विशेष

कंगना के बयानों में ज़हर है, नफ़रत है वो संघ का एजेंडा चला रही है : टैक्स पेयर्स के पैसे पर मिली सुरक्षा में उसकी ‘शान’ देखें : Hot & nude pics


बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत और शिवसेना के बीच चल रहे विवाद बीजेपी कंगना के साथ खुल के खड़ी है, कंगना को मोदी सरकार ने वाई प्लस सिक्योरिटी दे दी है। अब कंगना सुरक्षाकर्मियों के घेरे में पूरी दबंगाई के साथ चलती है, जहाँ आदमी का साया भी नज़र नहीं आ रहा है वहां कंगना के सुरक्षा कर्मी उसे घेरा बना कर चलते हैं, कंगना संघ के भगवा, हिंदुत्व का एजेंडे चला रही है


कंगना के बयानों में जो ज़हर सामने आया है, वो संघ की बोई फ़सल है, कंगना जो बोलती है वो समाज को तोड़ने वाला है, कंगना ने अपनी एक्टिंग से अपनी जगह बनाई है, वो कलाकार है, कला को निहारने वाले उसके दर्शकों में सभी लोग होते हैं

उसकी फिल्मों में उसके अलावा काम करने वाले लोगों में कट्टरपंथी भगवाधारियों के आलावा और विचार के लोग भी होते हैं, कंगना का कार्यालय ”राम मंदिर”, कंगना खुद को सीता भी बता सकती है, वो मुस्लमान कलाकारों को ”इस्लामिक बॉलीवुड” का नाम देती है, वो उस लकीर को जो संघ ने खींची हुई है को मज़बूत करती है, कंगना मुंबई शहर को पाकिस्तान से campair करती है और मुंबई पुलिस को बाबर की सेना की संज्ञा देती है, उसकी हरकतों की वजह से उसे अब तक जेल में होना चाहिए था मगर एक प्रदेश के खिलाफ केंद्र खुद लड़ाई लड़वाने के लिए कंगना के साथ है, चीन की सेना भारत में घुसी हुई है, चीनी घुसपैठ पर देश की सरकार जनता से झूठ बोलती रही है, देश का प्रधानमंत्री झूठ बोल कर देश के साथ धोखा कर रहा है


देश के ऊपर मंडरा रहे खतरे पर बात नहीं होगी, नशे में चूर एक कलाकार के साथ मिल कर केंद्र तमाशा कर रहा है , कंगना टैक्स पेयर के पैसे पर सुरक्षा घेरे में अपना रुतबा दिखा रही है

ये भारत के अंदर ”पाप” की सत्ता के कारण है

कंगना ने सुशांत सिंह राजपूत मामले में महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस के खिलाफ आपत्तिजनक बातें कहीं । जिसके चलते शिवसेना ने भी कंगना को उसी जुबान में जवाब दिए ।

अब यह मामला राजनीतिक हो चुका है। कंगना रनौत को भारतीय जनता पार्टी से फुल सपोर्ट मिल रही है।

कंगना की आड़ में भाजपा शिवसेना को बदनाम करने की कोशिश में लगी हुई है। सुशांत मामले में बॉलीवुड अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

सोशल मीडिया पर दो तस्वीरें काफी वायरल हो रही है। जिसमें एक तरफ से मीडिया रिया चक्रवर्ती को घेरे हुए हैं। जिस कारण रिया काफी परेशान लग रही है।

वहीं दूसरी तस्वीर में कंगना रनौत सीआरपीएफ के जवानों के घेरे में शान से चलती नजर आ रही हैं।

इन दोनों तस्वीरों को शेयर करते हुए एक सोशल मीडिया यूजर ने लिखा कि दोनों तस्वीरों में सिर्फ यही फर्क है कि कंगना को बीजेपी की सपोर्ट है। इसलिए उन्हें वाई प्लस सिक्योरिटी दे दी गई।

वहीँ रिया चक्रवर्ती को मीडिया द्वारा डराया, धमकाया गया और एनसीबी द्वारा गिरफ्तार। कंगना भाजपा की गोद में बैठकर रिया के खिलाफ गलत बयानबाजी कर रही हैं। जबकि रिया को मीडिया नोच-नोच कर खा रहा है।


SirishaRao
@SirishaRao17
Two sides of the same coin…

Only difference is, if you are with BJP ,you will be given Y+ security.

If you are not with BJP ,you will be hounded, tortured n arrested!!

आपको बता दें कि कंगना रनौत सुशांत मामले से पहले भी भारतीय जनता पार्टी का समर्थन करती आई हैं। भाजपा ने कंगना को मोहरा बनाकर बॉलीवुड के तर्कवादी लोगों को घेरने का काम किया है।

कंगना आए दिन शिवसेना और अन्य विपक्षी दलों के बारे में अनाप-शनाप लिखती हैं। फिल्म इंडस्ट्री में नेपोटिज्म के खिलाफ जंग चढ़ने वाली कंगना ने अपनी बहन रंगोली को ही अपना मैनेजर बनाया है।


NDTV

Prime Time With Ravish Kumar
मुंबई (Mumbai) सिर्फ ईंट, गारे और पसीने से नहीं बनी है. इसकी बुनियाद में कपास और अफीम का भी पैसा लगा है. जिससे मुंबई के लोगों के हाथ में नया पैसा आया. ये आज की बात नहीं है, 17वीं, 18वीं और 19वीं सदी की बात है. जो नही जानते हैं वो जानकर हैरान हो सकते हैं कि मुंबई अफीम से अमीर हुई. मुंबई ही नहीं अफीम के कारण भारत के पश्चिमी तट पर कई पूंजीपति बन गए

 

 

 

 

Bollywood actor Kangana Ranaut walks the ramp as she showcases an outfit by designer Suneet Varma during the BMW India Bridal Fashion Week, in New Delhi, India on August 9, 2014. (Sherwin Crasto/SOLARIS IMAGES)

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *