिकन कम्युनिटी’ में बताया गया कि भारत में बहुजातीय और बहु धार्मिक लोकतंत्र बनाए रखने और धर्मनिरपेक्षता की पुरानी परंपरा को सुरक्षित रखने के लिए इस तरह के क़दमों से दूरी ज़रूरी है।

कश्मीरी जनता, कश्मीर की स्थिति के निर्धारण के लिए इस क्षेत्र के बारे में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के रेफ़्रेन्डम कराने के प्रस्ताव को लागू कराना चाहती है, लेकिन भारत सरकार इसका विरोध करती है।

न्यूज़ सोर्स : पारस टुडे हिंदी

 

 

The Voice Of Liberty
@VOLFdotTV
#WATCH : A six-year-old boy caught in the crossfire has been killed near Bijbehara in Kashmir.

The boy and a soldier were hit by militants’ bullets during the exchange of fire and both later died in hospital.

#BREAKING #Kashmir #Bijbehara #Anantnag #Encounter #JammuAndKashmir


K-Stag
@4thCornerOfHevn
·Jun 26
#Kashmir
The headline on arnab’s #republic reads Terrorists killed 6 year old child in Bijbehara, Islamabad encounter.
Yes, indubitably we believe in your headline without any modicum of disbelieve.
May Allah’s ire be upon terrorists and the nation that equips them.


HK🕊
@S_Wani0
Jun 26
pics of Brothers Martyr in Tral EncounterBroken heart
#May Allah accept ur shahdhat
#Tral
#kashmir

 

Feroz Lone
@lone_feroz
Jun 26
#BreakingNews

After today’s Encounter no presence of HM militants in #Tral area. It has happened for first time since 1989: IGP Kashmir Zone

 

Mother of Tawseef Ahmed Sheikh, Slain Militant of Hizb ul Arrested During a Raid in South Kashmir’s Kulgam District

 

The family of Tawseef Ahmed Sheikh, a slain Militant of Hizb ul Mujahideen has alleged that the mother of the slain Militant has been arrested from her residence in Rampora area of Redwani in South Kashmir’s Kulgam District.

Speaking to The Kashmiriyat a family member alleged that Naseema Akhtar wife of Abdul Salam Sheikh was arrested during a raid at her house in the Rampora area in Kulgam district on Wednesday afternoon.

She was detained by the Police during a cordon and search operation,”The Police were looking for her daughter also.” The family of the Militant alleged that she was forcibly picked up from her house by Government Forces.

A Police official upon being contacted by The Kashmiriyat confirmed the arrest and said she has been detained in connection with a case registered against her. “we also recovered some anti National posters from her possession during the search operation.”

He said that her daughter (name withheld) is also accused in an FIR, but she is still absconding, adding that she is lodged in the women’s cell at a Police Station.

The Locals in the area condemned the arrest and demanded her immediate release alleging that the Male Police arrested her.

Tawseef Ahmed Sheikh was killed in the same encounter in which Professor Mohammed Rafi Bhat was killed on May 06, 2018.

all pic source : twitter, fb

डिस्क्लेमर : इस आलेख/post/twites में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. लेख सोशल मीडिया फेसबुक पर वायरल है, इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति तीसरी जंग हिंदी उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार तीसरी जंग हिंदी के नहीं हैं, तथा तीसरी जंग हिंदी उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *