दुनिया

अमरीका ने की सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को घेरने की पूरी तैयारी : रिपोर्ट

सऊदी अरब के सूत्रों ने बताया है कि क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के ख़िलाफ़ अमरीका की राजनीतिक कार्यवाही के मद्देनज़र, राजमहल में सतर्कता बढ़ा दी गई है।

सऊदी अरब के शासक सलमान, अपने बेटे युवराज मुहम्मद बिन सलमान के संबन्ध में अमरीकी सरकार के संभावित व्यवहार को लेकर बहुत चिंतित हैं। इसी विषय के दृष्टिगत उन्होंने अपने सलाहकारों से कहा है कि वाइट हाउस के क्रोध को कम करने के लिए वे कोई रास्ता निकालें। इन्ही सूत्रों का कहना है कि बिन सलमान ने अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडेन को भेजे गोपनीय पत्र में उनसे मांग की है कि वे सऊदी पत्रकार ख़ाशुक़जी की हत्या से संबन्धित जानकारी को सार्वजनिक न होने दें।

शुक्रवार को अमरीका के एक जानकार सूत्र ने बताया था कि बाइडेन सरकार, मार्च के पहले सप्ताह में जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या से संबन्धित रिपोर्ट को प्रकाशित करने जा रही है। इसी बीच एक रूसी समाचारपत्र “नीज़ा वीसीमाया” ने भी अपने एक लेख में बताया है कि एसा लगता है कि बाइडेन सरकार ने मुहम्मद बिन सलमान को राजनैतिक ढंग से घेरने की तैयारी कर ली है। अब बाइडेन सरकार, युवराज बिन सलमान के बदले सऊदी अरब के शासक मुहम्मद सलमान से बात करना चाहती है।

उल्लेखनीय है कि सऊदी अरब के युवराज मुहम्मद बिन सलमान के साथ अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति ट्रम्प के बहुत अच्छे संबन्ध थे और उन्होंने अपनी पहली विदेशी यात्रा में सऊदी अरब को चुका था किंतु अमरीका के वर्तमान राष्ट्रपति ने अबतक युवराज मुहम्मद बिन सलमान को कोई लिफ्ट तक नहीं दी है जिससे वे काफ़ी चिंतित हैं।

अगले हफ़्ते जमाल ख़ाशुक़्जी की हत्या से जुड़े राज़ खुलेंगे, अमरीका ने किया रिपोर्ट को सार्वजनिक करने का फ़ैसला

अमरीकी अख़बार वॉशिंगटन पोस्ट ने जानकार सूत्रों के हवाले से रिपोर्ट दी है कि वॉशिंगटन अगले हफ़्ते, सऊदी अरब के आलोचक पत्रकार जमाल ख़ाशुक़्जी की हत्या के बारे में अमरीकी इन्टेलिजेन्स कम्यूनिटी की रिपोर्ट को सार्वजनिक कर देगा।

इस अख़बार के मुताबिक, बाइडेन सरकार अमरीकी इंटेलिजेन्स कम्यूनिटी की रिपोर्ट को, जिसमें यह निष्कर्ष निकाला गया था कि सऊदी युवराज मोहम्मद बिन सलमान ने जमाल ख़ाशुक़्जी की 2 अक्तूबर 2018 को हत्या का आदेश दिया था, अगले हफ़्ते सार्वजनिक कर देगी।

वॉशिंगटन पोस्ट के मुताबिक़, इस रिपोर्ट में जो अब गोपनीय रहने के स्तर से निकल चुकी है, अमरीकी इन्टेलिजेन्स कम्यूनिटी की जाँच के परिणाम हैं। इस रिपोर्ट को अमरीका के राष्ट्रीय इन्टेलिजेन्स विभाग के डायरेक्टर ने तय्यार किया है।

इससे पहले वाइट हाउस की प्रवक्ता जेन साकी ने सूचना दी थी कि बाइडेन सरकार सऊदी अरब के आलोचक पत्रकार जमाल ख़ाशुक़्जी के क़त्ल के बारे में गोपनीय रिपोर्ट को कॉन्ग्रेस के लिए सार्वजनिक करने के लिए तय्यार है।

ग़ौरतलब है कि सऊदी पत्रकार ख़ाशुक़्जी को जो वॉशिंगटन पोस्ट के लिए लिखते थे और उनके पास अमरीकी नागरिकता थी, 2 अक्तूबर 2018 को तुर्की के इस्तांबूल शहर में सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में बड़ी ही बर्बरता के साथ क़त्ल कर दिया गया। जमाल ख़ाशुक़्जी अपने लेख में सऊदी युवराज की आलोचना करते थे।

टीकाकार बाइडेन सरकार के इस फ़ैसले को सऊदी शासन पर दबाव डालने के प्रयास के रूप में देख रहे हैं। अमरीका को अगर जमाल ख़ाशुक़्जी की हत्या पर सही अर्थ में दुख होता तो वह बहुत पहले इस रिपोर्ट को सार्वजिनक कर चुकी होती।(

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *