दुनिया

अफ़ग़ान राजदूत की बेटी के अपहरण की पूरी कहानी पाकिस्तानी विदेश मंत्री और NSA ने मीडिया वार्ता में बयान की : फुल वीडियो

पाकिस्तान के गृह मंत्री शैख़ रशीद अहमद ने कहा है कि तफ़तीश में यह बात सामने आई है कि किसी टैक्सी में अफ़ग़ान राजदूत की बेटी के साथ कोई आदमी नहीं बैठा और न ही कोई झगड़ा हुआ।

रावलपिंडी में मीडिया से बात करते हुए शैख़ रशीद ने कहा कि हमने इस्लामाबाद और रावलपिंडी की 700 घंटे से ज़्यादा समय की फ़ुटेज देखी, 200 से ज़्यादा टैक्सियों की जांच पड़ताल की जिसके बाद हम उन चार टैक्सियों और उनके मालिकों तक पहुंचे हैं लेकिन हमें अफ़सोस है कि हमारी इतनी कोशिशों के बावजूद वह यहां से चली गईं। शैख़ रशीद ने कहा कि हमने मुक़द्दमा किया है और यह मुक़द्दमा पाकिस्तान सरकार लड़ेगी।

शैख़ रशीद ने कहा कि पाकिस्तान सरकार इस केस से पीछे नहीं हटेगी हालांकि हमारी जांच के मुताबिक़ यह अग़वा का केस नहीं है।

पाक गृह मंत्री ने एक टीवी कार्यक्रम में कहा कि अफ़ग़ान राजदूत की बेटी ने जितनी टैक्सियों में सफ़र किया उनमें से किसी भी टैक्सी के ड्राइवर ने इस बात की पुष्टि नहीं की कि उनके साथ टैक्सी में किसी दूसरे व्यक्ति ने सवार होकर कोई बदतमीज़ी की।

उन्होंने कहा कि सारे ड्राइवरों ने क़ुरआन पर हलफ़ उठा कर बयान दिया है और लड़की चारों टैक्सियों से उतरते समय पूरी तरह संतुष्ट थी।

ज्ञात रहे कि अफ़ग़ान राजदूत नजीबुल्ला अली ख़ैल की बेटी सिलसिला को इस्लामाबाद कमरशियल इलाक़े से कथित रूप से अज्ञात लोगों ने किडनैप करके उन्हें उत्पीड़न का निशाना बनाया।

राजदूत की बेटी का कहना है कि वह इस्लामाबाद के ब्लू एरिया में एक बेकरी से टैक्सी के ज़रिए घर वापस आ रही थीं कि ड्राइवर ने एक और व्यक्ति को सवार कर लिया जिसने उन्हें ज़बानी और जिस्मानी तौर पर बदसुलूकी का निशाना बनाया।

यह मामला दोनों देशों के बीच काफ़ी तूल पकड़ता दिखाई दे रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *