देश

मंदिर में क्या नहीं होता था उस समय : मोहन भागवत

ANI_HindiNews
@AHindinews
मंदिर में क्या नहीं होता था उस समय। अध्यात्म तो होता ही था, उपासना भी होती थी। जिससे लोगों का जीवन सुचिता में बने और धीरे-धीरे वो सत्य की ओर बढ़े। वो सब मंदिरों में होता ही था: उत्तर प्रदेश के खतौली में शिव मंदिर स्थापना दिवस कार्यक्रम में RSS प्रमुख मोहन भागवत

ANI_HindiNews
@AHindinews
उस समय मंदिरों में तरह-तरह का रोज़गार भी मिलता था। मंदिरों में स्कूल चलते थे। मंदिर सारे समाज जीवन का श्रद्धा का केंद्र थे। इसलिए तो विदेशी आक्रमक हो गए केवल लूट-खसोट को छोड़कर…: मोहन भागवत, RSS

ANI_HindiNews
@AHindinews
जब हमको गुलाम करना चाहा तो मंदिरों का विध्वंस किया। केवल संपत्ति के लिए ही नहीं बल्कि मनोबल तोड़ने के लिए भी: मोहन भागवत, RSS