उत्तर प्रदेश राज्य

आज़मगढ़, वाराणसी और विंध्य मंडल के विभिन्न ज़िलों में मंगलवार को बिजली गिरने से 18 लोगों की मौत

आजमगढ़, वाराणसी और विंध्य मंडल के विभिन्न जिलों में मंगलवार को बिजली गिरने से 18 लोगों की मौत हो गई। इनमें गाजीपुर में पांंच सोनभद्र और बलिया में चार-चार, जौनपुर में दो तथा चंदौली में एक व वाराणसी में दो की जान गई है। वाराणसी में मौसम ने भारी नुकसान पहुंचाया। कपसेठी क्षेत्र के लखनसेनपुर गांव में बिजली गिरने से गर्भवती महिला की मौत हो गई और उसकी सास झुलस गई। वहीं, रोहनिया क्षेत्र के बैरवन गांव में खेत में काम कर रहे महेश पटेल (28) की भी बिजली गिरने से मौत हो गई। पुलिस ने दोनों के शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे। इसी गांव में एक महिला झुलस गई और एक व्यक्ति के घर की दीवार फट गई। 

बलिया में गड़वार कुरेजी बलुआ गांव में  मंगरु (5) और निशू (4), उभाव के बाराडीह गांव निवासी किन्नू राजभर (28) और बैरिया के इब्राहिमाबाद नौबरार पंचायत में आशीष कुमार चौधरी (18) की मौत हो गई। सोनभद्र में जुगैल के गाय घाट गांव में तनगुड़ (50),  घोरावल क्षेत्र के नौडिहा निवासी विकास (28), जांगर के देवेंद्र (25), पिडरिया गांव के नाथूराम पाल (60) की मौत हो गई।

गाजीपुर में सैदपुर के खांवपुर चितौरा गांव में भैरो सिंह यादव (48), निजामपुर गांव में मनीषा यादव (18), सादात के मौधिया गांव निवासी आजाद राजभर (20), दुल्लहपुर के जफरपुर गांव में प्रदीप राम (22) और करीमुद्दीनपुर थाना क्षेत्र के गोविंदपुर गांव में मंजीत राजभर (25) की मौत हो गई।

जौनपुर में बदलापुर के गिरधरपुर गांव निवासी दिनेश कुमार यादव (55), सिकरारा के सेमरी गांव निवासी पांडा प्रजापति (24) की मौत हो गई। चंदौली में सदर कोतवाली के जगदीश सराय हिनौता गांव में अर्जुन प्रसाद (15), वाराणसी के रोहनिया में महेश (28) की मौत हो गई।

धान के खेत से घास निकालते समय बहू की मौत सास झुलसी

वाराणसी के कपसेठी थाना के लखनसेनपुर गांव की सुरसती देवी (60) और उनकी बहू सरिता उर्फ संजू पटेल (32) अपने मकान के समीप धान के खेत से घास निकाल रही थी। उसी समय बिजली गिरी। मौके पर पहुंची पुलिस ने सुरसती को सेवापुरी स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। सरिता के पति शंकर पटेल ने बताया कि वह एक बच्चे की मां थी और इस समय गर्भवती थी। घटना की जानकारी ग्राम प्रधान राजाराम ने उपजिलाधिकारी को दी है। 

वहीं, बैरवन निवासी महेश पटेल अपनी पत्नी इंद्रा देवी और मां के साथ गेंदा के फूल के पौधों पर मिट्टी डाल रहा थे। बिजली चमकी तो तीनों पास ही स्थित मड़ई में चले गए। कुछ देर बाद महेश खेत से फावड़ा लाने गया, तभी उस पर बिजली गिरी। परिजन उसे निजी अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

महेश की मौत के बाद पिता रघुवर पटेल, मां नवरंगी देवी और पत्नी इंद्रा देवी का रो-रोकर बुरा हाल था। परिजनों ने बताया कि महेश की दो साल की एक बेटी है। बैरवन गांव में ही महेंद्र पटेल की पत्नी सलमा देवी (35) खेत से घर जा रही थी। बिजली की चपेट में आकर सलमा झुलस गई। परिजनों ने उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया हैं। इसी गांव के रामकिशुन पटेल के मकान पर बिजली गिरने से दीवार फट गई। 

 
पेड़ गिरने से वाराणसी-भदोही मार्ग पर घंटों आवागमन रहा बाधित
वाराणसी के जंसा थाना के परमंदापुर (कुरौना) बाजार के पास वाराणसी-भदोही मार्ग पर नीम का पेड़ गिरने से बाइक सवार बाबूलाल (34) घायल हो गया। साथ ही घंटों आवागमन बाधित रहा। पुलिस ने स्थानीय लोगों के प्रयास से पेड़ किनारे कराया, तब आवागमन शुरू हुआ। पेड़ गिरने से बिजली का एक खंभा भी टूटकर गिर पड़ा।

संयोग अच्छा था कि जिस समय खंभा गिरा उस दौरान विद्युत आपूर्ति ठप थी। वहीं, बीरमपुर गांव में बिजली गिरने से मोहन सिंह के मकान के पास लगी सोलर लाइट की बैटरी ध्वस्त हो गई। वहीं, मिर्जामुराद थाना अंतर्गत छतेरी गांव में बिजली गिरने से सुरेश तिवारी के छत की ईंट उखड़ गई। साथ ही घर में विद्युत आपूर्ति से संबंधित तार जल गए। 14 वर्षीय सर्वेश तिवारी मामूली झुलस गया। 16 वर्षीय निशा तिवारी बेहोश हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *