देश

PM मोदी और पाकिस्तान के PM इमरान ख़ान का UN में दिया गया पूरा भाषण : जिसकी बीबी नही होती, उसकी विदेशों तक इज़्जत ख़राब होती है!

 

भारत के प्रधानमंत्री ने संयुक्त राष्ट्र महासम्मेलन में विश्व को सम्बोधित किया जहाँ उन्होंने एक बार फिर बताया कि वो अपने पिता के साथ चाय बेचते थे और एक चाय बेचने वाला चौथी बार संयुक्त राष्ट्र महासभा को सम्बोधित कर रहा है ये भारत के लोकतंत्र की ताक़त की वजह से संभव हुआ है, प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण में न तो पाकिस्तान का नाम ही चीन का, प्रधानमंत्री ने पाकिस्तान और चीन का नाम न लेकर ही अपनी बात कही अगर वो इन देशों का नाम लेकर कोई बात करते तो उन्हें उसका जवाब देने का मौका दिया जाता जोकि संयुक्त राष्ट्र महासभा का नियम है

प्रधानमंत्री से जो उमीदें थीं उनका ये भाषण उस कसौटी पर खरा नहीं उतरता, प्रधानमंत्री संयुक्त राष्ट महासभा के मंच पर अपनी सरकार की उपलब्धियां बयान करते नज़र आये, इतने बड़े मंच पर भारत की योजनाओं के प्रचार का करके केवल ख़ानापूर्ति करने के लिए इस्तेमाल किया गया, पूरा भाषण एक चुनावी सभा के भाषण जैसा था

आतंकवाद जैसे मुद्दे पर जितना दमदार तरीके से बात को रखना चाहिए था, वो कहाँ नहीं था, प्रधानमंत्री मोदी ने तालिबान को लेकर कोई बात नहीं की

 

परवेज़ आलम
@parvez1982di

काश आज अमेरिका के दौरे पर जो प्रधानमंत्री हैं वही विचार से परिपूर्ण प्रधानमंत्री जी भारत में आने के बाद भी होते तो वाकई @SureshChavhanke
जैसों का धर्मों को धर्मों से लड़वाना बन्द हो जाएगा और चुनाव में केवल मुद्दा भारत की जनता का विकास होगा जिस से देश का विकास होगा और विश्व का भी

MSK Lucknow
@LucknowMsk

सबसे खराब बात हुई, अमेरिकन मीडिया ने मोदीजी के खूबसूरत मेकअप को जरा भी महत्व नहीं दिया। बहुत कम इंडियन अमेरिकन भी स्वागत में आये।

जगदीश मूलनिवासी
@meghnad141120

यजुर्वेद वेद में लिखा है कि धरती एकदम चपटी है!
अगर आप भागवत पुराण अध्याय 5 श्लोक नबंर 1/33 पढते हैं उसमें लिखा है कि धरती पर सात समुद्र पाए जाते हैं जो निम्न हैं : खारा जल का समुद्र , ईख का रस , शराब का समुद्र , घी का समुद्र , दूध का समुद्र, मट्ठा का समुद्र और मीठे जल का समुद्र

Srishti
@patrkar_srishti

मुझे लगता है आज तक वाले अमेरिका से सबसे ज्यादा बेइज्जत होने का रिकॉर्ड बना कर ही लौटेंगे

Rohan Gupta
@rohanrgupta
साहब के नमस्ते ट्रम्प की ग़लती का ख़ामियाज़ा आज देश को भुगतना पड रहा है

santosh gupta
@BhootSantosh

भांड/नचनिए/दल्ले/चमचे… जोकर कहना गोदी मीडिया को सम्मान देने जैसा है

punya prasun bajpai
@ppbajpai

जोकर में तब्दिल होता मीडिया….

pramila
@pramila2710

दूसरे शब्दों में मोदी ने पाकिस्तान के साथ साथ UN और अमेरिका को भी चेतावनी दे दी है, कि पाकिस्तान को समझा दें कि वो अफगानिस्तान-तालिबान की आड़ में भारत मे आतंकवाद फैलाने की कोशिश भूल कर भी न करे, वरना फिर ये मत बोलना कि मोदी ने पहले कहा नहीं!
@narendramodi
#PMModiAtUNGA

Kuldeep
@Kuldeep18667171

जिसकी बीबी नही होती, उसकी विदेशों तक इज़्जत ख़राब होती है।

Archana Singh
@BPPDELNP

ये वही भारतीय मूल की नारी व बेटी है जिसे हराने के लिए #मोदीजी ने #नमस्ते_ट्रंप का कार्यक्रम किया था !

इसी कमला हैरिस की पार्टी को हराने की केम्पेन चला रहे थे ?

नमस्ते ट्रम्प

मनुष्य नही बलवान है , समय बड़ा बलवान है !
भीलन लूटी गोपिका , वही अर्जुन वही बाण है !!

Wg Cdr Anuma Acharya (Retd)
@AnumaVidisha

प्रश्न – ‘दरवाज़ा दिखा देना’ का वाक्य में प्रयोग करें –

उत्तर – भारत की प्रथम सचिव ने भारत की प्रथम चाटुकार पत्रकार को दरवाज़ा दिखाया.

Upendra singh baghel
@USBUMR

दरवाजे दिखा कर बाहर निकलने पर 15 मिनट तक अंजना हाँफ रही थी

बस धक्के नही मारे गए आज
2 दिन ओर रुक गई अंजना तो अमेरिकी धक्के मार के हटा देंगे

Archana Singh
@BPPDELNP

अमेरिकायात्रा से लौटने पर पत्रकार ने मोदी से पूछा किइस यात्रा से क्या हासिल हुआ?

मोदी :भाइयों उपराष्ट्रपति कमला हेरिस से लोकतंत्र की रक्षा कापाठ हासिल हुआ!
और
राष्ट्रपति बाइडेन से #mask पहनने का पाठ हासिलहुआ?
70साल मे पहलीबार है किसीभारतीय प्रधानमंत्री को लोकतंत्र पे नसीहतदीहै?

Anil Kumar Singh
@AnilKum04619533
स्वतंत्र भारत के इतिहास में फेंकू ऐसे इंसान हैं जो पीएम पद तो छल कपट झूठ फरेब नफ़रत नौटंकी और अडानी अंबानी गठजोड़ से जनता को दिग्भ्रमित कर हासिल कर लिया मगर मानसिक रूप से देश के पीएम नहीं बन सके ना ही देश के हो सके हैं।वो आज भी बीजेपी के और चड्डी गैंग के और अडानी के बन कर रह गए।

डिस्क्लेमर : twitts में व्यक्त किए गए विचार, जानकारियां लेखक के निजी विचार हैं. लेख सोशल मीडिया फेसबुक/व्हाट्सप्प पर वायरल है, इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति तीसरी जंग हिंदी उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार तीसरी जंग हिंदी के नहीं हैं, तथा तीसरी जंग हिंदी उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *