दुनिया

तुर्की ने तुर्की में मौजूद अमरीकी युद्धक विमानों पर एस-400 मीज़ाइल सिस्टम का सफ़ल परीक्षण किया!

मीडिया ने रहस्योद्धाटन किया है कि तुर्क सरकार ने रूस के एस-400 मीज़ाइल सिस्टम को ख़रीदने के बाद तुर्की के केन्द्र में अमरीकी युद्धक विमानों पर इसका परीक्षण किया।

तुर्की के रक्षामंत्रालय ने हाल ही में रूस के एस-400 मीज़ाइल सिस्टम का अमरीकी युद्धक विमानों पर परीक्षण किया।

समाचार पत्र Fighter Jets World ने मंगलवार को अपनी रिपोर्ट में लिखा कि तुर्की ने अंकारा के पास एकीन्जी एयरबेस में अमरीका के एफ़-16 और एफ़-4 फ़ैन्टम विमानों पर इस मीज़ाइल सिस्टम का परीक्षण किया।

मीडिया का कहना है कि विमानों के रडार सिस्टम ने बहुत तेज़ी से उक्त एयरबेस के आसपास पता लगाया और तुर्की का यह परीक्षण 24 नवम्बर तक जारी रहा।

अभी तक तुर्क सेना ने इस परीक्षण के परिणामों की घोषणा नहीं की है।

ज्ञात रहे कि वर्ष 2017 में तुर्की और रूस के बीच एस-400 मीज़ाइल सिस्टम ख़रीदने पर सहमति हुई थी और इस सौदे के बाद अमरीका ने एफ़-35 युद्धक विमानों के उत्पादन की प्रक्रिया से अंकारा को निकाल दिया दिया और तुर्की को 100 एफ़-35 विमान देने से मना कर दिया।

अब कुछ मीडिया चैनल यह दावा कर रहे हैं कि तुर्की को सुझाव दिया था कि रूस के एस-400 मीज़ाइल सिस्टम की टेक्नालाजी हासिल करने के लिए तुर्की से अप्रत्यक्ष रूप से यह सिस्टम ख़रीद ले।

रूसी अधिकारियों ने इस ख़बर पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा था कि तुर्की ने एस-400 मीज़ाइल सिस्टम के समझौते पर हस्ताक्षर किया है कि यह सिस्टम किसी तीसरे देश को नहीं दिया जाएगा और न ही किसी तीसरे देश में लगाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *