देश

मेरे बेटे मनीष का ख़्याल रखना, उसे किसी चीज़ की कमी नहीं होनी चाहिए…

अजमेर, राजस्थान
मेरे बेटे मनीष का ख्याल रखना, उसे किसी चीज़ की कमी नहीं होनी चाहिए…रोते हुए ये बात कहने के कुछ दी देर बाद इस शख्स ने कथित तौर पर पीछे नजर रहे पेड़ पर फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। राजस्थान के अजमेर का ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है और सुरेश मेघवाल नाम के शख्स की पूरे इलाके में चर्चा है। सिर्फ 26 साल के सुरेश ने मौत को गले लगाने से पहले दो वीडियो रिकॉर्ड किए और अपनी पूरी कहानी बयां की। एक वीडियो में वो खेत में बैठा नजर आ रहा है, तो दूसरे वीडियो में उस पेड़ के ठीक सामने जिस पर लटक कर उसने जान दी। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जाखोलाई गांव के रहने वाले सुरेश को आत्महत्या क्यों करनी पड़ी, इसके लिए उसने वीडियो में अपनी पत्नी के झूठे आरापों और पुलिस के रवैये को जिम्मेदार बताया है। सुरेश ने कहा कि आज मैं जो कुछ बोल रहा हूं सच बोल रहा हूं, क्योंकि मरता हुआ इंसान झूठ नहीं बोलता।

सन्त रैदास का भगत
@ShaankarGauri
·Apr 16
असीमित/तानाशाही अधिकार व प्राथमिकता देने पर चाहे कोई वर्ग हो या लिंग, वो उसका दुरुपयोग ही करता है। #सुरेश_मेघवाल भाई के लिए कोई प्रगतिशील नारीवादी भीमटे (फेमिनिस्ट) आवाज़ नहीं उठाएगा। परन्तु #रोहित_वेमुल्ला को लेकर हो हल्ला मचाएंगे।
#आयो_जमानो_लुगाया_को

वीडियो में सुरेश ने आगे बताया कि दरअसल उसकी दो शादियां हुईं। पहली शादी में उसे धोखा मिला और दूसरी पत्नी ने भी उसे कभी नहीं समझा।

इस वीडियो में सुरेश बार-बार अपने बेटे नवजात बेटे मनीष का जिक्र करता रहा, कहता रहा कि वो छोड़कर नहीं जाना चाहता, पर उसे अब कोई और रास्ता दिखाई नहीं दे रहा।

आपको बता दें कि मनीष की पत्नी ने पुलिस को जो शिकायत दी थी, उसे लेकर अभी मुकदमा दर्ज नहीं हुआ था। पुलिस ने उसे थाने बुलाया था, पर उसके पहले ही उसने अपनी जान दे दी।

अजमेर में युवक ने किया सुसाइड

अजमेर के रूपनगढ़ स्थित जाखोलाई गांव में पत्नी की ओर से दर्ज कराए गए केस से दुखी होकर 26 साल के सुरेश मेघवाल फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। माैत के बाद मृतक के तीन वीडियाे वायरल हुए हैं, जिसमें उसने कहानी बताई है।

क्या है तीनों वायरल वीडियो में

पहला वीडियो 14 मिनट 20 सेकंड का है, जिसमें में वह अपनी दोनों शादियों की कहानी और दुखी होने का कारण बता रहा है। साथ ही कह रहा है कि दो शादियां हुईं, लेकिन लड़कियां अच्छी नहीं मिली और जिंदगी नरक बन गई।

दूसरा वीडियो 3 मिनट 07 सेकंड का है, जिसमें वह परिजन से अपने मासूम बेटे मनीष का ख्याल रखने की बात कह रहा है। साथ ही परिजन से कहा है कि जहां वह मर रहा है, वहां उसकी मूर्ति लगाई जाए और चबूतरा बनाकर बेटे से पूजा कराएं।

तीसरा वीडियो 2 मिनट 25 सेकंड का है, जिसमें वह पुलिस पर आरोप लगा रहा है कि बिना जांच के महिलाओं के कहने पर मुकदमा दर्ज कर लेते हैं, ऊपर से धमकियां देते हैं। ऐसे पुलिसवालाें काे मर जाना चाहिए। ये लोग जिंदगी बर्बाद कर देते हैं।

पुलिस ने कहा- सुरेश को थाने बुलाया, लेकिन आया नहीं

रूपनगढ़ थाना प्रभारी कंवरपाल सिंह शेखावत ने बताया कि सुरेश की पत्नी ने शिकायत दी और मामले की जांच कांस्टेबल बिरदीचंद कर रहा था। इसकी जांच के लिए उसे (सुरेश) बुलाया गया।,लेकिन वह आया ही नहीं।

ये है पूरा मामला

14 अप्रैल को जाखोलाई के सुरेश पुत्र पन्नालाल अपीन खेत पर पहुंचा और वहां फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की जानकारी तब मिली जब ग्रामीणों को पेड़ पर सुरेश का शव फंदे से लटका मिला। सूचना पर रूपनगढ़ थाना पुलिस मौके पर पहुंची और पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजन के हवाले कर दिया। आत्महत्या के दौरान पहने गए कपड़े, खेजड़ी का पेड़ वही लग रहा है जो वीडियो में नजर आ रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि उसने आत्महत्या से पहले वीडियो बनाया। पुलिस वीडियो की भी जांच कर रही है।

दूसरी पत्नी ने थाने में दी थी शिकायत

बताया जा रहा है कि सुरेश की पहली पत्नी झगड़ा करने की वजह से उसे छोड़कर चली गई थी। सुरेश ने दूसरी शादी की थी। दूसरी पत्नी ने रूपनगढ़ थाने में शिकायत दी थी कि पति सुरेश आए दिन उससे झगड़ा करता है। अब मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया। इस पर पुलिस ने सुरेश को फोन कर थाने बुलाया, लेकिन वह गया नहीं। इसके बाद सुरेश ने आत्महत्या कर ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *