देश

वरुण गांधी ने कृषि क़ानूनों का विरोध कर रहे क़िसानों का एक बार फिर समर्थन किया, सरकार क़िसानों के आंदोलन का दमन कर रही है!

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पीलीभीत से सांसद वरुण गांधी ने कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों का एक बार फिर समर्थन किया है। गुरुवार को उन्होंने किसानों के समर्थन में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का एक वीडियो अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किया। इसके साथ ही उन्होंने इशारों-इशारों में बता दिया है कि सरकार किसानों के आंदोलन का दमन कर रही है और ऐसे में वे अपने फर्ज को ध्यान में रखते हुए किसानों के साथ खड़े हैं।

गुरुवार को पोस्ट 41 सेकेंड के वीडियो के साथ उन्होंने कैप्शन लिखा, एक बड़े दिल के नेता द्वारा कही गई बुद्धिमानी की बात। वीडियो तब का है जब अटल बिहारी वाजपेयी विपक्ष में थे।

वीडियो में अटल बिहारी वाजपेयी किसी जनसभा में सरकार को चेतावनी देते हुए कहते हैं, ”मैं इन किसानों को डराने वाली सरकार को चेतावनी देना चाहता हूं। हमें डराने की कोशिश ना करो। ये किसान डरने वाले नहीं हैं। हम किसानों के आंदोलन का उपयोग राजनीति के लिए नहीं करना चाहते हैं। हम उनकी जायज मांगों का समर्थन करते हैं। और अगर सरकार हमें डराने की कोशिश करती है, कानून का दुरुपयोग करती है या किसानों के शांतिपूर्ण आंदोलन की उपेक्षा करती है तो हम भी उनके समर्थन में उनके आंदोलन में शामिल हो जाएंगे।”

वरुण और भाजपा में जारी है रस्साकशी
वरुण गांधी और भाजपा में इशारों-इशारों में रस्साकशी चल रही है। वरुण गांधी लगातार किसानों के हक में आवाज बुलंद करते रहे हैं। चाहे गन्ना के समर्थन मूल्य को बढ़ाने की बात हो या किसानों के आंदोलन को आगे बढ़ाने की, वे आगे बढ़कर लगातार किसानों का समर्थन कर रहे हैं। लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के बाद भी उन्होंने ट्विटर पर वीडियो शेयर करते हुए लिखा था कि हिंसा के इन आरोपियों को तत्काल सजा मिलनी चाहिए।

बदल सकते हैं परिणाम
माना जा रहा है कि भाजपा पार्टी लाइन के खिलाफ जाकर बयानबाजी करने के कारण उन्हें भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी कमेटी से भी हटा दिया गया। चर्चा तो इस बात तक की भी हो चुकी है कि वरुण गांधी और मेनका भाजपा छोड़ सकते हैं। हालांकि, भाजपा और वरुण गांधी दोनों ने ही इस बात को बेबुनियाद अफवाह बताते हुए खारिज कर दिया है, लेकिन जानकारों का मानना है कि वरुण गांधी, मेनका गांधी और भाजपा के बीच सब कुछ ठीक-ठाक नहीं है और आने वाले दिनों में इसका कुछ अलग परिणाम दिखाई पड सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *