दुनिया

रूस और ईरान के साथ वर्षों से होने वाली वार्ताओं ने मुझे बूढ़ा कर दिया है : सीआईए प्रमुख

अमेरिका की गुप्तचर सेवा सीआईए के प्रमुख ने कहा है कि रूस और ईरान के साथ वर्षों से होने वाली वार्ताओं ने मुझे बूढ़ा कर दिया है।

प्राप्त समाचारों के अनुसार विलियम बंन्ज़ ने एलान किया है कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की ईरान में मुलाकात से मुझे याद आया कि ईरान और रूस से वर्षों से होने वाली वार्ता ने मेरे बालों को सफेद कर दिया है।

विलियम बंन्ज़ ने कहा कि जब मैं रूसी राष्ट्रपति और ईरान की इस्लामी क्रांति के नेता की तस्वीर देखता हूं तो मुझे याद आता है कि ईरानियों और रूसियों से वर्षों की वार्ता की वजह से मेरे अधिकांश बाल सफेद हो गये हैं। साथ ही सीआईए के प्रमुख ने दावा किया कि रूसी अधिकारी पड़ोसी देशों के जिन क्षेत्रों में उनका प्रभाव है वहां वे दोबारा बड़ी शक्ति के रूप में अपने नियंत्रण व अधिकार को दोबारा बहाल करना चाहते हैं और यह कार्य यूक्रेन पर कब्ज़ा किये बिना संभव नहीं है।

विलियम बंन्ज़ का यह दावा ऐसी स्थिति में सामने आ रहा है जब रूस ने एलान किया है कि यूक्रेन पर हमला करने से उसका उद्देश्य यूक्रेन का निरस्त्रीकरण और नाज़ीवाद का अंत व सफाया करना है।

ज्ञात रहे कि रूस ने 24 फरवरी से यूक्रेन में विशेष सैन्य ऑपरेशन आरंभ किया है और अब तक दोनों पक्षों को भारी जान माल का नुकसान हो चुका है।

जानकार हल्कों का कहना है कि ज़ाहिर में रूस और यूक्रेन के युद्ध मध्य हो रहा है परंतु वास्तव में यह युद्ध रूस और अमेरिका और नैटो के मध्य हो रहा है और यही वजह है कि अमेरिका और दूसरे पश्चिमी देश यूक्रेन को विभिन्न प्रकार के हथियारों से लैस कर रहे हैं और आये दिन उसके लिए हथियारों की खेप भेज रहे हैं और इस कार्य से उनका लक्ष्य रूस को कमज़ोर करना और उसकी कमर तोड़ देना है क्योंकि अमेरिका और नैटो रूस को अपनी वर्चस्वादी नीति के मार्ग की सबसे बड़ी रुकावट के रूप में देख रहे हैं।