बिहार राज्य

ऐतिहासिक कंकाली मंदिर के मुख्य पुजारी की गोली मारकर हत्या : रिपोर्ट

दरभंगा :– दुर्गापूजा के महानवमी की अगले सुबह दरभंगा में अपराधियों ने एक पुजारी की गोली मारकर हत्या कर दी. कार में सवार होकर हथियारों से लैस 4 अपराधियों ने इस बड़ी वारदात को अंजाम दिया. गोली लगने से मुख्य पुजारी राजीव कुमार झा उर्फ अनटू झा की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दूसरे पुजारी शंभु झा का इलाज एक निजी अस्पताल में चल रहा है। उनकी भी हालत गंभीर बनी हुई है।

घटना दरभंगा जिले के विवि थाना क्षेत्र के रामबाग की है. रामबाग दरभंगा स्थित ऐतिहासिक कंकाली मंदिर के मुख्य पुजारी की हत्या से इलाके में हड़कंप मच गया है. लोगों ने घटना को अंजाम देने के बाद भाग रहे तीन अपराधियों को पकड़ लिया और उनकी जमकर पिटाई कर दी. लोगों की पिटाई से एक अपराधी ने मौके पर ही दम तोड़ दिया. बताया जाता है कि दरभंगा के ही दिल्ली मोड़ स्थित निवासी‌ ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के एक कर्मी के पुत्र पुलकित सिंह को स्थानीय लोगों ने पकड़कर पीट-पीटकर हत्या कर दी.


दरभंगा के वरीय पुलिस अधीक्षक बाबूराम भी घटनास्थल पर पहुंचे। काफी मशक्कत बाद आक्रोशित लोग शांत हुए इसके बाद मुख्य पुजारी के स्वजन से एसएसपी बाबूराम ने स्वयं बात की। उन्होंने कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने का आश्वासन दिया।

एसएसपी बाबूराम ने बताया कि बदमाशों की गोली से मंदिर के मुख्य पुजारी की मौत हो गई। जबकि, एक भक्त जख्मी हो गए। पकड़े गए तीन बदमाशों में एक की मौत हो चुकी है। दो की स्थिति नाजुक है। एक फरार बदमाश को पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है ।

मिली जानकारी के अनुसार, सुबह-सुबह कंकाली मंदिर के मुख्य पुजारी राजीव झा की 4 अपराधियों ने गोली मार दी. गोली लगने से मौके पर ही पुजारी की मौत हो गई. इस घटना में एक अन्य पुजारी गोली लगने से घायल हो गया. बताया जा रहा है कि कार से आए चार अपराधियों ने वारदात को अंजाम दिया है. लोगों ने एक अपराधी को पीट-पीटकर मार डाला. मौके पर पुलिस पहुंच गई. पुलिस ने अपराधियों को लोगों के चंगुल से छुड़ाया. पिटाई में जिस अपराधी की मौत हुई उसके शव को पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. वहीं एक और अपराधी की स्थिति गंभीर बताई जा रही है. घायल को गंभीर स्थिति में डीएमसीएच भर्ती करा दिया गया है.

जब्त कार की पड़ताल की जा रही है। घटना के संदर्भ में बताया जाता है कि कंकाली मंदिर के मुख्य पुजारी राजीव कुमार झा उर्फ अंटू के भतीजा से दो दिन पूर्व कुछ बदमाशों ने मोबाइल छीन लिया था। इसे लेकर विवाद चल रहा था। इसी बीच बुधवार की शाम मोबाइल छीनने वाले बदमाश पर नजर पड़ी और पुजारी के भतीजा झुन्नु ने उसे दबोच लिया। दोनों तरफ से मारपीट हुई। इसके बाद सभी बदमाश फरार हो गए। इसके बाद मंदिर परिसर में सभी लोग नवरात्रा की पूजा में लीन हो गए। रात्रि के एक बजे के बाद मुख्य पुजारी सहित कई भक्त मंदिर परिसर में सो गए।


उग्र भीड़ का शिकार हुआ मृतक पुलकित सिंह (मौके पर से यही गाड़ी बरामद)
इसी बीच गुरूवार की अहले सुबह में कार से सवार होकर चार बदमाश मंदिर के सामने स्थित गली में पहुंचा। जहां से हथियार लेकर सभी बदमाशों को जाते हुए स्थानीय लोगों ने देख लिया। जब तक लोग जुटते उससे पहले बदमाशों ने मंदिर परिसर में घुसकर पुजारी की हत्या कर दी। इस बीच मंदिर परिसर में रह रहे भक्त व चुनाभट्टी निवासी चिरंजीवी झा उर्फ संभू को बदमाशों ने गोली मार दी। इसके बाद स्थानीय लोगों ने सभी बदमाशों को चारों तरफ से घेर लिया। मौके पर ही एक बदमाश पुलकित सिंह को स्थानीय लोगों ने पकड़कर पीट-पीटकर हत्या कर दी। जबकि दो बदमाशों को कार सहित लोगों ने दबोच लिया। जहां लाठी डंडे से कार को चूर चूर कर दिया गया । इसमें दो बदमाशों को नाजुक स्थिति में डीएमसीएच में भर्ती कराया गया है।

सूचना मिलते ही टाउन एसडीपीओ श्री कृष्ण नंदन कुमार, विवि थाना अध्यक्ष सत्य प्रकाश झा और अन्य कई थानों की पुलिस ने घटना स्थल का जायजा लेकर अनुसंधान शुरू कर दिया है। मौके से तीन खोखा भी बरामद हुआ है। इलाके में दहशत का माहौल है। पूरा परिसर पुलिस छावनी में तब्दील हो चुका है।

– राजू सिंह की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *