देश

चीन ने लद्दाख में 38 हजार स्क्वेयर किलोमीटर भूमि पर अनिधिकृत कब्ज़ा कर रखा है : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का लोकसभा में बयान

भारत और चीन के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा पर जारी तनाव पर भारत के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह विस्तार से लोकसभा में बयान दिया।

भारतीय संचार माध्यमों के अनुसार राजनाथ ने मंगलवार को कहा कि सीमा पर भारतीय जवान पूरी सर्तकता के साथ तैयार हैं। उन्होंने कहा कि लद्दाख में हम एक बड़ी चुनौती के दौर से गुज़र रहे हैं। राजनाथ सिंह ने कहा कि मौजूदा स्थिति पहले से अलग है। उन्होंने कहा कि हम सभी परिस्थितियों से निपटने के लिए तैयार हैं। राजनाथ ने कहा कि हम सीमाई इलाकों में मुद्दो का हल शांतिपूर्ण तरीके से किए जाने के प्रति प्रतिबद्ध है। वर्तमान स्थिति के अनुसार चीन ने LAC के अंदरूनी क्षेत्रों में बड़ी संख्या में सैनिक और गोला बारूद जमा कर रखे हैं।

भारत का दावा है कि चीन ने लद्दाख में 38 हजार स्क्वेयर किलोमीटर भूमि पर अनिधिकृत कब्जा कर रखा है। नई दिल्ली के अनुसार चीन, अरुणाचल प्रदेश की सीमा से लगे लगभग 90 हजार स्क्वेयर किलोमीटर की भूमि को भी अपना बताता है। राजनाथ सिंह ने यह भी कहा कि सन 1963 में एक तथाकथित बाउंडरी एग्रीमेंट के तहत, पाकिस्तान ने PoK की 5180 स्क्वायर किलोमीटर भारतीय जमीन अवैध रूप से चा ईना को सौंप दी है। उन्होंने कहा कि मैं यह भी बताना चाहता हूँ कि अभी तक भारत-चीन के बॉर्डर इलाके में कॉमनली डेलीनिएटिड LAC नहीं है और LAC को लेकर दोनों की धारणा अलग-अलग है।उल्लेखनीय है कि LAC पर भारत और चीन के बीच पिछले करीब 5 महीनों से तनातनी जारी है और दोनों देशों के सैनिक, एक-दूसरे के आमने-सामने हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *