बिहार राज्य

पटना : प्रसिद्ध सूफ़ी संत मखदूम याह्या मनेरी की दरगाह

Asif Hussain
=====
दुबई और इस्तांबुल जैसे मेगापोलिस सिर्फ़ ऐसी इमारतों के टुरिज़म से विश्व के केंद्र बने हुए हैं। लेकिन बिहार की टुरिज़म इंडस्ट्री पर दशकों से लॉकडाउन है, वर्तमान लॉकडाउन ने बस उसकी और दुर्दशा कर दी है।

बिहार में आप किसी भी धरोहर वाली साइट पर जाइए, आपको पीने का पानी भी न मिलने की गारंटी है, बाक़ी सुविधाएँ और रोज़गार सृजन तो इनके विज़न में ही नहीं हैं। पटना का मनेर सिर्फ़ पवित्र नदियों के संगम और प्रसिद्ध सूफ़ी संत मखदूम याह्या मनेरी के दरगाह के हेरिटेज डेवलपमेंट से एक बड़े टुरिज़म ईकोनॉमी का केंद्र और हज़ारों रोज़गार का साधन बन सकता है, बस नीयत और विज़न चाहिए।

नये बिहार का भविष्य पुरानी विरासतों को युवा वर्तमान से जोड़ने से ही बनेगा ताकि लोगों की जेब भारी हो, दिल नहीं!
Via P P Chaudhry

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *