दुनिया

इमरान ख़ान ने कहा, नई दिल्ली दुनिया की रेप राजधानी है और ऐसा बॉलीवुड की फ़िल्मों में अश्लीलता के कारण है!

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कहा है कि भारत की राजधानी नई दिल्ली दुनिया की रेप राजधानी बन गई है और ऐसा बॉलीवुड की फ़िल्मों में अश्लीलता के कारण हुआ है.

सोमवार को पाकिस्तान में एक निजी न्यूज़ चैनल को दिए इंटरव्यू में पाकिस्तानी पीएम से कराची में हाइवे पर हुए एक गैंग रेप को लेकर सवाल पूछा गया था.

इस गैंग रेप को लेकर पाकिस्तान में बहुत नाराज़गी है और इसे लेकर प्रदर्शन भी हुए हैं.

इमरान ख़ान ने इस इंटरव्यू में कहा, “दुनिया का इतिहास हमें बताता है कि जब समाज में बेहूदगी बढ़ती है तो दो चीज़ें प्रमुख रूप से होती हैं. सेक्स क्राइम बढ़ता है और परिवार की मर्यादा टूटती है. सेक्स क्राइम केवल क़ानून से नहीं रुकेगा. इसके लिए समाज को भी प्रतिबद्ध होना होगा तभी यौन अपराध रोके जा सकते हैं. पश्चिम की तुलना में हमारी पारिवारिक व्यवस्था दुरुस्त है. यह हमारे लिए सबसे अच्छी बात है. हम न्यायिक व्यवस्था दुरुस्त कर सकते हैं लेकिन परिवार टूट जाएगा तो इसे फिर से जोड़ना आसान नहीं होगा.”

प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कहा कि फ़िल्मों का असर समाज पर पड़ता है और लोग इसके हिसाब से व्यवहार करते हैं.

तुर्की के टीवी ड्रामे की तरफ़ रुख़

इमरान ख़ान ने कहा, “बॉलीवुड में फ़िल्में 40 साल पहले जैसी बनती थीं, वैसी अब नहीं बनती हैं और उसका असर समाज पर भी पड़ा है. बॉलीवुड फ़िल्मों में अश्लीलता की भरमार है और इसका असर भी देख सकते हैं. दिल्ली दुनिया की रेप राजधानी बन गई है.”

इमरान ख़ान ने कहा कि उन्होंने इसीलिए तुर्की के टीवी ड्रामे की तरफ़ रुख़ किया ताकि हमारी अपनी चीज़ें स्थापित हो सकें.

पाकिस्तानी पीएम ने कहा, “हिन्दुस्तान में हमने तबाही देखी है. हम वो तबाही नहीं चाहते हैं. इसीलिए मैं तुर्की के राष्ट्रपति अर्दोआन के ज़रिए टर्किश टीवी ड्रामा एर्तरुल लेकर आया. इसे लेकर मुझे लोग कहते थे कि पाकिस्तान में बॉलीवुड ही देखते हैं. लेकिन मेरा मानना था कि हम पाकिस्तानियों को वैसी चीज़ें दिखाएं जिनमें इस्लामी मूल्य भी हों, इस्लामी इतिहास भी हो और परिवार को सारे लोग एक साथ बैठकर देख सकें. हम चाहते हैं अपनी संस्कृति के क़रीब जाएं और उसकी नैतिकता को सीखें. जब भी समाज में बेहूदगी बढ़ती है तो अपराध बढ़ते हैं और इसे समझने की ज़रूरत है.”

नया पाकिस्तान बनाना चाहते हैं
इमरान ख़ान ने कहा कि रेप करने वालों को चौक पर सार्वजनिक रूप से लटका देना चाहिए.

उन्होंने कहा, “मैंने रेप करने वालों को सार्वजनिक रूप से चौक पर लटकाने की सज़ा देने की बात की है. हालांकि लोगों ने कहा कि यह अंतराष्ट्रीय रूप से स्वीकार्य नहीं होगा. लेकिन मैं चाहता हूं कि रेपिस्टों की ऐसी सर्जरी कर देनी चाहिए जिसके बाद वो नकारा हो जाएं और कोई यौन अपराध करने लायक नहीं रहें.”

इमरान ख़ान ने कहा कि वो नया पाकिस्तान बनाना चाहते हैं और यह एक लंबी प्रक्रिया है.

पाकिस्तानी पीएम ने कहा कि यह कोई दो दिन में नहीं होने वाला है क्योंकि पाकिस्तान की आर्थिक हालत सत्ता में आने से पहले ही ठीक नहीं थी.

इमरान ख़ान ने कहा, “जैसे 9/11 के बाद दुनिया बदल गई थी उसी तरह से कोविड 19 के बाद दुनिया बदल गई है. पहले वाली दुनिया अब नहीं है.”

इसराइल के सवाल पर
क्या पाकिस्तान को इसराइल को स्वीकार कर लेना चाहिए? इस सवाल के जवाब में इमरान ख़ान ने कहा कि समझौते जीवन में करने पड़ते हैं लेकिन हम हर सिद्धांत से समझौता नहीं कर सकते.

इमरान ख़ान ने कहा, “बहरीन और यूएई ने इसराइल को स्वीकार किया ये उनका फ़ैसला है. उस पर हम टिप्पणी नहीं कर सकते. लेकिन फ़लस्तीन के लोग जैसे रह रहे हैं उसकी हम उपेक्षा नहीं कर सकते. जब तक फ़लस्तीनियों को यह स्वीकार नहीं होता है तब तक हम स्वीकार नहीं करेंगे. मोहम्मद अली जिन्ना ने भी नहीं स्वीकार किया था और हम भी नहीं करेंगे.”

कश्मीर को लेकर इमरान ख़ान ने कहा, “नरेंद्र मोदी ने कश्मीर में ब्लंडर किया है और ये उनको अंदाज़ा नहीं था. लेकिन अब यह मामला अंतरराष्ट्रीयकरण हो गया है. कश्मीरियों को जब भी मौक़ा मिलेगा वो सामने आएंगे. हम इसके लेकर अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में भी जा सकते हैं. हम इस बार भी यूएन की आम सभा में कश्मीर का मुद्दा उठाएंगे और पुरज़ोर तरीक़े से उठाएंगे.”

source : BBC HINDI

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *