विशेष

स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती ने कहा, बिना महूर्त के अयोध्या में राम मंदिर नहीं संघ का कार्यालय बन रहा है : वीडियो

Sudhanshu Shekhar
===========
वाह रे सरकार…
जहाँ कोरोना जैसी महामारी के दौरान अस्पतालों की कमी है वहीं BJP ने आज झारखंड में अपने 8 नये कार्यालयों का उद्घाटन किया है।
इस सरकार को आम लोगों से कोई वास्ता नहीं है? ये खुद के विकास केलिए काम कर रही है? शायद यही कारण है कि कोरोना के 15 लाख मामले होने को आये हैं…

मनीषा श्री
==========
गोरखपुर में एक 14 साल के लड़के का अपहरण कर पिता को फोन किया जाता है और एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगी जाती है उसके बाद दूसरी बार जब अपराधी बच्चे के पिता को फोन करता है तो बात नहीं हो पाती है और बात न होने के कारण पांचवीं कक्षा में पढ़ने वाले 14 साल के बच्चे (बलराम) की निर्मम हत्या कर दी जाती है .
अपराधी अपराध करने के पहले सोचता नहीं है डरता नहीं है क्योंकि डर खत्म हो चुका है उसे पता होता है कि आगे सब ठीक हो जाएगा इसलिए इसतरह के जघन्य अपराध करते हुए हाथ उसके कांपते नहीं हैं. पुलिस अधिकारी और अपराधी की जबरदस्त साँठ-गाँठ के बिना अपराध को धडल्ले से अंजाम तक पहुंचाना नामुमकिन है.उत्तरप्रदेश में बढ़ते अपराध कहीं न कहीं सरकार को कठघरे में खड़ा करता है ,आये दिन बढ़ते अपराध पर लगाम कबतक?
उसपर से जब बीजेपी प्रवक्ता मैडम अनिला सिंह अपनी बकवास में यह कहती है कि उत्तरप्रदेश में अपराध का आंकड़ा कम है तो मन करता है उसको कह दूं कि हो सके तो थोड़ी सी इंसानियत की सीख ले ले ताकि आने वाली पीढ़ी कुछ सम्भल जाए.

कुँवर प्रताप सिंह
==========
कानपुर में बिना मास्क के घूम रहे बकरे को योगी पुलिस ने किया गिरफ्तार#
ये खबर सुनने के बाद बकरा समुदाय में डर का माहौल
फिर बकरों में मची मास्क खरीदने की होड़
कुछ सूत्रों से पता चला है कि अब बकरे कागज ढूंढेंगे क्या पता कल अमित शाह कागज मांग दे
#रवीश_कुमार😂😂😂


Rahul Vikas
===========
हर घर नल जल योजना का हाल – नीचे तस्वीरों में बानगी है- कमोबेश हर जगह यही हालात हैं | ठेकेदारों ने औने पौने बोरिंग धसायी | रास्ता काटा | सड़कें तोड़ीं -गढ़्ढ़े खोदे | दस फीट चौड़ी सड़कों को सात फीट का बना दिया | कहीं कहीं पुरी सड़क ही तोड़ दी| मरम्मति करने के बजाय हल्की फुल्की मिट्टी डाली| सड़क का कबाड़ा किया| प्लास्टिक के कामचलाउ चाइनीज पाइप और होल्डर लगाये |ठेकेदारों को बस मिट्टी में पाइप दाबकर अपना योजना पूर्ण दिखाना था | बिल बनाया | चलते बने | सड़कें जिसे बनबाने में ग्रामीणों के पसीने छूटे टूटी सड़कों में तब्दील हो गये नल जल के नाम पर | नल में कितना जल आयेगा- कितने दिनों तक आयेगा- सब जान रहे | लेकिन सड़क पर निकलते ही हाथ पैर मूंह टूटने का भरपूर इंतजाम हो चुका है | कम से कम बेगूसराय के जितने गांवों प्रखंडों में गया – हालात यही हैं | निवासी हलकान हो रहे | एक योजना के नाम पर दूसरे निर्माण और सरकारी असेट्स को क्षति पहुंचाना कहां तक उचित है? इस मसले पर कार्यपालक अभियंताओं और प्रशासनिक पदाधिकारियों को अविलंब संज्ञान लेनी चाहिए |
#हर_गांव_मूंह_पैर_हाथ_तोड़_योजना


Shokat Ali
===========
जब मैं कहता हूं कि बिरयानी ही कोरोना का रामबाण ईलाज है तो कोई मानता ही नहीं है, अब डॉ शर्मा जी से मिलिये

syed asim waqar
@syedasimwaqar
·Jul 25

सनातनी हिन्दुओ के सबसे बड़े ” आदि शंकराचार्य “
स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के उत्तराधिकारी
स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती को ज़रूर सुनिये

Amit Singh परिहार
@AmitSinghPariha
·
ul 24
जगत गुरु शंकराचार्य ने मंदिर निर्माण के मुहूर्त पर सवॉल खड़े कर दिए तो

सारे मोदी भक्त शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती जी को गलियां देने लगे हैं।

इन संघियों का सनातन धर्म से कोई लेना देना नहीं …… इनका हिंदुत्व राजनैतिक महत्वाकांक्षा और मोदी भक्ति का है।

#𝕰𝖑𝖎𝖙𝖊_𝕭𝖑𝖔𝖈𝖐𝖊𝖉_𝕭𝖆𝖇𝖆
@BabaBlocked
Jul 24
बड़ी विड़बना जो मोदी के पक्ष में नहीं उसको गाली दी जाएगी जैसे अब संघी शंकराचार्य को दे रहे है

IANS Hindi
@IANSKhabar
Jul 23
ज्योतिषपीठाधीश्वर और द्वारका शारदापीठाधीश्वर जगद्गुरू शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने राम मंदिर की आधारशिला रखने के लिए 5 अगस्त के ‘मुहूर्त’ पर सवाल उठाया है। #RamMandir

डिस्क्लेमर : इस आलेख/post/twites में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. लेख सोशल मीडिया फेसबुक पर वायरल है, इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति तीसरी जंग हिंदी उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार तीसरी जंग हिंदी के नहीं हैं, तथा तीसरी जंग हिंदी उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *