देश

केरल और पश्चिम बंगाल से अलक़ायदा के 9 संदिग्ध सदस्य गिरफ़्तार : चारों तरफ़ से घिरी सरकार को कुछ तो चाहिए : रिपोर्ट

कोरोना से देश बेहाल है, किसान सड़कों पर हैं, नौजवान परेशान है, ग़रीब के पास काम धंधा नहीं है, कारोबार चौपट हो चुके हैं, नौकरियां मिलने के बजाये जा रही हैं, देश में भयानक आर्थिक तंगी है, चीन भारत की ज़मीन पर कब्ज़ा करके अंदर धौंस के साथ घुसा हुआ बैठा है, सरकार के पास किसी भी समस्या का कोई हल नहीं है ऐसे में अनेक बार काम चालू चालें काम कर जाती हैं, त्योहारों से पहले आतंकियों के हमलों की चेतावनियां, आतंकियों की तरफ से धमाके करने की चिट्ठियां, फ़ोन कॉल, ईमेल आदि रूटीन वर्क है, जिसे देश का मीडिया मसालेदार बना कर पेश कर देता है और उसमे दब जाते हैं असली मुद्दे,

अल क़ायदा नामक संगठन ओसामा बिन लादेन ने अफ़ग़ानिस्तान में अमेरिकी और उसके मित्र देशों से लड़ने के लिए बनाया था, इस संगठन को उस समय सऊदी अरब आदि से मदद मिलती थी, ओसामा के मारे जाने के बाद इसका नाम बाकी है, और अगर है भी तो वो यमन, सीरिया, इराक, अफ़ग़ानिस्तान आदि देशों में सक्रिय है, भारत में अल क़ायदा की गतविधियां कोई ख़ास नहीं रही हैं, सूत्रों के मुताबिक इन संगठनों व् अन्य के नाम कुछ महत्वपूर्ण उदेशों की प्राप्ति के लिए यदा कदा किये जाते हैं, सूत्रों के अनुसार इस तरह की कार्यवाहियों के माध्यम से समाज का धयान कहीं से कहीं और भटकाने के काम आता है

भारत की एक ख़ुफ़िया एजेंसी ने बताया है कि दो राज्यों से आतंकी संगठन अलक़ायदा के 9 संदिग्ध सदस्यों को गिरफ़्तार किया गया है।

भारत की राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने शनिवार को केरल और पश्चिम बंगाल में कई स्थानों पर एक साथ छापे मार कर अलक़ायदा के नौ आतंकवादियों को गिरफ़्तार कर लिया। एनआईए ने एक बयान जारी करके यह जानकारी दी है। बयान में बताया गया है कि एनआईए ने केरल के एर्णाकुलम और पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में शनिवार को सुबह सवेरे छापे मारे। बयान में कहा गया है कि ये लोग निर्दोषों की हत्या करने के उद्देश्य से देश के प्रमुख प्रतिष्ठानों पर आतंकी हमले की योजना बना रहे थे।

एनआईए ने दावा किया है कि इन लोगों का पाकिस्तान से सपंर्क है। छापेमारी के दौरान पश्चिम बंगाल से छः और केरल से तीन आतंकियों को गिरफ़्तार किया गया। बयान में बताया गया है कि इन आतंकियों के पास से डिजिटिल उपकरण, गोला-बारूद, हथियार और विस्फोटक और आपत्तिजनक सामग्री ज़ब्त की गई है। एनआईए का कहना है कि ये लोग भारत के अलग-अलग शहरों में हथियार पहुंचाने की योजना बना रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *