दुनिया

फ़िलिस्तीनी जांबाज़ों की जवाबी कार्यवाही में दर्ज़न भर आतंकी इस्राईली सैनिक गंभीर रूप से घायल व् हलाक़

अवैधिक अधिकृत फ़िलिस्तीन के बैतुल मुक़द्दस शहर में फ़िलिस्तीनी जियालों ने जवाबी कार्यवाही करते हुए दो अलग-अलग फ़ायरिंग घटनाओं में कम से कम 7 आतंकी इस्राईली सैनिकों को गंभीर रूप से घायल कर दिया है।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, दमनकारी अवैध ज़ायोनी शासन अपने नाजायज़ विस्तारवादी लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए नियमित रूप से विभिन्न रूपों में फ़िलिस्तीनी राष्ट्र के अधिकारों का उल्लंघन करता रहता है। फ़िलीस्तीनियों को निराधार आरोपों में गिरफ़्तार करना, उन्हें मारना और उनके घरों को ध्वस्त करना अवैध अधिकृत फ़िलिस्तीन में आतंकी इस्राईली सैनिकों की दैनिक दिनचर्या का हिस्सा है। इस बीच शहाब न्यूज़ ने सूचना दी है कि फ़िलिस्तीनी प्रतिरोध संगठनों से जुड़े जियालों ने इस्राईल के हर दिन बढ़ते अत्यायारों के ख़िलाफ़ जवाबी कार्यवाही करते हुए आतंकी ज़ायोनी सैनिकों पर गोलियां चला दी, जिसमें कम से कम सात आतंकी इस्राईली सैनिक घायल हो गए हैं। जिनमें तीन की स्थिति गंभीर बताई जा रही है।

आतंकी इस्राईल के ताज़ा हमले में शहीद होने वाली पांच वर्षीय मासूम फ़िलिस्तीनी बच्ची
ज़ायोनी सरकार के चैनल 7 ने पुलिस के हवाले से ख़बर दी है कि बैतुल मुक़द्दस के अल-बराक़ दीवार के पास गोलीबारी की एक साथ दो घटनाएं हुई हैं। रिपोर्ट के मुताबिक़, गोली चलाने वाला फ़िलीस्तीनी जियाले आतंकी इस्राईली सैनिकों पर फ़ायरिंग करने के बाद वहां से निकलने में कामयाब रहे। इन घटनाओं के बाद, ज़ायोनी दहशत में आ गए हैं और तेलअवीव ने सुरक्षाबलों को हाई अलर्ट जारी कर दिया है। क़तर के अल-जज़ीरा चैनल ने बताया कि शूटिंग की घटनाओं के बाद, ज़ायोनी पुलिस ने अल-बराक़ की दीवार की ओर लोगों की आवाजाही पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा दिया है क्योंकि उन्हें डर है कि उन पर फिर से फ़ायरिंग न हो जाए। अलमायादीन चैनल के अनुसार, आतंकी ज़ायोनी सेना के कम से कम चालीस वाहनों ने फायरिंग करने वाले फ़िलिस्तीनी युवकों को खोजने के लिए जेनिन शिविर पर हमला कर दिया है।