दुनिया

ईरान ने ब्रिटेन के उप राजदूत को जासूसी करते हुए रंगे हाथों दबोचा

ईरान की इस्लामी क्रांति फ़ोर्स आईआरजीसी की ख़ुफ़िया यूनिट ने ब्रिटिश दूतावास के दूसरे सबसे सीनियर राजनयिक समेत कई विदेशियों को जासूसी के आरोप में हिरासत में लिया है।

आईआरजीसी की ख़ुफ़िया यूनिट के मुताबिक़, हिरासत में लिए गए राजनयिक एक नो एंट्री वाले इलाक़े से नमूने इकट्ठे कर रहे थे, जहां कुछ समय पहले आईआरजीसी की वायु सेना ने सैन्य अभ्यास किया था।

बुधवार को आईआरजीसी द्वारा जारी की गई एक ड्रोन फ़ुटेज में संदिग्धों को नो एंट्री ज़ोन में घुसकर मिट्टी से नमूने जमा करते हुए देखा जा सकता है।

हिरासत में लिए गए राजनयिकों में से एक तेहरान में ब्रिटेन के उप राजदूत हैं, जो अपने परिवार के साथ किरमान के शहदाद रेगिस्तान घूमने गए थे, लेकिन जैसा कि फ़ुटेज में देखा जा सकता है, वह मिट्टी से कुछ नमूने इकट्ठा कर रहे हैं।

वीडियो में तेहरान स्थित ब्रिटिश दूतावास में उप राजदूत जाइल्स व्हिटेकर और उनके परिवार को देखा जा सकता है। व्हिटेकर को माफ़ी के बाद, किरमान शहर से निष्कासित कर दिया गया।

फ़ार्स न्यूज़ एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक़, व्हिटेकर राजनयिक बनने से पहले एक सैन्य अधिकारी थे।