दुनिया

ब्रेकिंग न्यूज़ : अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव में 70 फ़ीसद अमरीकी यहूदियों ने की ट्रम्प के विरोध की घोषणा!

अधिकांश अमरीकी यहूदियों ने नवम्बर में होने वाले अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव में डोनल्ड ट्रम्प के मुक़ाबले में जो बाइडेन को वोट देने का मन बना लिया है।

मंगलवार को हुए एक ताज़ा सर्वे के मुताबिक़, 70 फ़ीसद अमरीकी यहूदियों का कहना है कि वे बाइडेन का समर्थन कर रहे हैं, जबकि 27 फ़ीसद का कहना था कि वे ट्रम्प को वोट देंगे।

ट्रम्प प्रशासन द्वारा इस्राईल के अंधाधुंध समर्थन के बावजूद, अधिकांश यहूदी ऐतिहासिक परंपरा को जारी रखते हुए डेमोक्रेट उम्मीदवार के साथ जाना चाहता हैं।

यहूदी वॉयस फ़ॉर पीस (JVP) के प्रबंधक बेथ मिलर का कहना है कि ट्रम्प ने ख़ुद को एक घृणित तानाशाह के रूप में स्थापित किया है। उन्होंने अमरीका सीधे तौर पर और जानबूझकर श्वेत राष्ट्रवादियों और यहूदी विरोधी शक्तियों को गले लगाया है।

मिलर का कहना था कि नम्बर में अगर अधिकांश यहूदी ट्रम्प को हराने के लिए मतदान करें, तो इसमें किसी को आश्चर्य नहीं होना चाहिए।

ट्रम्प ने अपने शासनकाल में इस्राईल का बढ़ चढ़कर समर्थन किया है और तेल-अवीव से बैतुल मुक़द्दस के लिए अमरीकी दूतावास के स्थानांतरण का आदेश देते हुए बैतुल मुक़द्दस (यरूशलम) को इस्राईल की राजधानी के रूप में मान्यता प्रदान करने का एलान किया था।

ट्रम्प प्रशासन के प्रयासों के कारण ही यूएई और बहरैन ने इस्राईल के साथ संबंधों को सामान्य बनाने का समझौता किया है और अब वाशिंगटन सऊदी अरब समेत अन्य अरब देशों पर ऐसा ही समझौता करने का दबाव बना रहा है।

हालांकि मिलर का कहना है कि ट्रम्प द्वारा इस्राईल के समर्थन का मतलब यह नहीं है कि अमरीकी यहूदी ट्रम्प को वोट देने के लिए बाध्य हैं।

उनका कहना था कि अधिकांश अमरीकी यहूदी आबादी के लिए मतदान करने के लिए सिर्फ़ कोई एक वजह नहीं होती है और इस्राईल उनकी एकमात्र चिंता नहीं है।

ट्रम्प कभी भी इस्राईली यहूदियों और अमरीकी यहूदियों के बीच अंतर नहीं करते हैं। हाल ही में उन्होंने अमरीकी यहूदियों की इस्राईली यहूदियों से बराबरी करते हुए अपना समर्थन करने की अपील की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *