देश

असम-अगरतला राष्ट्रीय राजमार्ग पर मिज़ोरम से आए ब्रू प्रवासियों को त्रिपुरा में बसाने का विरोध कर रहे लोगों पर पुलिस ने की गोलीबारी, एक व्यक्ति की मौत!

उत्तरी त्रिपुरा जिले के पानीसागर में असम-अगरतला राष्ट्रीय राजमार्ग को बंद कर प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस द्वारा की गई गोलीबारी में एक व्यक्ति की मौत हो गई है जबकि इस दौरान 30 से ज्यादा घायल हो गए हैं। घायलों में स्थानीय नागरिकों के साथ-साथ पुलिसकर्मी और सरकारी कर्मचारी शामिल हैं। स्थानीय लोग पड़ोसी राज्य मिजोरम से आए ब्रू प्रवासियों को त्रिपुरा में बसाने का विरोध कर रहे थे। राज्य सरकार की ओर से बताया गया कि इसकी मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए गए हैं।

ANI
@ANI
·
21 नव॰ 2020
Tripura govt to conduct a magisterial inquiry into blockage of national highways in North Tripura today during which there was violence by unruly mob & police personnel had to open fire leading to death & injury to both civilians & government/security personnel: State govt

त्रिपुरा के कानून मंत्री रतन लाल नाथ ने बताया कि ‘उत्तरी त्रिपुरा जिले के कंचनपुर इलाके में हिंसा के दौरान 19 नागरिक, चार पुलिसकर्मी, त्रिपुरा स्टेट राइफल्स के तीन जवान, और आठ फायर सर्विस कर्मी घायल हो गए हैं और हिंसा में एक व्यक्ति की मौत हो गई है।’
 

पुलिस ने कहा कि बड़ी संख्या में लोग पानीसागर राष्ट्रीय राजमार्ग-8 पर जमा हुए और उसे बंद कर दिया। उन्होंने सरकार से ब्रू प्रवासियों को त्रिपुरा में बसाने की योजना वापस लेने की मांग की।


ANI
@ANI
During the violence in Kanchanpur area of North Tripura district, 19 civilians, 4 police personnel, three jawans of Tripura State Rifles, & eight fire service personnel were injured. One person has died in the violence: Tripura Law Minister Ratan Lal Nath

ANI
@ANI
Tripura govt to conduct a magisterial inquiry into blockage of national highways in North Tripura today during which there was violence by unruly mob & police personnel had to open fire leading to death & injury to both civilians & government/security personnel: State govt

बंगाली और स्थानीय मिजो समुदाय की संयुक्त आंदोलन समिति (जेएमसी) ने इस मुद्दे पर सोमवार से पांच दिवसीय हड़ताल की घोषणा की है, जिसके तहत उन्होंने शनिवार को राजमार्ग-8 को बंद कर दिया।

केन्द्र सरकार ने इस साल जनवरी में एक नए समझौते पर हस्ताक्षर किए थे जिसके तहत, त्रिपुरा के राहत शिविरों में रह रहे ब्रू समुदाय के लोगों को वापस जाने के लिए मजबूर नहीं किया जाएगा।

शनिवार को हालात उस समय खराब हो गए जब पुलिस और त्रिपुरा स्टेट राइफल्स (टीएसआर) समेत अर्धसैनिक बलों के एक बड़े दस्ते की सड़क खाली कराने को लेकर प्रदर्शनकारियों से झड़प हो गई। पुलिस ने पहले प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया और बाद में गोलीबारी की , जिसमें प्रदर्शन में शामिल 40 वर्षीय व्यक्ति श्रीकांत दास की मौत हो गई।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक राजीव सिंह ने कहा कि पुलिस को अपने बचाव के लिए गोली चलानी पड़ी क्योंकि भीड़ बेकाबू हो गई थी और सुरक्षा बलों से हथियार छीनने की कोशिश कर रही थी। उन्होंने स्वीकार किया कि इस दौरान एक व्यक्ति की मौत हो गई और कुछ लोग घायल हो गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *