उत्तर प्रदेश राज्य

लखनऊ में रात 9 से सुबह 6 बजे तक : प्रयागराज-कानपुर में रात 10 से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू : रिपोर्ट

लखनऊ में रात 9 से सुबह 6 बजे तक नहीं निकल सकेंगे घर से बाहर, स्कूल 15 अप्रैल तक बंद

राजधानी लखनऊ में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए आज यानी गुरुवार से नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है जो कि 16 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक लागू रहेगा। इस आदेश के बाद रात नौ बजे से सुबह छह बजे तक लोगों को घरों से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी। वहीं, जिले के सभी सरकारी व गैर सरकारी शिक्षण संस्थानों को 15 अप्रैल तक के लिए बंद कर दिया गया है।

शिक्षण संस्थानों को बंद करने संबंधी आदेश जिलाधिकारी लखनऊ ने जारी कर दिया है। इसके तहत जिले के सभी सरकारी, गैर सरकारी व निजी विद्यालय, महाविद्यालय और सभी शैक्षणिक संस्थान 15 अप्रैल तक बंद रहेंगे। इस दौरान सभी चिकित्सा, नर्सिंग व पैरा मेडिकल संस्थान खुले रहेंगे। हालांकि, मान्यता प्राप्त शैक्षणिक संस्थानों में कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए परीक्षाएं आयोजित की जा सकेंगी।

नाइट कर्फ्यू की पहले ही आशंका जताई जा रही थी। बुधवार देर रात पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने आदेश जारी कर दिए। वहीं, दिन में सुबह 6 बजे से शाम 9 बजे तक कोविड प्रोटोकाल के साथ काम चलता रहेगा। आवश्यक वस्तुओं को लाने ले जाने की छूट होगी। रात्रिकालीन कर्फ्यू सिर्फ लखनऊ नगर निगम क्षेत्र में लागू होगा। ग्रामीण लखनऊ में नहीं लागू होगा। इस दौरान फल, सब्जी, दूध, एलपीजी, पेट्रोल – डीजल और दवा की सप्लाई जारी रहेगी। रात्रि कालीन शिफ्ट के सरकारी व गैर सरकारी कर्मचारियों के लिए छूट रहेगी। रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन और एयरपोर्ट पर आने-जाने वाले लोग अपना टिकट दिखा कर आ जा सकेंगे। हर प्रकार की मालवाहक गाड़ियों के आने-जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा।

बता दें कि यूपी में बुधवार को 6023 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। जबकि 40 मरीजों की मौत हुई है। वर्तमान में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 31987 हो गई है। 18679 होम आइसोलेशन में हैं। 668 निजी अस्पतालों में हैं। अन्य मरीज सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं। अब तक कुल 8964 मरीजों की मौत संक्रमण से हो चुकी है।

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि मंगलवार को 161270 नमूनों की जांच की गई। इस तरह अब तक प्रदेश में 3,55,75232 नमूनों की जांच की गई है। इनमें से 634033 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। कुल 604979 मरीज संक्रमण मुक्त हो चुके हैं।

कानपुर में रात 10 से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू

कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए कानपुर में गुरुवार से नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक पाबंदी रहेगी। साथ ही कोरोना का एक मरीज मिलने पर 25 मीटर और इससे अधिक मरीज अगर मिलते हैं तो 50 मीटर का दायरा सील किया जाएगा। कंटेनमेंट जोन में पुलिसकर्मी भी तैनात किए जाएंगे।

पुलिस की सख्ती भी बढ़ेगी। मास्क न लगाने पर चालान के साथ एफआईआर भी दर्ज की जाएगी। ये जानकारी डीसीपी पूर्वी अनूप कुमार सिंह ने बुधवार शाम प्रेसवार्ता में दी। डीसीपी ने बताया कि वर्तमान में कानपुर नगर में 706 कंटेनमेंट जोन हैं। पूर्वी क्षेत्र में 189, पश्चिम में 315 और दक्षिण में 202 और कानपुर आउटर में 22 कंटेनमेंट जोन हैं।

यहां पर अब पाबंदियां लागू की जाएंगी। अगर किसी अपार्टमेंट में कोई केस आता है तो अपार्टमेंट का फ्लोर सील किया जाएगा, जिस पर कोरोना मरीज होगा। केस मिलने से दो सप्ताह तक पाबंदियां कंटेनमेंट जोन में लागू रहेंगीं। इसमें अगर कोई बदलाव होगा तो वो स्वास्थ्य विभाग के अफसर करेंगे।

कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग में फिर से पुलिस की मदद
कुछ दिन पहले मुख्यमंत्री ने वीडियो क्रॉन्फ्रेंसिंग के दौरान पुलिस को निर्देश दिए थे कि वो कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग शुरू करें, जिससे पता चल सके कि कोरोना मरीज के संपर्क में कौन कौन लोग आए हैं। जिनकी जांच समय पर हो सके। इसमें सर्विलांस की भी मदद ली जाए। डीसीपी ने बताया कि इस व्यवस्था को भी लागू कर दिया गया है।

मास्क लगाएं, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें
डीसीपी ने बताया कि सभी थानों की पुलिस को निर्देशित किया गया है कि अपने-अपने इलाके में कोरोना गाइडलाइन को सख्ती से लागू करें। मास्क लगाना अनिवार्य है। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन जहां नहीं किया जा रहा होगा वहां कार्रवाई की जाएगी। हालांकि हकीकत ये है कि कंटेनमेंट जोन में हर कोई लापरवाही बरत रहा है। न एरिया सख्ती से सील किया गया है और न लोग नियमों का पालन कर रहे हैं।

प्रयागराज में नाइट कर्फ्यू

– प्रतियोगी परीक्षाओं, शादी, शव यात्रा, धार्मिक समारोह पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होगा

कोराना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए जिले में रात्रि कर्फ्यू लगा दिया गया है। रात में 10 से सुबह आठ बजे तक कर्फ्यू रहेगा। इस दौरान सिर्फ आवश्यक सेवाओं जारी रहेंगी। आवागमन के साथ अन्य गतिविधियां ठप रहेंगी। पूरे प्रदेश में कोविड-19 के मरीज बढ़ रहे हैं। प्रयागराज में बुधवार को भी 1076 लोग पॉजिटिव पाए गए। इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बैठक में सख्ती से कोविड प्रोटोकाल का पालन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

इसी क्रम में डीएम भानु चंद्र गोस्वामी ने देर रात नई गाइडलाइन जारी करने के साथ रात्रि कर्फ्यू का आदेश दिया। गाइडलाइन के अनुसार यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है। राशन, स्वास्थ्य, डीजल-पेट्रोल की आपूर्ति समेत अन्य आवश्यक सेवाओं पर किसी तरह की रोक नहीं होगी। हालांकि, सुबह आठ बजे तक दूध, सब्जी आदि जरूरत की वस्तुओं के लिए लोगों को परेशानी उठानी पड़ सकती है। चंद्रशेखर आजाद पार्क, खुशरोबाग आदि पार्क में सुबह टहलने वालों को भी परेशानी उठानी पड़ सकती है।

गाइडलाइन के मुख्य बिंदु

कर्फ्यू का प्रतिबंध फल, सब्जी की मंडियों पर लागू नहीं होगा
12 तक के विद्यालय पूर्णत: बंद रहेंगे, ऑनलाइन कक्षाएं चलेंगी
परीक्षाएं पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत होंगी, प्रोटोकाल का करना होगा पालन
रात्रि शिफ्ट के सरकारी एवं निजी संस्थान के कर्मचारियों को कर्फ्यू से छूट रहेगी
टिकट दिखाकार यात्री रात में आ-जा सकेंगे
पंचायत चुनाव तथा अन्य आवश्यक सेवाओं में लगे कर्मचारियों पर कर्फ्यू का प्रतिबंध लागू नहीं होगा
प्रतियोगी परीक्षाओं, शादी, शव यात्रा, धार्मिक समारोह पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *