बिहार राज्य

बिहार : राजनैतिक शाष्त्री शाकिर मालिक के अनुसार, महागठबंधन को 160 सीट मिलने का अनुमान है!

भारत के राज्य बिहार में विधानसभा चुनाव के लिए तीसरे चरण का मतदान पूरा हो गया है और एग़्जिट पोल भी दिखाए जाने लगे हैं जिनमें राजग और महागठबंधन के बीच कांटे का मुक़ाबला दिखाई दे रहा है।

बिहार चुनावों के वोटों की गिनती 10 नवम्बर को होगी, उससे पहले टीवी चैनलों पर अनेक पोल अनुमान आना शुरू हो गए हैं, जबकि बिहार के ज़मीनी कार्यकर्ताओं का कहना है कि महागठबंधन को पूर्ण बहुमत मिलेगा, वहीँ राजनैतिक शाष्त्री और बिहार से सम्बन्ध रखने वाले शाकिर-उज़-ज़मान मालिक का कहना है कि इस बार का चुनाव पूरी तरह से महागठबंधन का है, तेजस्वी यादव NDA पर अकेले भारी पड़े हैं, तेजस्वी को युवाओं, महिलाओं, पुरुषों ने पसंद किया है, तेजस्वी ने मुद्दों पर चुनाव लड़ा है जबकि NDA की ओर से कोई भी उनके सामने टिकता नज़र नहीं आया, प्रधानमंत्री के भाषण ऊबाऊ और बासी थे, जनता ने उन्हें पसंद नहीं किया, प्रधानमंत्री ने राष्ट्रवाद के खोखले नारे तो लगवाए लेकिन जनता ने रोज़गार को अहमियत दी है, साथ ही नितीश कुमार के साथ बीजेपी ने ही खेल कर दिया है जिसका नतीजा चुनाव बाद सामने आएगा

शाकिर मालिक ने कहा कि बिहार की जनता से प्रधानमंत्री ने संवाद नहीं किया बल्कि लोगों को वोही पुरानी बातें परोसी गयी जिनका कोई आधार ही नहीं है, प्रधानमंत्री मोदी जय श्री राम, भारत माता की जय के नारे लगवाते रहे लेकिन चीन की घुसपैठ पर एक शब्द नहीं बोला, बिहार में लोग ग़रीब ज़रूर हैं लेकिन वो बहुत समझदार और जानकार हैं, बिहार की जनता शिक्षा, स्वस्थ, नौकरियां देने वाले को चुनेगी न कि कोरे भाषण और झूठ बोलने वालों को

बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे और अंतिम चरण में 15 ज़िलों की 78 सीटों पर शनिवार को मतदान हुआ। इस चरण में 1204 उम्मीदवारों की क़िस्मत इलोक्ट्रोनिक वोटिंग मशीनों में बंद हो गई। मतदान की समाप्ति पर 55 दशमलव 22 प्रतिशत के क़रीब वोटिंग होने के समाचार हैं और लोगों में मतदान के लिए काफ़ी उत्साह देखा गया। बिहार में कौन सी पार्टी सरकार बनाएगी इसका पता 10 नवम्बर को मतगणना के बाद चलेगा। 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में आरजेडी को सबसे ज्यादा 80 सीटें हासिल हुई थीं जबकि दूसरे नंबर पर नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू थी जिसे 71 सीटें मिली थीं। इसके अलावा भाजपा को 54, कांग्रेस को 27, एलजेपी को 2, आरएलएसपी को 2, हम को 1 और अन्य के हिस्से में 7 सीटें आई थीं।

बिहार विधानसभा में कुल 243 सीटें हैं और सरकार गठन के लिए 122 सीटों की ज़रूरत होगी। मतदान पूरा होने के बाद विभिन्न टीवी चैनलों द्वारा एग्ज़िट पोल दिखाए जाने का क्रम शुरू हो गया है। कुछ सर्वेक्षणों में एनडीए को 116, महागठबंधन को 120 और अन्य को सात सीटें मिलने की बात कही गई है। कुछ अन्य में राजग को 91 से 117 और महागठबंधन को 118 से 138 तक सीटें मिलने की भविष्यवाणी की गई है। एक अन्य एग्ज़िट पोल में एनडीए को 104 से 128 और महागठबंधन को 108 से 131 सीटें मिलते हुए दिखाया गया है जबकि अन्य को 4 से 8 सीटें मिलने का अनुमान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *