देश

रिज़वी थे या त्यागी…गन्दा था, अपनों में जा पहुंचा…वक़्फबोर्ड, इमामबाड़े की ज़मीन बेच खाई, सीबीआई का फंदा गले में अटका है : रिपोर्ट

 

शिया वक्फ़ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी ने सोमवार को गाजियाबाद के डासना देवी मंदिर में सनातन धर्म स्वीकार कर लिया। मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद गिरि महाराज ने विधिवत रूप से पूजा कर उन्हें सनातन धर्म में शामिल कराया। वसीम रिजवी अब जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी हो गए हैं। मंदिर में उन्होंने मां काली की मूर्ति की पूजा की और यज्ञ कर शुद्धिकरण किया।

उन्होंने कहा कि जब मुझे इस्लाम से निकाल दिया गया, तो यह मेरी मर्जी है कि मैं किस धर्म को स्वीकार करूं। सनातन धर्म दुनिया का सबसे पहला धर्म है और उसमें इतनी अच्छाइयां हैं, इंसानियत है कि हम समझते हैं कि इतनी किसी और धर्म में नहीं हैं।

कोई धर्म नहीं है इस्लाम
उन्होंने कहा कि इस्लाम को हम धर्म समझते ही नहीं हैं। उन्होंने कहा कि जब हमें इस्लाम से निकाल दिया गया तो हर जुम्मे के बाद हमारा सर काटने के लिए कहा जाता है।

वसीम की किताब और कुरान की आयतें हटाने पर हुआ था विवाद
वसीम रिजवी ने गाजियाबाद के डासना के महाकाली मंदिर में दर्शन करने के बाद महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती से ही अपनी विवादित किताब का विमोचन कराया था। वसीम रिजवी कुरान की आयतें हटाने की याचिका से भी विवादों में रहे थे। उन्होंने कुरान की 26 आयतों को हटाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी।

सुप्रीम कोर्ट ने लगाया था 50 हजार का जुर्माना
उनका तर्क था कि कुरान की 26 आयतें आतंकवाद को बढ़ावा देने वाली हैं। मामला काफी दिनों तक चर्चा में रहा था। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले को खारिज कर दिया था। शीर्ष कोर्ट ने रिजवी पर 50 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया था। इसके अलावा भी कई मर्तबा रिजवी अपने विवादित बयानों से चर्चा में रहे हैं।

ये रिज़वी थे या त्यागी इससे फ़र्क़ नही पड़ता, ये चोर थे, है और रहेंगे..

मज़हब ए इस्लाम दरअसल बड़ी चीज़ है, और मज़हब की जड़ ईमान है जो इनके अंदर बचा नही, वक़्फबोर्ड और इमामबाड़े तक की ज़मीन बेच खाई, सीबीआई का फंदा गले में अटका है, धर्म के सहारे फंदा ढीला करने की कोशिश है, मौजूदा वक्त में क़ामयाब भी हो जायेंगे।
कोई कितना भी चोर बेईमान हो धर्म का चोला पहन कर पाक साफ हो जाता है। अब इन्ही को देख लीजिए नए नए त्यागी बनकर पूज्यनीय हो गए, चारों तरफ़ जय जय कार है। ये रिज़वी थे या त्यागी इससे फ़र्क़ नही पड़ता हमारे लिए ये चोर थे, है और रहेंगे…

santosh gupta
@BhootSantosh
वसीम रिज़वी भलीभांति जानते हैं कि भाजपा किसी मुसलमान को टिकट नहीं देगी.! कोई टिकट के लिए पार्टी बदलता है, तो कोई बाप… रिज़वी ने अपना धर्म ही बदल डाला.!!

MSK Lucknow
@LucknowMsk
Replying to
@BhootSantosh
शिया वक्फ बोर्ड में किये सैकड़ों करोड़ के घोटालों से, जेल से बचने के लिए किया है।

Hina Altaf Khan
@HinaAltaf78
क़ुरान को बदलने चला था !

खुदा पाक ने उसको ही बदल दिया !

Nadeem
@nadeemNBT
शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष रहे वसीम रिजवी ने धर्म परिवर्तन किया। त्यागी बिरादरी से जुड़ेंगे।


वैरागी बाँवरा
@bavra_vairagi
वसीम रिजवी इस्लाम धर्म छोड़कर आज से हिन्दू बन गए हैं. आज गाजियाबाद में यति नरसिंहानंदसरस्वती ने सनातन धर्म में उनकी वापसी करवाई. कहा कि मुझे इस्लाम से बाहर कर दिया गया है
इस्लाम धर्म छोङा नहीं इसे निष्काशित किया गया जो जन्म के धर्म का नही वो हिन्दु का क्या होगा ?

आचार्य SahiL
@AachaaryaSahiL
ओ सब तो ठीक है,
लेकिन
@BhootSantosh
भाई पूछ रहे है कि, खतने का क्या करना है… वेल्डिंग…????

Rakesh Singh
@RajeshS50119232

सुना है वसिम रिजीवी ने हिंदू धर्म अपनाया। नया नाम रखा है हरविद्रर सिंह त्यागी। अच्छा है। परंतु क्या संघी पाठशाला ये बतायेगा कि ये धर्म परिवर्तन के श्रेणी में आता है या नहीं? ये अगर गुनाह नहीं है तो गरीब के धर्म परिवर्तन पर हो हलला क्यों?

Aafrin
@Aafrin7866
वसीम रिज़वी इस्लाम में था ही कब?वो मुसलमान था ही कब? वो तो बहुत पहले से ही हिंदू है।
किसी को कोई शक था क्या? वसीम रिज़वी का हिंदू होने पर।

Swapnil Pawar
@swapnil165
#वसीम_रिज़वी is a citizen of the secular and free nation of India. The Constitution of India provides every person the freedom to follow any religion. This is a fundamental right of every person. So nobody should be having any issues with it.

Uttam
@27kurneUttam
·#वसीम_रिज़वी Same sick mindset which lynched burned sri lankan man in pakistan is asking for #ARREST_WASEEM_RIZVI .These bigots are no less than terrorists,have no shame at all

parmendar sharma
@samayvasudev87
How much nonsense can anyone keep talking about now.
The truth is that Hari Narayan ji has now become a follower of Sanatan Dharma.
As long as he is there, he is ours. What he was, we don’t care.
#वसीम_रिज़वी

Sheikh Zahirul Aslam
@AslamZahirul
Thank God,Smiling face with open mouth and smiling eyesSmiling face with open mouth and smiling eyes We are very sad that this Tyagi has entered in the Bhagwa terror group..This Bhagwa Terrorist is from Brahmin Samaj

Paramendra Mohan
@paramendramohan
Although I respect decision of #वसीम_रिज़वी to be converted into Hinduism but it would be better that he preferred to be Scheduled caste instead of Tyagi which is Bhumihar Brahmin. Being a SC Hindu could give him better political milege but he followed top social hierarchy!

kalim
@sayedkalim8
#वसीम_रिज़वी ye jo ghar wapsi likh kar khush ho rahe hai. Inko bata du ye tumare ghar mein hi tha. Musalman sirf naam rakhne se nahi ho jate. If you believe there is no God except Allah and Muhammed S.A.W is his last prophet then your Mussalman even if your name is Ramesh

डिस्क्लेमर : twitts में व्यक्त किए गए विचार, जानकारियां लेखक के निजी विचार हैं. लेख सोशल मीडिया फेसबुक/व्हाट्सप्प पर वायरल है, इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति तीसरी जंग हिंदी उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार तीसरी जंग हिंदी के नहीं हैं, तथा तीसरी जंग हिंदी उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *