देश

भारत में 11 पाकिस्तानी हिन्दुओं की मौत का मामला गहराया : ख़ुफ़िया एजेन्सी रॉ की सदिग्ध भूमिका : रिपोर्ट

पाकिस्तान ने भारतीय राज्य राजस्थान के ज़िला जोधपुर में पिछले महीने 11 पाकिस्तानी हिन्दुओं की संदिग्ध मौत पर गहरी चिंता जताने के लिए भारतीय उच्चायुक्त को विदेशमंत्रालय में तलब किया गया।

विदेशमंत्रालय के प्रवक्ता ज़ाहिद हफ़ीज़ चौधरी की ओर से जारी बयान के अनुसार 9 अगस्त को राजस्थान के जोधपुर के गांव लोधा में बच्चों सहित 11 पाकिस्तानी हिन्दुओं की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी थी और इस पर चिंता जताई गयी।

बयान के अनुसार भारतीय उच्चायुक्त को बताया गया कि नई दिल्ली में पाकिस्तानी राजदूत की ओर से कई बार घटना का ब्योरा मांगने के बावजूद भारत सरकार मामले की अनदेखी कर रही है और संक्षिप्त मालूमात जारी की गयी।

विदेशमंत्रालय के अनुसार उन्हें बताया गया कि भारत सरकार पाकिस्तानी हिन्दुओं की मौत पर इन हालात और कारणों से संबंधित ठोस मालूमात देने में विफल रही।

बयान में कहा गया है कि पीड़ित परिवार की प्रमुख की बेटी श्रीमी मुखी की ओर से गंभीर बयान सामने आया है जिसमें उनके पिता, माता और अन्य परिजनों की हत्या रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) से जुड़ता है क्योंकि रॉ उन्हें पाकिस्तान के विरुद्ध बयान देने और जासूसी के लिए तैयार करने में विफल हुई थी।

विदेशमंत्रालय से जारी बयान के अनुसार भारतीय उच्चायुक्त को बताया गया कि पीड़ित परिवार के लिए न्याय और भारत में मौजूद अन्य पाकिस्तानियों की रक्षा के लिए आवश्यक है कि भारत सरकार इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना का ब्योरा दे।

ज्ञात रहे कि जोधपुर में पिछले महीने संदिग्ध रूप से मरने वाले एक परिवार के 11 लोग 8 साल पहले वहां रहते थे किन्तु एक व्यक्ति घर पर न होने की वजह से जीवित बच गया था।

बीबीसी की रिपोर्ट में कहा गया था कि 8 साल पहले पाकिस्तान से पलायन करके भारत में आबाद होने वाले परिवार के 11 लोगों के शव राजस्थान के ज़िला जोधपुर में एक खेत में मिले और परिवार का केवल एक ही सदस्य जीवित बच सका।

रिपोर्ट में कहा गया कि पुलिस को घटना स्थल से कीटनाशक दवाओं के प्रयोग के इशारे मिले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *