बिहार राज्य

बिहार : बालू माफ़िया और उनके गुर्गों ने खनन अधिकारी और पुलिस बल के जवानों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

बांका: जिले में अवैध तरीके से बालू का धंधा करने के खिलाफ कार्रवाई को लेकर गई खनन विभाग के पदाधिकारियों और पुलिस पर बालू माफिया ने बुधवार को हमला कर दिया. बालू माफिया और उनके गुर्गों ने खनन अधिकारी और पुलिस बल के जवानों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा. उनके वाहन को भी क्षतिग्रस्त कर दिया. इस घटना के बाद बांका के प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मच गया.

खनन विभाग की टीम विभागीय पदाधिकारी और सुरक्षा बलों के साथ बुधवार को नियमित गश्ती पर निकली थी. इस दौरान भागलपुर-हंसडीहा मुख्य सड़क मार्ग पर पुनसिया बाजार के निकट बाराहाट-रजौन थाना की सीमा पर टीम ने एक बालू लदे ट्रक को पकड़ा. इसके बाद मिली सूचना के आधार पर टीम बालू के अवैध धंधे की तह तक जाने के लिए बाराहाट प्रखंड के मिर्जापुर गांव की ओर बढ़ी. इस दौरान एक बालू लोड ट्रैक्टर उसी रास्ते से गुजर रहा था और उसे खनन विभाग की टीम की भनक लग गई. खनन विभाग की टीम को देखते ही चालक ट्रैक्टर को सड़क किनारे रोककर भागने लगा.

वहां पहले से खड़े कुछ बालू तस्करों ने खनन पदाधिकारी और सुरक्षा बलों को देखकर उनकी गाड़ी रोक कर उलझ गए. इसी दौरान बड़ी संख्या में अन्य बालू के धंधेबाज भी वहां पहुंच गए और उन्होंने खनन विभाग के अधिकारी एवं सुरक्षाकर्मियों पर हमला कर दिया. पहले तो उन्होंने उनके साथ दुर्व्यवहार किया, फिर उनके साथ मारपीट शुरू कर दी.

स्थानीय सूत्रों के मुताबिक जब खनन अधिकारी एवं सुरक्षा बलों ने वहां से निकलने की कोशिश की तो बालू माफिया ने उन्हें दौड़ा-दौड़ा कर पीटना शुरू कर दिया. इस हमले में एक होमगार्ड के जवान की भी जख्मी होने की खबर है. इस दौरान बालू माफियाओं द्वारा खनन अधिकारी के वाहन को भी लाठी डंडे से प्रहार कर क्षतिग्रस्त कर दिया गया. किसी तरह अपनी जान बचाकर खनन विभाग के पदाधिकारी और सुरक्षाकर्मी वहां से भागे.

जिला खनन पदाधिकारी संजय कुमार ने बताया है कि मिर्जापुर में बालू माफिया ने माइनिंग इंस्पेक्टर अवधेश कुमार एवं उनके साथ गए सुरक्षा बलों पर हमला कया है. बुधवार की शाम बाराहाट थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है. प्रभारी एसपी संजय कुमार ने बताया कि इस मामले में जांच के लिए एसडीपीओ दिनेश चंद्र श्रीवास्तव को भेजा गया है. दोषी पाए जाने वालों पर कार्रवाई होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *