दुनिया

इस्राईल की सुरक्षा के लिए मध्यपूर्व में मौजूद है अमरीकी सैनिक

ब्रूकिंग्स इन्सटीट्यूट के अनुसार मध्यपूर्व में अमरीका की सैन्य उपस्थिति का मुख्य लक्ष्य, इस्राईल की सुरक्षा को सुनिश्चित बनाना है।

अमरीका के ब्रूकिंग्स नामक इन्सटीट्यूट ने यह बात स्पष्ट की है कि मध्यपूर्व विशेषकर सीरिया के अत्तनफ़ क्षेत्र में अमरीकी सैनिकों की उपस्थिति, ज़ायोनी शासन और उसके हितों की सुरक्षा के लिए है। इस अमरीकी इन्सटीट्यूट ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया है कि सीरिया के सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण क्षेत्र में अत्तनफ़ में अमरीकी उपस्थिति केवल इसलिए है कि इस्राईल को सुरक्षा की दृष्टि से पूरी तरह से सुनिश्चित बनाया जाए। इस रिपोर्ट में बताया गया है कि अमरीका ने सीरिया सरकार की इच्छा के बिना इस क्षेत्र पर क़ब्ज़ा कर रखा है जहां से इस्राईल को सुरक्षा प्रदान की जा रही है।

याद रहे कि सीरिया का अत्तनफ क्षेत्र, वास्तव में एक ट्राएंगल है जो इराक़, जार्डन और सीरिया का सीमावर्ती क्षेत्र है। यह क्षेत्र सामरिक दृष्टि से तीनो देशों के लिए बहुत महत्व रखता है। अमरीकी सैनिक सन 2016 से यहां पर विराजमान हैं जिन्होंने वहां पर एक सैन्य छावनी बना ली है। यहां से यह अमरीकी सैनिक जहां एक ओर इस्राईल की सुरक्षा को सुनिश्चित बना रहे हैं वहीं पर दूसरी ओर वे इराक़ के माध्यम से सीरिया को भेजी जाने वाली सहायता के मार्ग में भी बाधा बनते हैं। सीरिया के अधिकारियों ने बताया है कि अमरीकी सैनिक, दाइश और अन्य आतंकी गुटों के साथ सहयोग करते हुए इस स्थान से सीरिया का तेल चुराकार उसकी तस्करी करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *