सेहत

जानिये मंकीपॉक्स के ख़तरनाक़ लक्षण, क्या है मंकीपॉक्स?

कोरोना वायरस के आने के बाद वायरस का नाम सुनते ही पसीना छूटने लगता है. अब भारत में मंकीपॉक्स ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारत में मंकीपॉक्स का पहला संभावित मामला केरल मे देखने को मिल सकता है. क्योंकि, केरल की राज्य स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने बताया है कि एक व्यक्ति में मंकीपॉक्स जैसे लक्षण (Monkeypox Symptoms) दिख रहे हैं. आइए जानते हैं कि आखिर मंकीपॉक्स के खतरनाक लक्षण क्या हैं.

क्या है मंकीपॉक्स?
केरल की राज्य स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि मंकीपॉक्स का संदिग्ध मरीज तीन दिन पहले यूएई से लौटा है, जिसके सैंपल जांच के लिए पुणे भेज दिया गया है. आपको बता दें कि मंकीपॉक्स एक जूनोटिक डिजीज है, जो कि लगभग चिकनपॉक्स की तरह होती है. लेकिन यह चिकनपॉक्स नहीं होती है. अगर आप मंकीपॉक्स की पहचान करना चाहते हैं, तो मंकीपॉक्स के लक्षणों के बारे में जरूर जानकारी लें.


मंकीपॉक्स वायरस के खतरनाक लक्षण
सीडीसी के मुताबिक, मंकीपॉक्स वायरस के लक्षण चिकनपॉक्स की तरह ही होते हैं. लेकिन यह हल्के होते हैं. आइए मंकीपॉक्स के लक्षण जानते हैं. जैसे-


बुखार
सिरदर्द
लिंफ नोड्स में सूजन
मसल्स में दर्द और कमर दर्द
ठंड लगना
अत्यधिक थकान
चेहरे, मुंह के अंदर, हाथ-पैर, छाती, जननांग, मलद्वार आदि जगहों पर पिंपल या छाले की तरह दिखने वाला रैशेज, आदि]]


मंकीपॉक्स वायरस से बचने के टिप्स
सीडीसी ने मंकीपॉक्स से बचने के लिए लोगों को निम्नलिखित टिप्स अपनाने की सलाह दी है. जैसे-

जिस व्यक्ति पर मंकीपॉक्स जैसा रैशेज दिख रहा हो, उससे नजदीकी या स्किन टू स्किन कॉन्टैक्ट ना बनाएं.
जिस व्यक्ति में मंकीपॉक्स के लक्षण दिख रहे हों, उसकी चादर, तौलिया या कपड़ों जैसी पर्सनल चीजें ना छुएं.
अपने हाथों को साबुन व पानी से धोएं या एल्कोहॉल बेस्ड हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.
अगर आप के अंदर मंकीपॉक्स के लक्षण दिख रहे हैं, तो घर पर रहें.
अपने पालतू जानवरों से भी दूरी बनाकर रखें.
मंकीपॉक्स वायरस का सटीक इलाज तो नहीं है. लेकिन, क्योंकि यह चिकनपॉक्स की फैमिली से संबंध रखता है, तो मंकीपॉक्स का इलाज एंटीवायरल दवाओं से किया जाता है.

Disclaimer
इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी तीसरी जंग हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है.


ANI_HindiNews
@AHindinews

मंकीपॉक्स तेजी से उन देशों में फैल रहा है जिन्होंने इसे पहले नहीं देखा है। पुरुषों के साथ यौन संबंध रखने वाले पुरुषों में मामले केंद्रित हैं। हमारे उपाय संवेदनशील या भेदभाव से रहित होने चाहिए: डॉ पूनम खेत्रपाल सिंह, क्षेत्रीय निदेशक, WHO दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्र

ANI_HindiNews
@AHindinews

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने आज दक्षिण-पूर्वी एशिया क्षेत्र के देशों से मंकीपॉक्स के लिए निगरानी और सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों को मजबूत करने का आह्वान किया है, इस बीमारी को सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित किया गया है।

ANI_HindiNews
@AHindinews

दिल्ली में मंकीपॉक्स का पहला मामला सामने आया। इसकी पुष्टि स्वास्थ्य मंत्रालय ने की है। मरीज मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज में भर्ती है। उसको (31 वर्षीय व्यक्ति) बुखार और त्वचा पर घाव होने के बाद अस्पताल में भर्ती किया गया और उसकी कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है।

Brajesh Misra
@brajeshlive

दुनिया पर एक और बेहद खतरनाक वायरस का साया पड़ गया है। मंकीपॉक्स। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इंटरनेशनल हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर दी है। 75 देशों मे ये वायरस फैल चुका है। 16 हजार मामले अब तक मिल चुके है। इसका ट्रांसमिशन तेज है। भारत में भी इसके कई मामले मिल रहे हैं। सतर्क और तैयार रहिए

DEMO PICS