दुनिया

पेलोसी की यात्रा के आने लगे नतीजे, ताइवान के आसमान पर उड़ रहे हैं चीनी युद्धक विमान : रिपोर्ट

अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी की ताइवान यात्रा के समाप्त हो जाने के बाद भी विवाद कम होता दिखाई नहीं दे रहा है। चीनी लड़ाकू विमानों ने एक बार फिर ताइवान के आसमान पर अपना क़ब्ज़ा बरक़रार रखा है।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, ताइवानी रक्षा मंत्रालय ने बताया कि चीन के 22 लड़ाकू विमानों ने अलग-अलग दिशाओं से ताइवान की सीमा में प्रवेश किया है। ताइवान ने चीनी लड़ाकू विमानों को रेडियो के ज़रिए चेतावनी दी और अपनी मिसाइल डिफेंस सिस्टम को भी एक्टिवेट कर दिया। जिसके बाद से चीनी लड़ाकू विमान ताइवान की हवाई सीमा से बाहर चले गए। गुरुवार दोपहर में ही चीन ने आज तक का सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास शुरू किया था, जिसमें ताइवान के ऊपर कई मिसाइलें दाग़ी। इनमें से कई मिसाइलें जापानी जल सीमा में भी जाकर गिरी हैं।

ताइवानी रक्षा मंत्रालय ने कहा कि गुरुवार को घुसपैठ करने वाले चीनी विमानों में 8 जे-11 लड़ाकू विमान, 12 सुखोई एसयू-30 लड़ाकू विमान और 2 जे-16 लड़ाकू विमान शामिल थे। मंत्रालय ने कहा कि ताइवानी सशस्त्र बल हमारी संप्रभुता को बनाए रखने और हमारे क्षेत्र की रक्षा करने के लिए संकल्पित हैं। हम अपने देश की रक्षा के लिए अथक सतर्कता के साथ खड़े हैं। हम तनाव में कोई वृद्धि नहीं चाहते हैं बल्कि स्वतंत्रता, लोकतंत्र और अपने आसपास के क्षेत्र की स्थिरता और सुरक्षा के लिए ख़ुद को समर्पित करते हैं। उल्लेखनीय है कि अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी के ताइवान से जाते ही बुधवार को 27 चीनी लड़ाकू विमानों ने ताइवान में प्रवेश किया था। चीनी विमानों में 6 जे-11 लड़ाकू विमान, 5 जे-16 लड़ाकू विमान और 16 सुखोई एसयू-30 लड़ाकू विमान थे। इन विमानों ने भी ताइवान में अलग-अलग दिशाओं से प्रवेश किया था। हालांकि, ताइवान की चेतावनी और सतर्कता को देखते हुए सभी चीनी विमान तत्काल वापस चले गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.