उत्तर प्रदेश राज्य

फ़िरोज़ाबाद में डेंगू और वायरल फ़ीवर से स्थिति दिन-ब-दिन ख़राब होती जा रही है, ज़िले में अब तक 152 मरीज़ों की मौत हो चुकी है : रिपोर्ट

फिरोजाबाद में डेंगू और वायरल फीवर से स्थिति दिन-ब-दिन खराब होती जा रही है। जिले में अब तक 152 मरीजों की मौत हो चुकी है। सोमवार को 12 मरीजों ने दम तोड़ दिया। शहर के भीमनगर निवासी विकास अपने सात माह के पुत्र निखिल कुमार को बुखार आने पर सौ शैय्या अस्पताल लेकर पहुंचे। यहां जांच के बाद चिकित्सक ने निखिल को मृत घोषित कर दिया। मालवीय नगर निवासी आकाश (11 वर्ष) पुत्र पप्पू और सुकन्या (दो माह) पुत्री रामबिहारी निवासी आजाद नगर की भी सौ शैय्या अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई।

हिमांयूपुर की आराध्या (05 वर्ष) को गंभीर हालत में परिजन सौ शैय्या अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। गढ़ी तिवारी निवासी अंशू (01 वर्ष) पुत्र जयप्रकाश और सरस्वती नगर निवासी वैष्णवी (11 वर्ष) पुत्री नेत्रपाल ने सोमवार को उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। वैष्णवी की मौत के बाद उसकी बहन निकिता निरीक्षण के लिए सौ शैय्या अस्पताल पहुंचे मंडलायुक्त अमित गुप्ता की गाड़ी के आगे लेट गई। इस दौरान काफी देर तक हंगामा होता रहा।

फिरोजाबाद के ठारफूटा निवासी अनामिका (20 वर्ष) पुत्री चंद्रभान सिंह, यमुना नगर निवासी सुरभि (07 वर्ष) पुत्री लोकेश, मालवीय नगर निवासी आकाश (12 वर्ष) पुत्र पप्पू, नगला करन सिंह निवासी उमाभारती (11 वर्ष) पुत्री सुरेंद्र कुमार, सुहाग नगर निवासी दिव्यांशी (13 वर्ष) पुत्री प्रयाग सिंह, दिकतौली निवासी अंजू(20 वर्ष) पत्नी मैसिक की मौत निजी अस्पताल में उपचार के दौरान हो गई। सभी को चार दिन से बुखार आ रहा था। प्लेटलेट्स 30 हजार से नीचे पहुंच गया था।

मथुरा में दो बच्चों की मौत
मथुरा के गोवर्धन ब्लॉक के गांव जचौंदा निवासी निशांत (3 माह) पुत्र देवी सिंह और नैनू पट्टी ग्राम पंचायत के मजरा हरजू निवासी माधुरी (5 वर्ष) पुत्री एलम सिंह की मौत हो गई। कासगंज जिले के पटियाली के गनेशपुर निवासी नसीमा परवीन (18) पुत्री आफताब की जयपुर में इलाज के दौरान मौत हो गई। उसकी जांच में उसकी डेंगू की एनएस-1 रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *